• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

भारत ने पाकिस्‍तान को लताड़ा, कहा सामान्‍य पड़ोसी की तरह बर्ताव करें

|

नई दिल्ली। भारत ने जम्‍मू कश्‍मीर पर आ रहे पाकिस्‍तान के बयानों के लेकर उसे लताड़ा है। विदेश मंत्रालय की ओर से हुई प्रेस कॉन्‍फ्रेंस में गुरुवार को पाक को दो टूक संदेश दे दिया गया है कि कश्‍मीर, भारत का आतंरिक मसला है। इसके साथ ही मंत्रालय की ओर से पाक के नेतृत्‍व की ओर से रोजाना दिए जा रहे बयानों की भी निंदा की गई है। सरकार का कहना है कि पाक की ओर से आने वाले बयान भारत में हिंसा को बढ़ावा देने वाले हैं। पांच अगस्‍त को जब से भारत सरकार ने जम्‍मू कश्‍मीर से आर्टिकल 370 हटाकर इसे मिले विशेष दर्जे को खत्‍म कर दिया है। भारत के इस फैसले के बाद से ही पाक बौखलाया हुआ है।

imran-modi.jpg

पाकिस्‍तान की तरफ से आ रहे आक्रामक बयान

विदेश मंत्रालय के प्रवक्‍ता रवीश कुमार ने हर हफ्ते होने वाली मीडिया ब्रीफिंग में कई अहम जान‍करियां दी। रवीश कुमार का इशारा हाल ही में पाकिस्‍तान के प्रधानमंत्री इमरान खान की ओर से दिए गए एक बयान की तरफ था। इमरान के अलावा उनकी कैबिनेट के कुछ मंत्रियों ने भारत के फैसले के बाद काफी आक्रामक बयान दिए हैं। रवीश कुमार ने कहा, 'पाकिस्‍तान की तरफ से कुछ गैर-जिम्‍मेदाराना बयान लगातार आ रहे हैं। पाकिस्‍तान के लिए समय आ गया है जब वह एक सामान्‍य पड़ोसी की तरह बर्ताव करे।' इमरान पिछले तीन हफ्तों से लगातार भारत के फैसले के बाद आक्रामक बयान देने का सिलसिला जारी रखे हुए हैं। सोमवार को भी इमरान ने कहा था कि वह यूनाइटेड नेशंस जनरल असेंबली (उंगा) समेत हर अंतरराष्‍ट्रीय मुद्दे पर कश्‍मीर का मुद्दा उठाएंगे। जनवरी 2016 में पाकिस्‍तान समर्थित आतंकियों ने पठानकोट स्थित इंडियन एयरफोर्स (आईएएफ) के बेस पर हमला किया था। उसके बाद से ही भारत और पाकिस्‍तान के बीच वार्ता बंद है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
India slams Pakistan asks it to ‘behave like a normal neighbour'.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X