• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

कोरोना आपदा के बीच भारत ने की किंम जोग उन की मदद, 10 लाख डॉलर की दवाइयां भेजीं

|

नई दिल्ली। भारत ने विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्‍लूएचओ) की तरफ से रिक्‍वेस्‍ट होने के बाद अब नॉर्थ कोरिया की मदद का जिम्‍मा उठाया है। विदेश मंत्रालय की तरफ से बताया गया है कि भारत, नॉर्थ कोरिया को 10 लाख डॉलर की मदद करने जा रहा है। इस मदद में भारत की तरफ से नॉर्थ कोरिया को मेडिकल उपकरण और दवाईयां भेजी जाएंगी। विदेश मंत्रालय के मुताबिक भारत सरकार, नॉर्थ कोरिया से आ रही खबरों को लेकर सजग और संवेदनशील है। इसलिए टीबी के इलाज के लिए मदद का फैसला किया गया है।

kim-jong-150

पीएम मोदी ने कब-कब जवानों के बीच पहुंचकर सबको चौंकाया ?

यह भी पढ़ें-रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने चीन पर की इजरायल से बात

किम जोंग उन को दिया गया मैसेज

विदेश मंत्रालय के मुताबिक नॉर्थ कोरिया को यह मदद डब्‍लूएचओ के टीबी प्रोग्राम के तहत दी जा रही है। इन दवाओं की पहली खेप, नॉर्थ कोरिया में भारत के राजदूत अतुल मल्‍हारी गोतसर्वे ने देश के ऑफिसर्स को सौंपी है। जिस समय मदद सौंपी गई, उस समय डब्‍लूएचओ के अधिकारी मौजूद थे। राजदूत अतुल मल्‍हारी ने कुछ ही दिन पहले तानाशाह किम जोंग उन को बधाई संदेश दिया था। यह संदेश इस समय काफी सुर्खियों में है। भारतीय राजदूत के संदेश को न केवल नॉर्थ कोरिया के सरकारी अखबार में जगह मिली बल्कि टीवी पर भी उसका प्रसारण किया गया। नॉर्थ कोरिया मामलों के जानकार कहते हैं कि बाकी दुनिया से कटे इस देश में ऐसा बहुत कम होता है कि किसी विदेशी राजनयिक के संदेश को इतनी तवज्‍जो दी जाती हो। नॉर्थ कोरिया के सरकारी टीवी चैनल नेशनल टेलीविजन ऑफ नॉर्थ कोरिया पर प्राइम टाइम में न केवल भारत का जिक्र हुआ बल्कि भारतीय राजदूत के संदेश को पढ़ा गया।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
India sends 1 million dollar medical aid to North Korea.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X