• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

ओमिक्रॉन केसों के बीच आई भारत की पहली mRNA आधारित वैक्सीन, जल्द मिलेगी मंजूरी

|
Google Oneindia News

नई दिल्ली, 17 जनवरी: देश के पहले मैसेंजर एमआरएनए वैक्सीन के फरवरी में मनुष्यों पर परीक्षण शुरू होने की उम्मीद है। पुणे स्थित जेनोवा बायोफार्मास्युटिकल्स ने एमआरएनए वैक्सीन के चरण 2 के आंकड़े जमा कर दिए हैं और चरण 3 डेटा की भर्ती भी पूरी कर ली है। आधिकारिक सूत्रों ने कहा कि ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया (डीसीजीआई) की विषय विशेषज्ञ समिति (एसईसी) जल्द ही आंकड़ों की समीक्षा कर सकती है।

Indias first homegrown mRNA vaccine to be tested amid Omicron spike

आधिकारिक सूत्रों ने कहा कि जेनोवा बायोफार्मास्युटिकल्स ने ओमिक्रॉन वैरिएंट के लिए एमआरएनए वैक्सीन भी विकसित की है, जिसका परीक्षण जल्द ही मनुष्यों पर प्रभावकारिता और इम्यूनोजेनेसिटी के लिए किया जाएगा। इससे पहले सितंबर 2021 के महीने में, जेनोवा ने एक प्रेस बयान जारी किया और टीकों के परीक्षणों के बारे में अपडेट दिया। कंपनी ने बताया कि, भारत के ड्रग कंट्रोलर जनरल ने, भारत के पहले एमआरएनए- आधारित कोविड-19 वैक्सीन, HGCO19 के लिए चरण II और चरण III अध्ययन प्रोटोकॉल को मंजूरी दी थी।

जेनोवा ने केंद्रीय औषधि मानक नियंत्रण संगठन (सीडीएससीओ), भारत सरकार के राष्ट्रीय नियामक प्राधिकरण (एनआरए) को चरण एक के अध्ययन के अंतरिम नैदानिक ​​डेटा को प्रस्तुत किया था। वैक्सीन विषय विशेषज्ञ समिति (एसईसी) ने अंतरिम चरण एक डेटा की समीक्षा की थी। एसईसी ने पाया कि अध्ययन के प्रतिभागियों में HGCO19 सुरक्षित, सहनीय और इम्युनोजेनिक था।

दिल्ली को मिली पहली इलेक्ट्रिक बस, सीएम केजरीवाल बोले- ये एक नए युग की शुरुआतदिल्ली को मिली पहली इलेक्ट्रिक बस, सीएम केजरीवाल बोले- ये एक नए युग की शुरुआत

कंपनी ने परीक्षण स्थलों की संख्या का भी उल्लेख किया, कंपनी ने कहा कि, भारत में दूसरे चरण के क्लिनिकल ट्रायल में लगभग 10-15 साइटों और तीसरे चरण में क्लिनिकल ट्राइल 22-27 साइटों पर किया जा रहा है। जेनोवा इस अध्ययन के लिए डीबीटी-आईसीएमआर नैदानिक परीक्षण नेटवर्क साइटों का उपयोग कर रही है। एमआरएनए टीके न्यूक्लिक एसिड टीकों की श्रेणी से संबंधित हैं, जो शरीर के भीतर इसके खिलाफ प्रतिरक्षा प्रतिक्रिया को ट्रिगर करने के लिए रोग पैदा करने वाले वायरस या रोगज़नक़ से आनुवंशिक सामग्री का उपयोग करते हैं।

Comments
English summary
India's first homegrown mRNA vaccine to be tested amid Omicron spike
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X