• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

भारत और EU के 3 देशों का अदन की खाड़ी में पूरा हुआ नौसैनिक अभ्यास, जानिए क्या था मकसद

|
Google Oneindia News

नई दिल्ली, जून 21: भारत और यूरोपीय संघ (ईयू) के तीन देशों ने अदन की खाड़ी में एक संयुक्त नौसैनिक अभ्यास किया। यह दो दिवसीय नौसैनिक अभ्यास 18 जून -19 जून को किया गया। इस अभ्यास में भारतीय नौसेना का जहाज आईएनएस त्रिकंद, यूरोपीय संघ नौसेना बल सोमालिया (ईयूएनएवीएफओआर), जिसमें अन्य युद्धपोत इटालियन नौसेना के जहाज कारबिनियर, स्पेनिश जहाज नवरा शामिल थे।

joint naval exercise

एक संयुक्त बयान में बताया गया कि इस युद्ध अभ्यान का मकसद प्रमुख जलमार्गों में परिचालन संबंधी अंतर-क्षमता में सुधार और शांति, सुरक्षा और स्थिरता को बढ़ावा देना है, जिसमें भारत सहित 4 देशों की नौसेनाओं के पांच युद्धपोत इस संयुक्त नौसैनिक अभ्यास में भाग लिया।

भारत-यूरोपीय संघ अभ्यास पर संयुक्त बयान में कहा गया कि अभ्यास एक एंटी-पायरेसी ऑपरेशन के परिदृश्य पर आधारित था। इसमें क्रॉस-डेक हेलीकॉप्टर लैंडिंग, समुद्र में जटिल सामरिक विकास, लाइव फायरिंग, रात के समय संयुक्त गश्त और सोमालिया के तट से दूर समुद्र में एक नौसैनिक परेड शामिल थी।

VIDEO: टाइटेनिक की तरह डूबा ईरान का सबसे बड़ा नेवी जहाज 'खर्ग', 400 क्रू मेंबर थे सवारVIDEO: टाइटेनिक की तरह डूबा ईरान का सबसे बड़ा नेवी जहाज 'खर्ग', 400 क्रू मेंबर थे सवार

बता दें कि EU NAVFOR सोमालिया के तट पर यूरोपीय संघ का समुद्री डकैती रोधी मिशन है, जिसके तहत भारतीय नेवी ने अभ्यास में अपने युद्धपोत आईएनएस त्रिकंद को तैनात किया है। वहीं इटली, स्पेन व फ्रांस के युद्धपोत भी अभ्यास में शामिल हुए।

English summary
India & European Union conducted joint naval exercise in Gulf of Aden On June 18-June 19
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X