• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

लद्दाख: विजय दिवस के दिन चीन ने रखा बातचीत का प्रस्ताव, भारत ने किया इनकार

|
Google Oneindia News

नई दिल्ली, 22 जुलाई: लद्दाख में एलएसी पर पिछले साल मई में शुरू हुआ विवाद अभी तक जारी है। इस दौरान कई बार भारत और चीन की सेना की बीच झड़प भी हुई। हालांकि लगातार बातचीत के जरिए इस मुद्दे को हल किए जाने की कोशिश की जा रही है। हाल ही में चीन ने 12वें दौर की सैन्य वार्ता का प्रस्ताव रखा था। साथ ही उसके लिए 26 जुलाई की तारीख तय की, लेकिन भारतीय सेना ने उस दिन बात करने के लिए हामी नहीं भरी। ऐसे में अब नई तारीख पर विचार किया जा रहा है।

India

सूत्रों के मुताबिक चीन 26 जुलाई को 12वें दौर की वार्ता करना चाहता है, लेकिन उस दिन कारगिल विजय दिवस है। ऐसे में भारतीय सेना ने 26 तारीख को बात करने से इनकार कर दिया। साथ ही चीन को विजय दिवस के बारे में सूचित कर दिया गया। अब दोनों पक्ष नई तारीखों पर विचार कर रहे हैं। सूत्रों ने आगे बताया कि अगली बैठक में भारत-चीन के अधिकारी देपसांग फील्ड, गोगरा, हॉट स्प्रिंग में चल रहे विवाद पर बात कर सकते हैं।

बस धमाके के बाद चीन को नहीं पाकिस्तान पर रत्तीभर भी विश्वास, खुद चीनी इंजीनियरों ने टांगी AK-47 बस धमाके के बाद चीन को नहीं पाकिस्तान पर रत्तीभर भी विश्वास, खुद चीनी इंजीनियरों ने टांगी AK-47

चीन की नई साजिश
एक ओर भारत जहां लद्दाख में बातचीत के जरिए समाधान खोजने की कोशिश कर रहा है, तो वहीं दूसरी ओर चीन झिंजियांग प्रांत के शाक्चे टाउन में लड़ाकू विमानों के संचालन के लिए नया एयरबेस बना रहा है। ये इलाका पूर्वी लद्दाख क्षेत्र के करीब है, जहां काफी वक्त से भारत-चीन की सेनाओं के बीच तनाव चल रहा है। रक्षा विशेषज्ञों के मुताबिक चीन विवादित इलाकों में अपनी पकड़ मजबूत करना चाहता है, जिस वजह से ये बेस बनाया जा रहा है।

English summary
India-China 12th round of military talks 26 july
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X