• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

भारत ने फिर चलाया 'ऑपरेशन नमस्ते', ईरान से एयरलिफ्ट कर 275 नागरिकों को निकाला बाहर

|

नई दिल्ली। चीन, अमेरिका और इटली के बाद कोरोना वायरस ने ईरान में सबसे ज्यादा तबाही मचाई है। ईरान में कोरोना वायरस से मौतों का आंकड़ा लगातार बढ़ता ही जा रहा है। वहां रविवार को कोरोना वायरस से 123 नई मौतें दर्ज की गई है। इसके साथ ही ईरान में अब तक कोरोना वायरस से 2640 मौतें हो गई हैं। इस भयावह स्थिति में भी भारत सरकार ने अपने नागरिकों को वहां से निकालकर एक बार फिर दुनिया को बता दिया है कि भारत किसी भी परिस्थिती में अपने लोगों का साथ नहीं छोड़ता। कोरोना प्रभावित ईरान में फंसे 275 भारतीय नागरिकों को लेकर दो विशेष विमान रविवार सुबह राजस्थान के जोधपुर पहुंचा।

कोरोना वैक्सीन: ऑक्सफोर्ड ही नहीं, ये 6 वैक्सीन भी पहुंच चुकी हैं थर्ड फेज के ट्रायल में

ईरान से स्वदेश लौटे 275 भारतीय

ईरान से स्वदेश लौटे 275 भारतीय

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार सभी यात्रियों को सुबह स्पाइसजेट और इंडिगो के विमान से लाया गया। सभी लोगों की एयरपोर्ट पर सेना के डॉक्टरों द्वारा गहन जांच की गई। भारत पहुंचे यात्रियों में 133 महिलाएं, 142 पुरुष, 4 बच्चे और 2 नवजात शामिल हैं। यात्रियों की स्क्रीनिंग के बाद, उन्हें सेना द्वारा तैयार किए गए एक विशेष संगरोध केंद्र में रखा गया है। सभी नागरिकों को अगले 14 दिनों तक यहां डॉक्टरों की निगरानी में रखा जाएगा। रिपोर्ट्स के मुताबिक विमान से उतरने के बाद यात्रियों का तापनाम जांचा गया, यह प्रक्रिया सिविल प्रशासन और सेना की मेडिकल टीमों द्वारा जोधपुर हवाई अड्डे पर की गई थी।

'ऑपरेशन नमस्ते' के तहत किए गए एयरलिफ्ट

ईरान में कोरोना वायरस के प्रकोप को देखते हुए वहां से आए सभी यात्रियों की अभी और जांच की जाएगी। फिलहाल उन्हें जोधपुर में सेना के कल्याण सुविधा केंद्र में रखा गया है। नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने एक ट्वीट में कहा, 'ऑपरेशन नमस्ते! COVID-19 के खिलाफ भारतीय नागरिकों की सुरक्षा का प्रयास जारी है।' उन्होंने आगे बताया कि ईरान से निकाले गए 275 भारतीयों को इंडिगो और स्पाइस जेट के विमान से जोधपुर के आर्मी वेलनेस सेंटर में संगरोध के लिए स्क्रीनिंग और शिफ्ट किया गया है।

श्रीलंका मे कोरोना वायरस से पहली मौत

श्रीलंका मे कोरोना वायरस से पहली मौत

दुनिया के 200 से ज्यादा देशों को अपनी चपेट में ले चुका कोरोना वायरस अब श्रीलंका में भी असर दिखाने लगा है। स्वास्थ्य सेवा के महानिदेशक अनिल जसिंघे ने बताया कि कोलम्बो के संक्रामक रोग अस्पताल में शनिवार को घातक वायरल संक्रमण का इलाज करा रहे एक शख्स की मौत हो गई। मृतक उच्च रक्तचाप और डायबिटीज का मरीज था। स्वास्थ्य मंत्रालय के अधिकारियों के अनुसार, मृतक श्रीलंका में कोरोना वायरस से संक्रमित दूसरा व्यक्ति था, वह इतालवी पर्यटकों के एक समूह के संपर्क में आने से संक्रमित हुआ था।

COVID-19: कनिका कपूर की चौथी रिपोर्ट भी निकली कोरोना पॉजिटिव, परेशान परिवार, जानिए अब कैसा है सिंगर का हाल

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
India again run oppression Namastey airlift from Iran evacuate 275 civilians
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X