• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

एक महीने तालिबानियों की कैद में रहने के बाद मिली आजादी, अफगानिस्तान से भारत पहुंचा सिख परिवार

|

नई दिल्ली। एक महीने कड़े संघर्ष के बाद आखिर कार निदान सिंह सचदेवा सहित कुल 11 सिख आज अफगानिस्तान से भारत पहुंचे हैं। बता दें कि निदान सिंह के तालिबानियों ने एक महीने पहले अपहरण कर लिया था जिन्हें हाल ही छोड़ा गया है। अब उन्हें परिवार समेत स्पेशल फ्लाइट से काबुल से दिल्ली लाया गया है। भारत पहुंचते ही निदान सिंह और उनके परिवार के चेहरे पर सुकून दिखाई दिया, दिल्ली के अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट पर उनका सभी ने स्वागत किया।

आतंकियों ने किया था अपहरण

आतंकियों ने किया था अपहरण

बता दें कि तालिबानियों की कैद से निदान सिंह की रिहाई में भारत सरकार ने भी अहम भूमिका निभाई थी। निदान सिंह की पत्नी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को खत लिखा था जिसमें उन्होंने निदान सिंह की रिहाई के लिए उनके गुहार लगाई थी। मालूम हो कि कोरोना संकट के बीच 17 जून को निदान सिंह का अपहरण उनकी 16 वर्षीय बेटी के साथ अफगानिस्तान के पकटिया गुरुद्वारा से किया गया था। जानकारी के मुताबिक उनकी बेटी सुनमित कौर को जबरन मुस्लिम बनाकर उसकी शादी करवाई जा रही थी।

आतंकियों के निशाने पर हैं सिख

भारत सरकार के दखल और लंबे संघर्ष के बाद निदान सिंह और उनकी बेटी की रिहाई हुई है। ये सभी लोग लंबी अवधि के वीजा के तहत भारत आए हैं। CAA के तहत इन्हें भारतीय नागरिकता दी जा सकती है। बता दें कि अफगानिस्तान में अब आतंकियों द्वारा भारतीय मूल के सिखों को भी निशाना बनाया जा रहा है, ताकि भारत को चोट दी जा सके। काबुल के गुरुद्वारे में हुए आतंकी हमले में 25 सिखों की मौत हुई थी।

छह महीने के वीजा पर भारत आए

छह महीने के वीजा पर भारत आए

अफगानिस्तान में सिख लड़कियों के फॉर्स्ड मैरिज के मामले भी सामने आते रहे हैं, काबुल में रहने वाले सिख समुदाय के नेता चाबुल सिंह ने बताया कि 11 लोगों को भारत में छह महीने का वीजा मिला है, जिसमें निदान सिंह भी शामिल हैं। अपहरण के बाद उनके साथ काफी मारपीट भी हुई थी जिसके चलते वह बीमार हैं। निदान सिंह के साथ उनके रिश्तेदार को वीजा मिला है। चाबुल सिंह ने बताया कि अफगानिस्तान हमले में मारे गए दो भाईयों का परिवार भी भारत आया है।

UN की चेतावनी, भारत के इन राज्यों में मौजूद हैं IS के आतंकी

UN की चेतावनी, भारत के इन राज्यों में मौजूद हैं IS के आतंकी

युनाइटेड नेसंश की रिपोर्ट में भारत में आतंकियों की मौजूदगी को लेकर सनसनीखेज दावा किया गया है। रिपोर्ट में कहा गया है कि भारत के केरल और कर्नाटक राज्य में अच्छी-खासी संख्या में इस्लामिक स्टेट के आतंकी मौजूद हैं। यूएन की रिपोर्ट में भारत को इन आतंकियों को लेकर चेताया गया है। रिपोर्ट में कहा गया है कि आतंकी संगठन अल कायदा के तकरीबन 150-200 आतंकी भारतीय उपमहाद्वीप में संक्रिय हैं। ये आतंकी भारत, पाकिस्तान, बांग्लादेश, म्यांमार आदि देशों में हैं और इस क्षेत्र में आतंकी हमले की साजिश रच रहे हैं।

कोरोना का इलाज करा रहे CM शिवराज ने अस्पताल में सुनी 'मन की बात', बोले- COVID-19 से डरें नहीं

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Independence after being held by Taliban for one month Sikh family arrived in India from Afghanistan
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X