• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

अब आसमान से बरसेंगे आग के गोले, दिल्ली का भी चढ़ेगा पारा, इन राज्यों में जारी हुआ Orange Alert

|

नई दिल्ली। कोरोना संकट से जूझ रहे भारत को अब मौसम की मार सहनी पड़ रही है, पिछले दो दिनों में देश के कई राज्यों में पारा चालीस के पार पहुंच गया है,जिसने लोगों का जीना मुहाल कर दिया है,भारतीय मौसम विभाग ने अपने लेटेस्ट अपडेट में गर्मी बढ़ने की बात कही है, आईएमडी ने रविवार को कहा है कि अगले 4-5 दिनों तक मौसम ऐसा ही बना रहेगा, इसलिए उसने कुछ जगहों के लिए Orange Alert जारी किया है, विभाग के मुताबिक अगले दो दिनों में और ज्यादा गर्म हवाएं चलने की आशंका है और लोगों से घरों पर ही रहने की अपील की गई है।

12 अगस्‍त को रूस से आ रही है पहली कोरोना वायरस वैक्‍सीन, जानिए इसके बारे में सबकुछ

    Weather Report: Delhi, NCR में गर्मी ने किया बेहाल, Orange alert जारी | वनइंडिया हिंदी
    अब बरसेगा गर्म हवाओं का कहर

    अब बरसेगा गर्म हवाओं का कहर

    मीडिया ये बात करते हुए आईएमडी के वैज्ञानिक डॉ. एन कुमार ने बताया कि, पंजाब, हरियाणा, दक्षिणी यूपी, मध्य प्रदेश, राजस्थान, तेलंगाना और तटीय आंध्र प्रदेश में तापमान में वृद्धि जारी रहेगी और अगले 5 दिनों में, इन क्षेत्रों में हीटवेव से लेकर गंभीर हीटवेव देखने को मिलेंगे और कुछ स्थानों पर तापमान 47 डिग्री सेल्सियस को छू सकता है इसलिए इन जगहों पर अलर्ट जारी किया गया है। तो वहीं विभाग ने कहा कि आने वाले दिनों में राजधानी दिल्ली समेत एनसीआर में भीषण गर्मी पड़ने वाली है और यहां पारा 46 डिग्री पार कर सकता है।

    यह पढ़ें: कोरोना पॉजिटिव पाए गए किरण कुमार, पिछले 10 दिन से हैं क्वारंटीन

    अब दिल्ली उबलने वाली है

    भारतीय मौसम विभाग ने कहा है कि 'अम्फान' ने जम्मू-कश्मीर के ऊपर बने विक्षोभ को बेअसर कर दिया है, 'अम्फान' की वजह से हवा का रूख बदल गया है, अब राजस्थान की ओर से राजधानी दिल्ली में हवा का प्रवाह हो रहा है, जिसके कारण अब दिल्ली उबलने वाली है।

    इन राज्यों में जारी हुआ Orange Alert

    जबकि स्काईमेटवेदर के मुताबिक अगले 24 घंटों के दौरान असम, मेघालय, अरुणाचल प्रदेश, नागालैंड,, मणिपुर, केरल, कर्नाटक, तमिलनाडु, पश्चिम बंगाल, सिक्किम, जम्मू कश्मीर, मुज़फ्फराबाद, गिलगित-बाल्टिस्तान और हिमाचल प्रदेश में बारिश और पंजाब , राजस्थान, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, गुजरात, तेलंगाना और आंध्र प्रदेश के कुछ और हिस्सों पर हीट वेब की आशंका व्यक्त की है।

    केरल में लेट पहुंचेगा मानसून

    केरल में लेट पहुंचेगा मानसून

    Southwest Monsoon को केरल तट पर पहुंचने में 5 जून तक का समय लग सकता है, आमतौर पर यहां मानसून की पहली बारिश 1 जून को हो जाती है, हालांकि आईएमडी के महानिदेशक मृत्युंजय महापात्र ने कहा था कि 'चक्रवात' मानसून की प्रगति में मदद करेगा, जो इस साल सामान्य रहने की संभावना है, विभाग ने कहा कि राजधानी दिल्ली में मानसून की सामान्य शुरुआत 23 जून से 27 जून के बीच में होगी तो वहीं दूसरी ओर मुंबई और कोलकाता में मानसून क्रमश: 10 और 11 जून के बीच पहुंचेगा और चेन्नई में 1 से 4 जून तक इसके पहुंचने की संभावना है, जबकि महाराष्ट्र, गुजरात, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, तेलंगाना, आंध्र प्रदेश, ओडिशा, झारखंड, बिहार और उत्तर प्रदेश के कुछ हिस्सों में, मानसून मौजूदा सामान्य तारीखों की तुलना में 3-7 दिनों की देरी से आएगा।

    यह पढ़ें: चार दिन के कपड़े लेकर अबु धाबी गई थी टीवी की 'नागिन', फंस गई लॉकडाउन में, जानिए क्या है हाल

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    , Maximum temperature in Delhi expected to touch 46 degrees Celcius on 26th May with heatwave to severe heatwave conditions and Temperatures will continue to rise in Punjab, Haryana, southern UP, Madhya Pradesh, Rajasthan, Telangana & Andhra Pradesh.
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X
    We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Oneindia sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Oneindia website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more