• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

गुजरात-महाराष्ट्र पर मंडराया 'हिका' तूफान का खतरा, अलर्ट जारी, 'साइक्लोन मैन' ने दी अहम जानकारी

|

नई दिल्ली। कोरोना संकट से जूझ रहे गुजरात पर 'चक्रवात' का खतरा मंडरा रहा है, भारतीय मौसम विभाग ने रविवार को अरब सागर के लिए दोहरे दबाव का अलर्ट जारी किया है,भारत में साइक्लॉन मैन के नाम से मशहूर चक्रवाती चेतावनी के विशेषज्ञ मृत्युंजय महापात्रा ने कहा कि दक्षिणपूर्व अरब सागर और लक्षद्वीप में आज एक निम्न दबाव का क्षेत्र बना है, हम उम्मीद कर रहे हैं कि सोमवार को यह डिप्रेशन में बदलेगा और परसों चक्रवाती तूफान में बदल जाएगा और 3 जून की शाम तक यह तूफान गुजरात और उत्तरी महाराष्ट्र के तटों तक पहुंचेगा, इस तूफान का नाम 'हिका' है, जिसका नामकरण मालदीव ने किया है।

    Storm Alert: IMD की चेतावनी, 3 जून को Gujarat- Maharashtra में आ सकता है तूफान | वनइंडिया हिंदी
    अरब सागर में सक्रिय 2 तूफान

    अरब सागर में सक्रिय 2 तूफान

    खास बात ये है कि दो दिन पहले एक निजी एजेंसी ने चक्रवात की संभावना जताई थी, लेकिन मौसम विभाग की ओर से इस बारे में कुछ नहीं कहा गया था लेकिन इस बार मौसम विभाग ने बताया कि अरब सागर में साइक्लोनिक सर्कुलेशन सिस्टम वेस्ट सेंट्रल और साउथ वेस्ट पर बन रहा है जो कि 48 घंटे बाद डिप्रेशन में बदल सकता है और चक्रवात का रूप धारण कर सकता है और अगर ऐसा हुआ तो सौराष्ट्र और साउथ गुजरात में भारी बारिश की आशंका है।

    यह पढ़ें: दिल्ली-NCR में झमाझम बारिश, तेलंगाना में भी बदला मौसम, IMD ने मानसून को लेकर कही बड़ी बात

    'चक्रवात' को लेकर एडवाइजरी जारी

    चक्रवात के मद्देनजर मौसम विभाग की ओर से पहले ही एडवाइजरी जारी की गई है और कहा है कि दक्षिण गुजरात, मध्यगुजरात और सौराष्ट्र में तेज हवाओं के साथ भारी बारिश की संभावना है इसलिए लोगों को अलर्ट किया गया है।

    एक नहीं दो तूफान का खतरा

    एक नहीं दो तूफान का खतरा

    आईएमडी ने कहा कि गुजरात पर एक नहीं दो तूफान का खतरा मंडरा रहा है, विभाग के मुताबिक पहला तूफान 3 जून और दूसरा तूफान 6 जून को आने की संभावना है, पहला तूफान की गति लगभग 110 किमी / घंटा के आस-पास होगी जो कि सौराष्ट्र , पोरबंदर, जूनागढ़, अमरेली, राजकोट और भावनगर जिलों को प्रभावित करेगी, जबकि 6 जून वाला तूफान गुजरात और महाराष्ट्र दोनों राज्यों को प्रभावित करेगा।

    कैसे बनते हैं 'चक्रवात'?

    कैसे बनते हैं 'चक्रवात'?

    पृथ्वी के वायुमंडल में हवा होती है, समुद्र के ऊपर भी जमीन की तरह ही हवा होती है, हवा हमेशा उच्च दाब से निम्न दाब वाले क्षेत्र की तरफ बहती है. जब हवा गर्म हो जाती है तो हल्की हो जाती है और ऊपर उठने लगती है, जब समुद्र का पानी गर्म होता है तो इसके ऊपर मौजूद हवा भी गर्म हो जाती है और ऊपर उठने लगती है. इस जगह पर निम्न दाब का क्षेत्र बनने लग जाता है, आस पास मौजूद ठंडी हवा इस निम्न दाब वाले क्षेत्र को भरने के लिए इस तरफ बढ़ने लगती है. लेकिन पृथ्वी अपनी धुरी पर लट्टू की तरह घूमती रहती है, इस वजह से यह हवा सीधी दिशा में ना आकर घूमने लगती है और चक्कर लगाती हुई उस जगह की ओर आगे बढ़ती है, इसे चक्रवात कहते हैं।

    यह पढ़ें: सोनू सूद से यूजर्स ने कहा-अकेले कर रहा घर का सारा काम, छोटा भाई ससुराल में फंस गया..., जानिए एक्टर ने क्या कहा?

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    A low-pressure area formed near southeast Arabian Sea & Lakshadweep today. We're expecting that it'll transform into depression tomorrow&into cyclonic storm day after. It'll move towards north&reach near Gujarat&north Maharashtra coast by evening of June 3: M Mohapatra, IMD Delhi
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X
    We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Oneindia sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Oneindia website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more