• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

ICMR के सीरो-सर्वे में हैरान करने वाले नतीजे, मई तक 64 लाख लोग आए थे कोरोना की चपेट में

|

नई दिल्ली। कोरोना वायरस का कहर पूरे देश में जारी है। अब भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (ICMR) ने देशभर में किए गए सीरो-सर्वे के परिणाम जारी कर दिए हैं। जिसमें हैरान करने वाली बातें सामने आई हैं। सर्वे के अनुसार, कोरोना वायरस देश के ग्रामीण इलाकों तक पहुंच गया है। जहां संक्रमण की दर 69.4 फीसदी पाई गई है। यानी ग्रामीण भारत में रहने वाले 44.4 लाख लोग इससे प्रभावित हुए हैं। वहीं संक्रमण की दर शहरी झुग्गियों में 15.9 फीसदी और शहरी गैर-मलिन बस्तियों में 14.6 फीसदी दर्ज की गई है।

    Coronavirus India Update: ICMR के Sero Survey में बड़ा खुलासा | Covid-19 News | वनइंडिया हिंदी

    कोरोना वैक्सीन: ऑक्सफोर्ड ही नहीं, ये 6 वैक्सीन भी पहुंच चुकी हैं थर्ड फेज के ट्रायल में

    icmr, survey, survey of icmr, sero survey by icmr, coronavirus, covid-19 survey, coronavirus in india, coronavirus updates, coronavirus news, coronavirus news updates in india, coronavirus in indian states, coronavirus in youth, coronavirus result in india, coronavirus surveys in india, icmr survey on coronavirus in india, coronavirus in rural india, coronavirus in youth, कोरोना वायरस, आईसीएमआर, कोविड-19, भारत में कोरोना वायरस, ग्रामीण इलाकों में कोरोना वायरस

    आईसीएमआर के मुताबिक सीरो पॉजिटिविटी दर सबसे अधिक 18-45 आयु वर्ग में 43.3 फीसदी रही है। ये दर 46-60 आयु वर्ग में 39.5 फीसदी और 60 साल से अधिक आयु वर्ग में सबसे कम 17.2 फीसदी रही है। इस सर्वे में हैरान करने वाली बात ये भी सामने आई है कि सीरो पॉजिटिविटी दर उन जिलों में भी पाई गई है, जहां संक्रमण के एक भी केस दर्ज नहीं किए गए। जिससे कम टेस्टिंग और लैब तक मुश्किल पहुंच जैसी वजह सामने आती हैं। आपको बता दें पहले दौर के इस सीरो-सर्वे में देश के 21 राज्यों के 70 जिलों के 700 गावों और वार्डों को शामिल किया गया था। ये सर्वे 11 मई से लेकर 4 जून तक हुआ है। इसमें 181 शहरी इलाके भी शामिल थे।

    ग्रामीण इलाकों से मामले इसलिए भी सामने आए हैं क्योंकि लॉकडाउन के बाद बड़ी संख्या में लोगों ने शहरों से गावों की ओर पलायन किया था। जो जिले सर्वे में शामिल किए गए उन्हें चार भागों में बांटा गया था। इनमें 15 जिले ऐसे हैं, जहां से कोई केस नहीं मिला। 22 जिलों में काफी कम केस मिले। 16 जिलों में संक्रमण की दर मध्यम रही और 17 जिले ऐसे हैं, जिनमें संक्रमण की दर अधिक है। रिपोर्ट से पता चला है कि टेस्टिंग सुविधा के मामलों में जिलों में अंतर रहा है। जिसके चलते संक्रमण से मरने वालों की संख्या में भी असंमजस है। इस रिपोर्ट को इंडियन जरनल फॉर मेडिकल रिसर्च में प्रकाशित किया गया है। सर्वे में हैरान करने वाली बात जो सामने आई है, वो ये है कि देश के 0.73 फीसदी व्यस्क संक्रमण के संपर्क में थे। वहीं मई 2020 की शुरुआत में 64 लाख लोग वायरस की चपेट में आ चुके थे।

    12 अगस्‍त को रूस से आ रही है पहली कोरोना वायरस वैक्‍सीन, जानिए इसके बारे में सबकुछ

    एक बार फिर टूटा कोरोना वायरस का रिकॉर्ड, 24 घंटों में मिले 96 हजार से ज्यादा नए केस

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    ICMR sero survey result shows 64 lakh coronavirus infections in total by early may
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X