• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

रणदीप गुलेरिया बोले- 'दूसरी लहर जैसी खतरनाक नहीं होगी कोरोना की तीसरी लहर, लेकिन हमें...'

|
Google Oneindia News

नई दिल्ली, 2 जून: देश में कोहराम मचा रही कोरोना वायरस की दूसरी लहर के बीच ही विशेषज्ञों ने तीसरी लहर की भी चेतावनी दे दी है। इसके साथ ही कहा जा रहा है कि तीसरी लहर में छोटे बच्चे सबसे ज्यादा प्रभावित हो सकते हैं। कोरोना वायरस की तीसरी लहर की आशंका को देखते हुए सरकार ने व्यापक स्तर पर टीकाकरण की तैयारियां शुरू कर दी हैं। इस बीच दिल्ली स्थित ऑल इंडिया इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस के डायरेक्टर डॉ. रणदीप गुलेरिया ने कोरोना वायरस की तीसरी लहर को लेकर अहम जानकारी दी है।

    Coronavirus 3rd Wave Alert: जाने क्या बोले AIIMS Director Dr Randeep Guleria | वनइंडिया हिंदी
    'वैक्सीन हमारे लिए सबसे शक्तिशाली ढाल'

    'वैक्सीन हमारे लिए सबसे शक्तिशाली ढाल'

    'इंडिया टीवी' की खबर के मुताबिक, डॉ. रणदीप गुलेरिया ने कहा, 'मुझे नहीं लगता कि कोरोना वायरस की तीसरी लहर इतनी खतरनाक होगी, जितनी दूसरी लहर है। लेकिन, हमें इस तीसरी लहर का असर कम करने के लिए कोरोना वायरस प्रोटोकॉल का पालन करना होगा और साथ ही ज्यादा से ज्यादा लोगों को वैक्सीन लेनी होगी। कोरोना वायरस के खिलाफ वैक्सीन हमारे लिए सबसे शक्तिशाली ढाल है।'

    'वैक्सीन को लेकर अफवाहें फैलाना दुखद'

    'वैक्सीन को लेकर अफवाहें फैलाना दुखद'

    वहीं, कोरोना वैक्सीन लेने के बाद भी संक्रमण की खबरों को डॉ. रणदीप गुलेरिया ने महज अफवाह बताया। डॉ. रणदीप गुलेरिया ने कहा, 'यह काफी दुखद है कि जिस समय हम लोग एक महामारी से लड़ रहे हैं, उस वक्त भी कुछ लोग अफवाहें फैला रहे हैं। आंकड़े इस बात के गवाह हैं कि जिन लोगों ने वैक्सीन ली और कोरोना वायरस से संक्रमति हुए, उनके अंदर मामूली लक्षण देखे गए।'

    ये भी पढ़ें-फिर बढ़े कोरोना के केस: 24 घंटों में 1.32 लाख नए मामले, 3000 से ज्यादा लोगों की मौतये भी पढ़ें-फिर बढ़े कोरोना के केस: 24 घंटों में 1.32 लाख नए मामले, 3000 से ज्यादा लोगों की मौत

    'जोखिम भरा हो सकता है वैक्सीन ना लगवाना'

    'जोखिम भरा हो सकता है वैक्सीन ना लगवाना'

    डॉ. रणदीप गुलेरिया ने आगे कहा, 'जो लोग वैक्सीन लगवाने से इंकार कर रहे हैं, उनके लिए यह कदम काफी जोखिम भरा हो सकता है। आज वैक्सीन को लेकर हम जो भी अफवाहें सुन रहे हैं, देख रहे हैं, उनका कोई वैज्ञानिक आधार नहीं है। केवल सनसनी फैलाने और लोगों में दहशत पैदा करने के मकसद से ये अफवाहें फैलाई जा रही हैं। अगर कोई शख्स वैक्सीन की दोनों डोज ले लेता है और इसके बाद भी संक्रमित होता है, तो उसे गंभीर बीमारी का खतरा नहीं होगा। साथ ही वो मरीज सामान्य मरीजों की तुलना में जल्दी ठीक भी होगा।'

    English summary
    I Don't Think Coronavirus Third Wave Will Be As Deadly As Second Wave- AIIMS Chief Randeep Guleria.
    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X