नीतीश के पलटी मारने पर पहली बार बोले जेडीयू के वरिष्ठ नेता शरद यादव

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्‍ली। बिहार में लालू यादव की पार्टी से गठबंधन तोड़ नीतीश कुमार ने भाजपा के साथ मिलकर सरकार तो बना ली, लेकिन अपनी ही पार्टी के नेताओं को वह अबतक नहीं मना पाए हैं। नीतीश के इस फैसले से नाखुश जेडीयू के वरिष्‍ठ नेता शरद यादव ने सोमवार को इस मुद्दे पर अपनी चुप्‍पी तोड़ते हुए पहली बात बयान दिया है। शरद यादव ने कहा है कि 'बिहार में जो कुछ भी हुआ वह उससे सहमत नहीं हैं'।

नीतीश के पलटी मारने पर पहली बार बोले जेडीयू के वरिष्ठ नेता शरद यादव

उन्‍होंने कहा कि आरजेडी से गठबंधन टूटने का उन्‍हें अफसोस है। संसद के बाहर मीडिया से बातचीत करते हुए शरद यादव ने कहा कि जो भी चल रहा है वो सही नहीं है। बिहार की 11 करोड़ जनता के लिए नीतीश कुमार का यह फैसला सही नहीं होगा। मैं इस फैसले से असहमत हूं, यह दुर्भाग्यपूर्ण है। उन्‍होंने कहा कि लोगों ने जनादेश इसलिए नहीं दिया था।

शरद यादव के बयान से जाहिर है कि वो नीतीश के फैसले से नाराज हैं और उन्‍हें मनाने की एनडीए नेताओं की कोशिश अभी तक नाकाम रही है। जेडीयू के अन्य नेता भी अभी तक खुलकर शरद यादव के खिलाफ कुछ भी बोलने से बच रहे हैं। पार्टी प्रवक्ता केसी त्यागी ने सिर्फ इतना कहा है कि शरद उनकी पार्टी के बड़े नेता हैं और पूरे सम्मान के साथ उनकी बात सुनी जाएगी।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
I don't agree with the decision in Bihar, its unfortunate.The mandate by the people was not for this said, Sharad Yadav.
Please Wait while comments are loading...