• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

HOWDY MODI: होर्डिंग-बैनर लेकर इवेंट में हंगामा करने पहुंच सकते हैं पाक समर्थक!

|

बेंगलुरू। अमेरिका के ह्यूस्टन में आगामी 22 सितंबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का एक कार्यक्रम होने जा रहा है जिसमें प्रधानमंत्री मोदी करीब 50 हजार लोगों को संबोधित करेंगे। इस कार्यक्रम में अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप भी शामिल होंगे। 'Howdy Modi नाम से आयोजित किए जा रहे इस कार्यक्रम के लिए अब कुल 50, 000 लोगों ने रजिस्ट्रेशन करवा लिया है जबकि 10000 लोग वेटिंग लिस्ट है।

Modi

दरअसल, ह्यूस्टन शहर में आयोजित हाउडी मोदी कार्यक्रम को पोप के बाद अब तक का दूसरा सबसे बड़ा आयोजन कहा जा रहा है। टेक्सास राज्य का सबसे बड़े शहर ह्यूस्टन में आयोजित इस कार्यक्रम में पाकिस्तानी समर्थक और प्रदर्शनकारियों के भी पहुंचने की आशंका जताई जा रही है, जो वहां जम्मू-कश्मीर मुद्दे पर प्रधानमंत्री मोदी के खिलाफ नारेबाजी और हंगामा कर सकते हैं।

इनपुट के मुताबिक कार्यक्रम में काफी संख्या में पाकिस्तानी समर्थकों के पहुंचने की उम्मीद है, जिसके 25 से अधिक ह्यूस्टश शहर पहुंचने के लिए बुक कराई गई हैं। रिपोर्ट की मानें तो पाकिस्तानी समर्थक कार्यक्रम स्थल की तरफ जाने वालों रास्तों और स्टेडियम के बाहर धरना-प्रदर्शन और हंगामा करके दुनिया का ध्यान अपनी ओर खींचने की कोशिश कर सकते हैं।

Modi

इवेंट के आसपास धरना-प्रदर्शन और नारेबाजी के जरिए पाकिस्तानी समर्थकों की कोशिश है कि वो हंगामे की तस्वीरें पाकिस्तान भेजकर पाकिस्तानी मीडिया और पाकिस्तानी आलाकमान की फस्ट्रेन खत्म करना चाहते हैं, क्योंकि इवेंट में प्रधानमंत्री मोदी और अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की एम मंच पर संभावित जुगलबंदी देख संभव हैं कि पाकिस्तानी एक बार जरूर अवसाद में आ जाएंगे।

अमेरिका में पूर्व पाकिस्तानी राजदूत हुसैन हक्कानी ने भी हाउडी मोदी कार्यक्रम में अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के शिरकत को पाकिस्तान के लिए एक झटका करार दिया है। उन्होंने कहा कि भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अमेरिकी राष्ट्रपित ट्रंप के अच्छे दोस्त हैं और जो लोग यह सोच रहे थे कि पाक पीएम इमरान खान का अमेरिका दौरा काफी शानदार था, उनके लिए हाउडी मोदी एक झटका साबित होगा।

Modi

उल्लेखनीय 22 सितंबर को आयोजित हाउडी मोदी इवेंट के बाद पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान भी अमेरिका यात्रा पर जाने वाले है। इमरान खान 27 सितंबर को अमेरिका पहुंचेगे, जहां वो यूएनजीए की बैठक को संबोधित करेंगे और वहां उनके साथ अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप भी मौजूद होंगे। इस बारे में राष्ट्रपति ट्रंप ने पहले ही ट्वीट करजानकारी दे दी है।

HOWDY Modi कार्यक्रम में राष्ट्रपति ट्रंप और प्रधानमंत्री मोदी की मुलाकात के कई और मायने भी निकाले जा रहे हैं। इनमें से एक यह कि अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप कार्यक्रम में शामिल होकर जम्मू-कश्मीर मुद्दे पर पाकिस्तान को आईना दिखाया है। पिछले माह चार दिवसीय दौरे पर अमेरिका पहुंचे पाकिस्तानी पीएम इमरान और राष्ट्रपति राष्ट्रपति ट्रंप की दोस्ती को लेकर पाकिस्तानी अखबारों खूब कसीदे पढ़े थे।

modi

दरअसस, अमेरिका और पाकिस्तानी द्वारा आयोजित एक संयुक्त प्रेस कांफ्रेस में राष्ट्रपति ट्रंप ने पाकिस्तान को खुश करने के लिए पहली दफा जम्मू-कश्मीर पर मध्यस्थता करने की पेशकश की थी, लेकिन अब जब ट्रंप प्रधानमंत्री मोदी के साथ ह्यूस्टन में आयोजित इवेंट में शामिल होने जा रहे हैं तो पाकिस्तान को उसकी हैसियत का भी पता चल गया है और रही सही हेकड़ी भी निकल गई है।

बुधवार को ही पाकिस्तान को एक और तगड़ा झटका लगा जब चीनी अफसरों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग के बीच होने वाले आगामी अनौपचारिक बैठक में कश्मीर मुद्दे पर चर्चा नहीं करने की बात कही। चीनी अफसरों ने कश्मीर मुद्दे को दो देशों के बीच द्विपक्षीय मामला करार देते हुए कि दोनों देशों के आगामी बैठक में दोनों नेताओं के बीच कश्मीर मुद्दे पर कोई चर्चा नहीं होगी।

Modi

मालूम हो कि पाकिस्तान के करीबी चीन ने जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद मामला संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार आयोग में उठाने में पाकिस्तान की मदद की थी, लेकिन किसी और देश द्वारा मामले पर समर्थन नहीं करने से महाशक्ति चीन को अंतर्राष्ट्रीय स्तर बड़ी फजीहत का सामना करना पड़ा था।

उधर, ह्यूस्टन में आयोजित होने जा रहे Howdy Modi इवेंट पर कांग्रेस ने हमला किया है। कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल ने अमेरिका में प्रस्तावित प्रधानमंत्री मोदी के कार्यक्रम को दिखावा करार दिया है। उन्होंने कहा कि अगर यह इवेंट बाहर न होकर भारत के किसी गांव में होता तो लोग अपनी समस्याएं प्रधानमंत्री को बता सकते थे। उन्होंने प्रधानमंत्री मोदी को सलाह देते हुए कहा कि उन्हें देश के ग्रामीण इलाकों में जाना चाहिए और ऐसे इवेंट का आयोजन वहां करने चाहिए, ताकि लोग अपने दुख और दर्द उनसे साझा कर पाएं।

Modi

गौरतलब है ह्यूस्टन शहर अमेरिका के टेक्सास राज्य का सबसे बड़ा शहर है, जो एनर्जी ख़ास कर तेल और गैस कंपनियों का दुनिया का सबसे बड़ा हब माना जाता है। माना जा रहा है कि प्रधानमंत्री मोदी भारत में तेल खनन की संभावना को लेकर ह्यूस्टन शहर की बड़ी कंपनियों के साथ बैठक कर सकते हैं।

HOWDY का क्या मतलब होता है?

''हाउडी' शब्द का प्रयोग 'आप कैसे हैं?' के लिए किया जाता है। हाउडी का मतलब होता है, हाउ डू यू डू? (आप कैसे हैं?)। दक्षिण पश्चिम अमेरिका में अभिवादन के लिए इस शब्द का प्रयोग किया जाता है। पीएम मोदी के साथ-साथ अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप भी इस कार्यक्रम को संबोधित करेंगे। दरअसल, ह्यूस्टन में सामुदायिक कार्यक्रम में शामिल होने का अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप का फैसला दोनों देशों के बीच विशेष मित्रता को रेखांकित करता है।

-जम्मू-कश्मीर छोड़ पाकिस्तान को अब सता रही है पीओके की चिंता!

जीवनसंगी की तलाश है? भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें - निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Pakistani supporter in America may organize protest rally in Huston city where 22nd September prime minister Narendra Modi and US president Donald Trump coming together,
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X
We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Oneindia sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Oneindia website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more