• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

हम हर्ड इम्युनिटी से कितने दूर हैं? क्‍या चौथे सेरो सर्वे से इसका पता चल पाएगा?

|
Google Oneindia News

नई दिल्‍ली, 12 जून। नीति आयोग (स्वास्थ्य) के सदस्य डॉ वीके पॉल ने शुक्रवार को एक प्रेस वार्ता के दौरान कहा कि भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) इस महीने देश का चौथा राष्ट्रीय सेरोसर्वे करने की योजना बना रहा है। मानव शरीर में कोविड -19 एंटीबॉडी के अस्तित्व का पता एक सीरो सर्वे के माध्यम से लगाया जा सकता है; एंटीबॉडी की मौजूदगी दर्शाती है किव्यक्ति वायरस के संपर्क में है कि नहीं। सीरो-सर्वेक्षण नाक, गले और मुंह में तरल पदार्थ के बजाय रक्त से देखते हैं, जिसे सीरम कहा जाता है। सीरो-सर्वेक्षण हमें एक व्यापक दृष्टिकोण प्रदान करते हैं कि संक्रमण कैसे फैल रहा है।

sero

17 दिसंबर, 2020 और 8 जनवरी, 2021 के बीच हुए तीसरे राष्ट्रव्यापी सीरो सर्वे के बाद, यह देश में ICMR का चौथा सीरो सर्वे होगा। यह देश भर के 70 जिलों में आयोजित किया जाएगा, जिसमें छह साल और उससे अधिक उम्र के बच्चे भाग लेंगे।

पॉल ने महामारी के खतरों से "हमारे भौगोलिक क्षेत्रों की रक्षा" के लिए राज्य-व्यापी सीरो सर्वे के महत्व पर जोर दिया। जिला और राज्य स्तर पर, उन्होंने राज्यों को कोविड -19 हॉटस्पॉट और संक्रमण हॉटस्पॉट पर सीरो सर्वे करने की सलाह दी। उन्‍होंने कहा यह हमें संक्रमण दर का पता लगाने में मदद करता है और कितने में एंटी-बॉडी हैं, या हम झुंड की प्रतिरक्षा से कितने दूर हैं।

सेंटर फॉर सेल्युलर एंड मॉलिक्यूलर बायोलॉजी (सीसीबीएम) के सलाहकार डॉ राकेश मिश्रा ने आज एएनआई को बताया कि यह हमें यह भी बताएगा कि देश के किस हिस्‍सें में पॉजिविट दर बहुत कम है। यह हमें उन लोगों में एंटीबॉडी के बारे में भी बताएगा जो पहले से ही टीका लगाए गए हैं। देश में बड़े पैमाने पर सीरो सर्वेक्षण बहुत उपयोगी होगा।"

सैय्यद तौहीद आलम नजवी : कोरोना काल में बने लोगों के मसीहा, बच्‍चों को सुरक्षित रखने की है ये तैयारीसैय्यद तौहीद आलम नजवी : कोरोना काल में बने लोगों के मसीहा, बच्‍चों को सुरक्षित रखने की है ये तैयारी

डॉक्‍अर राकेश मिश्रा ने कहा ऐसा लगता है कि ज्यादातर देशों में 80-90% मामले डेल्टा संस्करण के कारण थे। "लेकिन यह दो महीने में वैरिएंट के नए टाइप के साथ बदल जाएगा। यूके में कुछ रिपोर्टों ने सुझाव दिया कि डेल्टा वैरियंट बढ़ रहा है, लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि यह अधिक हानिकारक होगा।

https://hindi.oneindia.com/photos/fire-breaks-out-central-market-of-lajpat-nagar-area-delhi-oi62770.html

English summary
How far are we from herd immunity? Will the fourth sero survey reveal this?
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X