• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

अस्पताल का दौरा करने के बाद गृहमंत्री अमित शाह ने दिए निर्देश, दिल्ली के कोविड वार्ड में लगेंगे सीसीटीवी

|

नई दिल्ली। राजधानी दिल्ली में कोरोना वायरस (कोविड-19) के बढ़ते मामलों से निपटने के लिए केंद्र सरकार ने कमर कस ली है। गृहमंत्री अमित शाह ने पहले सर्वदलीय बैठक बुलाई और उसके बाद दिल्ली के एलएनजेपी (लोक नायक जय प्रकाश) अस्पताल का दौरा किया। गृहमंत्री ने आदेश दिया है कि दिल्ली के सभी अस्पतालों के कोरोना वायरस वार्ड में सीसीटीवी कैमरे लगाए जाएं। अस्पताल का दौरा करने के बाद शाह ने दिल्ली के मुख्य सचिव से कहा कि सभी अस्पतालों के कोरोना वायरस वार्ड में सीसीटीवी कैमरे लगवाए जाएं, ताकि उचित निगरानी हो सके।

    Corona in Delhi : Amit Shah ने LNJP Hospital का किया दौरा,दिए ये निर्देश | वनइंडिया हिंदी

    कोरोना वैक्सीन: ऑक्सफोर्ड ही नहीं, ये 6 वैक्सीन भी पहुंच चुकी हैं थर्ड फेज के ट्रायल में

    home minister amit shah, amit shah, cctv in delhi hospital, coronaviurs, coronavirus ward, dehi hosptial cctv, delh, coronavirus delhi, coronavirus in delhi, delhi lockdown, delhi corona cases, lockdown in delhi, delhi coronavirus cases, corona virus delhi, corona cases in delhi, coronavirus cases in delhi, गृहमंत्री अमित शाह, अमित शाह, सीसीटीवी, सीसीटीवी कैमरे दिल्ली अस्पताल, कोरोना वायरस वार्ड, दिल्ली कोरोना वायरस वार्ड, दिल्ली, कोरोना वायरस दिल्ली, दिल्ली लॉकडाउन, दिल्ली में कोरोना वायरस, दिल्ली में कोरोना वायरस केस, कोरोना वायरस

    गृहमंत्री अमित शाह ने अधिकारियों से ये भी कहा है कि वैकल्पिक कैंटीन स्थापित की जाएं, ताकि अगर कोरोना संक्रमण निकलने पर किसी को बंद भी करना पड़े, तो भी मरीजों को बिना किसी रुकावट के खाना मिलता रहे। आने वाले महीनों में राजधानी में कोरोना संक्रमण के मामले बढ़ने का खतरा है, इससे निपटने के लिए गृहमंत्री लगातार बैठक कर रहे हैं। दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा था कि यहां जुलाई के आखिर में 5.5 लाख मामले हो जाएंगे और 80 हजार बेड की जरूरत पड़ेगी।

    रविवार को दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के साथ बैठक के बाद शाह ने कहा था, 'दिल्ली में कोरोना से संक्रमित मरीजों के लिए बेड की कमी को देखते हुए केंद्र की मोदी सरकार ने तुरंत 500 रेलवे कोच दिल्ली को देने का निर्णय लिया है। इन रेलवे कोच से न सिर्फ दिल्ली में 8000 बेड बढ़ेंगे बल्कि यह कोच कोरोना संक्रमण से लड़ने के लिए सभी सुविधाओं से लेस होंगे।' इसके बाद फिर सोमवार को सर्वदलीय बैठक हुई। इसके साथ ही कोरोना जांच बढ़ाने का फैसला भी लिया गया है।

    12 अगस्‍त को रूस से आ रही है पहली कोरोना वायरस वैक्‍सीन, जानिए इसके बारे में सबकुछ

    बता दें सुप्रीम कोर्ट ने कोरोना वायरस महामारी की स्थिति को ठीक से ना संभालने को लेकर दिल्ली सहित कई राज्यों को लेकर चिंता जाहिर की थी। शुक्रवार को ही सुप्रीम कोर्ट ने दिल्ली, तमिलनाडु, महाराष्ट्र और बंगाल जैसे राज्यों के लिए कहा था, 'कोविड-19 मरीजों के साथ जानवरों से भी बदतर व्यवहार किया जा रहा है। एक मामला तो ऐसा भी है, जहां एक शव कूड़ेदान में मिला। मरीज मर रहे हैं और कोई उन्हें देखने वाला नहीं है।'

    इस दौरान दिल्ली की स्थिति को और भी ज्यादा खराब बताया गया था। हाल ही में देश के कई अस्पतालों पर सवाल खड़े हुए थे, कहीं घंटो तक शव पड़े रहे तो कहीं मरीज को भर्ती करने से इनकार कर दिया गया है। सोशल मीडिया पर ऐसे कई वीडियो क्लिप भी वायरल हुए, जिनमें निजी अस्पतालों ने लोगों से इलाज के लिए अधिक पैसा तक मांगा।

    सिक्किम: कोरोना संक्रमित और असंक्रमित महिलाओं ने की बच्चों की अदला बदली, जानिए वजह

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    home minister amit shah orders to install cctv in delhi coronavirus wards after hospital visit
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X