• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

West Bengal: विक्टोरिया मेमोरियल में पीएम मोदी ने नेताजी को दी श्रद्धांजलि, जानें भाषण की बड़ी बातें

|

नई दिल्ली: नेताजी सुभाष चंद्र बोस की 125वीं जयंती पर शनिवार को कोलकाता के विक्टोरिया मेमोरियल में एक खास कार्यक्रम आयोजित किया गया। जिसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी शिरकत की। इसके अलावा वहां पर बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और राज्यपाल जगदीप धनखड़ भी मौजूद रहे। कार्यक्रम में पीएम मोदी ने नेताजी को श्रद्धांजलि देते हुए, उनके पराक्रम की तारीफ की। पीएम के मुताबिक इस देश का एक-एक व्यक्ति नेताजी सुभाष चंद्र बोस का ऋणि है। आइए जानते हैं पीएम मोदी के संबोधन की बड़ी बातें-

    PM Modi ने Subhash Chandra Bose की 125वीं जयंती पर कही ये बड़ी बातें | वनइंडिया हिंदी

    modi
    • पीएम मोदी ने कहा कि आज के ही दिन मां भारती की गोद में उस वीर सपूत ने जन्म लिया था, जिसने आजाद भारत के सपने को नई दिशा दी थी। आज के ही दिन गुलामी के अंधेरे में वो चेतना फूटी थी, जिसने दुनिया की सबसे बड़ी सत्ता के सामने खड़े होकर कहा था, मैं तुमसे आजादी मांगूंगा नहीं, छीन लूंगा।
    • उन्होंने कहा कि देश ने ये तय किया है कि अब हर साल हम नेताजी की जयंती यानी 23 जनवरी को 'पराक्रम दिवस' के रूप में मनाया करेंगे। हमारे नेताजी भारत के पराक्रम की प्रतिमूर्ति भी हैं और प्रेरणा भी।
    • अंडमान में एक द्वीप का नाम नेताजी सुभाष चंद्र बोस रखा गया है। इस पर पीएम ने कहा कि ये मेरा सौभाग्य है कि हमारी सरकार ने लोगों की भावनाओं को देखते हुए 2018 में द्वीप का नाम नेताजी के नाम पर रखा। इसके अलावा उनसे जुड़ी फाइलों को भी सार्वजनिक किया गया।
    • उन्होंने कहा कि आज हर भारतीय अपने दिल पर हाथ रखे, नेताजी सुभाष को महसूस करे, तो उसे फिर ये सवाल सुनाई देगा, क्या मेरा एक काम कर सकते हो? ये काम, ये काज, ये लक्ष्य आज भारत को आत्मनिर्भर बनाने का है। देश का जन-जन, देश का हर क्षेत्र, देश का हर व्यक्ति इससे जुड़ा है।
    • पीएम के मुताबिक नेताजी गरीबी को, अशिक्षा को, बीमारी को, देश की सबसे बड़ी समस्याओं में गिनते थे। हमारी सबसे बड़ी समस्या गरीबी, अशिक्षा, बीमारी और वैज्ञानिक उत्पादन की कमी है। इन समस्याओं के समाधान के लिए समाज को मिलकर जुटना होगा, मिलकर प्रयास करना होगा।
    • आज अगर नेताजी देखते कि उनका भारत इतनी बड़ी महामारी से इतनी ताकत के साथ लड़ा है। आज उनका भारत वैक्सीन जैसे आधुनिक वैज्ञानिक समाधान खुद तैयार कर रहा है, तो वो क्या सोचते, जब वो देखते कि भारत वैक्सीन देकर दुनिया के दूसरे देशों की मदद भी कर रहा है तो उनको कितना गर्व होता।
    • उन्होंने कहा कि नेताजी आत्मनिर्भर भारत के सपने के साथ ही सोनार बांग्ला की भी सबसे बड़ी प्रेरणा हैं।
    • जो भूमिका नेताजी ने देश की आजादी में निभाई थी, वही भूमिका पश्चिम बंगाल को आत्मनिर्भर भारत में निभानी है। आत्मनिर्भर भारत का नेतृत्व आत्मनिर्भर बंगाल और सोनार बांग्ला को भी करना है।

    PICS:पीएम मोदी ने नेताजी की 'प्रदर्शनी' का किया उद्घाटन, देखें पराक्रम दिवस की शानदार तस्वीरें

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    highlights of pm modi speech on subhash chandra bose Victoria Memorial West Bengal
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X