• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

स्वास्थ्य मंत्रालय ने राज्यों पर छोड़ा स्कूल खोलने का फैसला, कहा- आप खुद लें इस पर फैसला

|
Google Oneindia News

नई दिल्ली, 28 जुलाई: कोरोना महामारी के आने के बाद बीते साल के मार्च महीने से ही देश के ज्यादातर स्कूल बंद चल रहे हैं। स्कूलों को खोलने को लेकर लगातार अलग-अलग तरह की राय सुनने को मिल रही हैं। कुछ राज्यों में कई शर्तों के साथ स्कूल खुलने भी लगे हैं तो कई जगहों पर स्कूल अभी बंद हैं। इस सबके बीच केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने स्कूल खोलने को लेकर फैसला राज्य सरकारों पर छोड़ दिया है। मंत्रालय ने राज्यों से कहा है कि वे चाहें तो स्कूल खोल सकते हैं।

school

स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से कहा गया है कि कोरोना के मामले कम होने के साथ ही स्कूल खोले जाएं या नहीं, इस पर देश में एक बहस छिड़ी हुई है। केंद्र सरकार ने इस बहस से दूर रहने का फैसला किया है। केंद्र ने स्कूल खोलने पर कोई विचार नहीं किया है। इस फैसले को पूरी तरह से राज्यों पर छोड़ दि गया है। इसके पीछे कारण यह है कि सरकार इस बात को लेकर अनिश्चित है कि आने वाली तीसरी लहर गंभीरता के मामले में कैसी होगी। केंद्र सरकार ने यह भी कहा है कि यह संभावना नहीं है कि मामले बढ़ने पर भी बच्चे गंभीर रूप से प्रभावित होंगे, लेकिन चिंता यह है कि वे बेहद प्रभावी ट्रांसमीटर हो सकते हैं।

बता दें कि कोरोना महामारी की दूसरी लहर के कमजोर के बाद कई राज्‍य स्‍कूल खोलने की तैयारी में जुट गए हैं। हालांकि ज्यादातर राज्य अभी 9वीं से 12 तक की कक्षाएं ही शुरू कर रह हैं। वही 50 फीसदी अटेंडेंस के साथ स्‍कूल खोले जा रहे हैं। इसके अलावा भी कई नियम तय किए गए हैं। पहले की तरह अभी स्कूल कहीं नहीं खुले हैं।

पेगासस मामले पर एकजुट हुआ विपक्ष, 14 दलों ने एक साथ आकर कहा- हम इस मामले पर पीछे हटने वाले नहींपेगासस मामले पर एकजुट हुआ विपक्ष, 14 दलों ने एक साथ आकर कहा- हम इस मामले पर पीछे हटने वाले नहीं

English summary
Health Ministry says States can decide whether to open schools or not
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X