• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

कोरोना के ताबूत में आखिरी कील होगी वैक्सीन,पॉलिटिकल एजेंडे की वजह से किया जा रहा है दुष्प्रचार: हेल्थ मिनिस्टर

|

Health minister Dr Harsh Vardhan Says vaccine is completely safe: देश में 16 जनवरी से कोरोना वैक्सीनेशन अभियान (Corona Vaccination in India) शुरू हो चुका है। जिसके बाद से कोरोना वैक्सीन को लेकर तरह-तरह अफवाह सामने आ रहे हैं। कोरोना वैक्सीन लेने के चार लोगों की मौत के दावे के बाद ये अफवाह और भी बढ़ गई है। हालांकि स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा है कि चार में तीन लोगों की जान वैक्सीन लेने की वजह से नहीं गई है। अब इन सारे मामलों पर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन (Health minister Dr Harsh Vardhan) का बयान सामने आया है। हेल्थ मिनिस्टर हर्षवर्धन ने कहा है कि वैक्सीनेशन कोरोना वायरस के ताबूत में आखिरी कील साबित होगा। उन्होंने ये भी कहा कि पॉलिटिकल एजेंडे की वजह से कोरोना वैक्सीन का दुष्प्रचार किया जा रहा है। हर्षवर्धन ने कहा कि देश में अबतक 8 लाख लोगों को कोरोना वायरस का वैक्सीन लगाया जा चुका है।

    Covid 19 Vaccination : Dr Harhs Vardhan ने वैक्सीन को बताया सुरक्षित,कही ये बात | वनइंडिया हिंदी
    कोरोना वैक्सीन के साइड इफेक्ट पर क्या बोले हेल्थ मिनिस्टर हर्षवर्धन

    कोरोना वैक्सीन के साइड इफेक्ट पर क्या बोले हेल्थ मिनिस्टर हर्षवर्धन

    कोरोना वायरस वैक्सीन को लेकर एक कार्यक्रम में केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ.हर्षवर्धन ने कहा कि 16 जनवरी 2021 से शुरू हुए कोरोना वैक्सीनेशन अभियान के तहत हमारे देश में कल तक करीब 8 लाख लोगों को टीका लग गया है। उनमें से गिनती के लोगों को साइड इफेक्ट हुए हैं जो साधारण तौर पर सामान्य वैक्सीन में होते हैं।

    बता दें कि बुधवार (20 जनवरी) को स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा था कि वैक्सीन के साइड इफेक्ट के तौर पर अभी तक 6 राज्यों में से कुल 10 लोगों को वैक्सीन लगने के बाद अस्पताल में एडमिट करना पड़ा है। हालांकि इसमें से 7 लोगों को डिस्चार्ज किया जा चुका है। वहीं वैक्सीन के प्रतिकूल असर से प्रभावित तीन लोगों को फिलहाल अंडर ऑब्जर्वेशन रखा गया है।

    पॉलिटिकल एजेंडे की वजह से वैक्सीन का हो रहा है दुष्प्रचार: हर्षवर्धन

    पॉलिटिकल एजेंडे की वजह से वैक्सीन का हो रहा है दुष्प्रचार: हर्षवर्धन

    केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ.हर्षवर्धन ने कहा, ''दुर्भाग्य की बात है कि देश में कुछ लोग जानबूझकर केवल राजनीतिक एजेंडे की वजह से वैक्सीनेशन के खिलाफ दुष्प्रचार करते हैं। इससे समाज के एक छोटे वर्ग में वैक्सीन को लेकर झिझक पैदा हुई है।''

    हेल्थ मिनिस्टर हर्षवर्धन ने कहा, ''सरकार चाहती है कि जिन लोगों के मन में दुष्प्रचार के कारण गलतफहमी हुई है, उनको भी वैक्सीन नहीं लेने के कारण कोई नुकसान नहीं होना चाहिए।'' हर्षवर्धन कहा, वैक्सीन के साइड इफेक्ट ( adverse events or side effects) या प्रतिकूल घटनाएं सामने आना आम बात है और इसे किसी भी टीकाकरण के बाद देखा जा सकता है।

    कोरोना वैक्सीन पूरी तरह सुरक्षित है: हर्षवर्धन

    कोरोना वैक्सीन पूरी तरह सुरक्षित है: हर्षवर्धन

    मीडिया को संबोधित करते हुए हेल्थ मिनिस्टर हर्षवर्धन ने साफ-साफ शब्दों में कहा कि कोरोना वैक्सीन पूरी तरह से सुरक्षित और प्रभावी है। भारत में वर्तमान में 30 मिलियन हेल्थकेयर और फ्रंटलाइन श्रमिकों को वैक्सीन लगाए जा रहे हैं। टीकाकरण अभियान कार्यक्रम के दूसरे चरण में 50 साल से अधिक उम्र के 270 मिलियन लोगों को वैक्सीन दी जाएगी। कई मीडिया रिपोर्ट में दावा किया जा रहा है कि प्रधा मंत्री नरेंद्र मोदी भी कोरोना वैक्सीनेशन के दूसरे बैच में टीका लगवाएंगे। टीकाकरण अभियान से जुड़े एक उच्च पदस्थ अधिकारी ने कहा कि फिलहाल किस तारीख को पीएम मोदी को वैक्सीन दी जाएगी, इसकी तारीख का फैसला नहीं किया गया है। भारत ने दो देसी कोरोना वैक्सीन को मंजूरी दी है। कोविशील्ड और कोवैक्सीन।

    ये भी पढ़ें- क्या देश में चार लोगों की मौत कोरोना वैक्सीन लगवाने के बाद हुई?, स्वास्थ्य मंत्रालय ने दिया ये जवाब

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    Health minister Dr Harsh Vardhan Says vaccine is completely safe Vaccination will last nail in coffin of Covid-19
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X