• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

हाथरस पहुंचे जयंत चौधरी पर लाठीचार्ज, बोलीं प्रियंका गांधी-'यूपी सरकार को जनता याद दिलाएगी'

|
Google Oneindia News

नई दिल्ली। यूपी के हाथरस जिले के बुलगढ़ी गांव में हुई दर्दनाक घटना के बाद स्थिति तनावपूर्ण है. शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए गांव को छावनी में तब्दील कर दिया गया है. गांव में पुलिस का सख्त पहरा है, तो वहीं हाथरस की घटना पर राजनीति भी गर्मा गई है, रविवार को राष्ट्रीय लोकदल के उपाध्यक्ष, पूर्व सांसद जयंत चौधरी पर पुलिस ने उस समय लाठीचार्ज कर दिया, जब वो हाथरस में पीड़िता के परिवार से मिलने पहुंचे थे।

जयंत चौधरी पर लाठीचार्ज

जयंत चौधरी पर लाठीचार्ज

प्राप्त जानकारी के मुताबिक पीड़िता के गांव पहुंचे जयंत और उनके साथ आए चार-पांच लोग मीडिया से बात कर रहे थे। तभी अचानक पीछे से पुलिस के जवान आकर लाठी चलाने लगे, ऐसे में कार्यकर्ताओं ने जयंत को घेरे में लेकर किसी तरह पुलिस की लाठियों से बचाया। इस दौरान कार्यकर्ताओं को बुरी तरह से पीटा गया, जबकि लाठीचार्ज और कार्यकर्ताओं को बुरी तरह से पीटे जाने पर जयंत चौधरी ने कहा कि उन पर ही लाठीचार्ज हुआ लेकिन कार्यकर्ताओं ने उनको बचाया।

यह पढ़ें: हाथरस पहुंचे जयंत चौधरी पर लाठीचार्ज, कार्यकर्ताओं ने घेरे में ले किसी तरह बचाया, वीडियोयह पढ़ें: हाथरस पहुंचे जयंत चौधरी पर लाठीचार्ज, कार्यकर्ताओं ने घेरे में ले किसी तरह बचाया, वीडियो

'हाथरस की घटना ने देश को झकझोर दिया है'

'हाथरस की घटना ने देश को झकझोर दिया है'

उनको इसको लेकर शिकायत नहीं है। वो चाहते हैं कि जो हाथरस में गैंगरेप और हत्या का मामला है। उस पर मुख्यमंत्री आदित्यनाथ जवाब दें। जयंत चौधरी ने कहा कि बलरामपुर, बुलंदशहर, हाथरस में जिस तरह से अपराध हो रहे हैं। यह दर्शा रहे हैं कि सरकार का अपराध और अपराधियों पर नियंत्रण नहीं है। हाथरस की घटना ने देश को झकझोर दिया है।

प्रियंका गांधी ने कहा-'यूपी सरकार अहंकारी हो गई है'

प्रियंका गांधी ने कहा-'यूपी सरकार अहंकारी हो गई है'

लाठीचार्ज की इस घटना के बाद एक बार फिर से यूपी पुलिस विरोधियों के निशाने पर आ गई है। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने घटना की निंदा करते हुए ट्वीट किया है कि राष्ट्रीय लोकदल के नेता जयंत चौधरी पर यूपी पुलिस द्वारा किया गया ये व्यवहार बहुत ही निंदनीय है। विपक्षी नेताओं पर इस तरह की हिंसा?, ये यूपी सरकार के अहंकार और सरकार के अराजक हो जाने का सूचक है। शायद ये भूल गए हैं कि हमारा देश एक लोकतंत्र है। जनता इन्हें ये याद दिलाएगी।

प्रियंका गांधी ने भी की थी पीड़िता के परिवार से मुलाकात

प्रियंका गांधी ने भी की थी पीड़िता के परिवार से मुलाकात

मालूम हो कि कांग्रेस सांसद राहुल गांधी और प्रियंका गांधी ने भी शनिवार शाम हाथरस में हैवानियत का शिकार हुई 19 साल की लड़की के परिवारवालों से मुलाकात की थी, राहुल और प्रियंका पीड़िता के परिवार के लोगों के साथ करीब 50 मिनट रहे थे। पीड़िता के गांव से आने के बाद प्रियंका गांधी ने वो पांच सवाल बताए , जिनके जवाब पीड़ित परिवार चाहता है। प्रियंका ने ट्वीट कर ये पांच सवाल लिखे थे।

ये हैं वो पांच सवाल?

ये हैं वो पांच सवाल?

  • सुप्रीम कोर्ट के जरिए पूरे मामले की न्यायिक जांच हो
  • हाथरस DM को सस्पेंड किया जाए और किसी बड़े पद पर नहीं लगाया जाए
  • हमारी बेटी के शव को बगैर हमसे पूछे पेट्रोल से क्यों जलाया गया?
  • हमें बार-बार गुमराह किया, धमकाया क्यों जा रहा है?
  • हम इंसानियत के नाते चिता से फूल चुनकर लाए मगर हमें कैसे माने कि यह शव हमारी बेटी का है भी या नहीं?

ट्वीट के अंत में प्रियंका गांधी ने लिखा था कि इन प्रश्नों के उत्तर पाना इस परिवार का हक है और उप्र सरकार को ये जवाब देना पड़ेगा।

यह पढ़ें: Farm Bill: बोले सीएम खट्टर-'राहुल गांधी के पास कुछ काम है नहीं इसलिए घूमते रहते हैं'यह पढ़ें: Farm Bill: बोले सीएम खट्टर-'राहुल गांधी के पास कुछ काम है नहीं इसलिए घूमते रहते हैं'

English summary
Jayant Chaudhary, others lathi-charged in Hathras, UP Police says 'SP-RLD workers pelted stones'.UP Government arrogant and ruthless said Priyanka Gandhi after Jayant Chaudhary Incident.
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X