• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

हरियाणा में कोवैक्सीन के तीसरे फेज का ट्रायल शुरू, स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज को लगा पहला टीका

|

नई दिल्ली। हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज को शुक्रवार को कोरोना वायरस की वैक्सीन कोवैक्सीन की पहली खुराक दी गई है। अनिल विज को अंबाला कैंट स्थित अस्पताल में कोवैक्सीन का पहला डोज दिया गया। इसके साथ ही हरियाणा में कोवैक्सीन के तीसरे चरण का ट्रायल शुरू हो गया है। तीसरे चरण का पहला टीका अनिल विज को दिया गया है। कोवैक्सीन को भारत बायोटेक बना रही है।

    Corona Vaccine:Haryana में Covaxin के तीसरे फेस का ट्रायल,मंत्री Anil Vij ने ली डोज | वनइंडिया हिंदी
    अनिल विज ने खुद कही थी वालिंटियर बनने की बात

    अनिल विज ने खुद कही थी वालिंटियर बनने की बात

    हरियाणा में भारत बायोटेक की कोवैक्सीन के तीसरे ट्रायल के लिए स्वास्थ्य मंत्री अनिल विजने खुद आगे आकर सबसे पहले खुद पर टीका लगवाने की इच्छा जाहिर की थी। जिसके बाद उनको वालिंटियर के तौर पर चुना गया और आज अंबाला कैंट के सिविल अस्पताल अंबाला कैंट में उनको डोज दी गई। हरियाणा में पीजीआई रोहतक में वैक्सीन का ट्रायल हो रहा है, जहां 200 लोगों को डोज दी जाएगी। पहली खुराक विज को दी गई है, उनके अलावा 199 वाालिंटियर को खुराक दी जाएगी।

    तीन शहरों में तीसरे फेज का ट्रायल शुरू हुआ

    तीन शहरों में तीसरे फेज का ट्रायल शुरू हुआ

    कोवैक्सीन के तीसरे चरण का ट्रायल पीजीआई रोहतक, हैदराबाद और गोवा में शुरू हुआ है। तीनों जगहों पर 200-200 वालंटियर्स को शुक्रवार से वैक्सीन की खुराक दी जाएगी। पहली खुराक के 28 दिन बाद दूसरी खुराक दी जाएगी और 48 दिन बाद वालंटियर्स के शरीर में एंटीबॉडी की जांच की जाएगी। सही नतीजे मिलते हैं तो फिर देश में 21 संस्थानों में 26 हजार वालंटियरों को यह खुराक दी जाएगी। कंपनी का कहना है कि उनको भरोसा है कि वैक्सीन 90 प्रतिशत तक कारगर साबित होगी।

    कोवेक्सीन के पहले दो चरण रहे हैं सफल

    कोवेक्सीन के पहले दो चरण रहे हैं सफल

    भारत बायोटेक ने जानकारी दी है कि वो आईसीएमआर (भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद) के साथ साझेदारी में कोवैक्सीन का तीसरे चरण का परीक्षण भारत में कर रहा है। कंपनी ने बताया है कि वैक्सीन के पहला और दूसरे चरण का परीक्षण और विश्लेषण सफल रहा है और अब तीसरे चरण का परीक्षण शुरु किया जा रहा है। दुनियाभर में जो कंपनियां कोरोना की वैक्सीन बनाने की दौड़ में शामिल हैं, उसमें भारत की कौवेक्सीन का नाम भी अग्रणी है।

    ये भी पढ़ें- कोरोना इफेक्ट: मुंबई में सभी स्कूल 31 दिसंबर तक बंद, 23 नवंबर से थी खोलने की तैयारी

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    Haryana Health Minister Anil Vij being administered trial dose of Covaxin at a hospital in Ambala
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X