• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

कोरोना वैक्सीन की ज्यादा मांग पर स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन बोले- संकीर्ण राजनीतिक धारणा मत बनाइए

|

नई दिल्ली, 14 मई: भारत में कोरोना वैक्सीनेशन अभियान की रफ्तार धीमी पड़ती दिख रही है। राज्यों द्वारा केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार पर वैक्सीन का कोटा बढ़ाने की मांग बढ़ती जा रही है। कई राज्यों ने यह आरोप लगाए हैं कि केंद्र सरकार टीकाकरण अभियान को संभाल नहीं पा रही है और वैक्सीन की आपूर्ति नहीं करवा पा रही है। इस सारे आरोपों पर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने गुरुवार (13 मई) को कहा कि राज्यों द्वारा बार-बार ये कहना कि उन्हें पर्याप्त मात्रा में टीके नहीं मिल रहे हैं, इस तरह के शिकायत से जनता के बीच एक संकीर्ण राजनीतिक धारणा बन जाती है। मेरा अनुरोध है कि ऐसी धारणा ना बनने दें। संकीर्ण राजनीतिक धारणा, कोरोना महामारी से निपटने के लिए सरकार के दृष्टिकोण को नुकसान पहुंचाती है।

Harsh Vardhan

इन राज्यों में वैक्सीन की भारी कमी

    Bharat Biotech Covaxin का फॉर्मूला शेयर करने को राजी, दूर होगी वैक्सीन की किल्लत! | वनइंडिया हिंदी

    यह टिप्पणी तब आई जब केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने महाराष्ट्र, केरल, कर्नाटक, तमिलनाडु, राजस्थान और दिल्ली सहित छह राज्यों के साथ कोविड -19 स्थिति की समीक्षा की। ये सभी राज्य महामारी की दूसरी लहर से बुरी तरह प्रभावित हुए हैं। हर्षवर्धन ने इस बैठक में महाराष्ट्र, केरल, कर्नाटक, तमिलनाडु, राजस्थान और दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्रियों और प्रधान सचिवों या अतिरिक्त मुख्य सचिवों के साथ बातचीत की है।

    18+ वैक्सीनेशन अभियान के बाद राज्यों को हुई टीक की कमी

    बैठक के दौरान सभी राज्यों से एक मांग आम थी कि राज्यों के लिए कोविड-19 वैक्सीन का कोटा बढ़ाया जाए। 1 मई से 18 से 44 वर्ष की आयु के लोगों के लिए टीकाकरण शुरू होने के बाद, राज्यों को टीका की कमी की सूचना दी गई है क्योंकि वर्तमान आपूर्ति 45 वर्ष से अधिक और 18+ वर्ष से कम आयु वर्ग के लिए पर्याप्त नहीं है।

    फिलहाल चूंकि केंद्र सरकार ने राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को 45 से अधिक उम्र की आबादी को वैक्सीनेट करने पर ध्यान केंद्रित करने के लिए कहा है क्योंकि वे अधिक असुरक्षित हैं और उनमें से कई को पहले ही एक खुराक मिल चुकी है। लेकिन दूसरी डोज की कमी हो रही है। फिलहा दिल्ली, महाराष्ट्र, कर्नाटक, राजस्थान सहित राज्यों ने 45 साल से कम उम्र के लोगों के टीकाकरण को रोक दिया है।

    ये भी पढ़ें- ओडिशा की जेलों में कोरोना का प्रकोप, 120 कैदी हुए कोविड संक्रमित, 2 की मौत, 449 पैरोल पर रिहाये भी पढ़ें- ओडिशा की जेलों में कोरोना का प्रकोप, 120 कैदी हुए कोविड संक्रमित, 2 की मौत, 449 पैरोल पर रिहा

    हर्षवर्धन बोले- सरकार वैक्सीन उत्पादन क्षमता बढ़ाने पर कर रही है काम

    स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने कहा कि देश में वैक्सीन उत्पादन क्षमता को बढ़ाया जा रहा है। जो मई के अंत तक पूरा होने की संभावना है। स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने कहा राज्य अपनी आबादी के लिए वैक्सीन खरीदने के लिए अब स्वतंत्र हैं। बैठक में स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने राज्यों को टीके निर्माताओं कंपनियों से सीधे वैक्सीन प्राप्त करने की अनुमति देने की केंद्र की नई रणनीति का उल्लेख किया। हालांकि बैठक में उपस्थित स्वास्थ्य मंत्रियों ने हर्षवर्धन से विदेशी निर्माताओं से वैक्सीन की खरीद के लिए एक आम नीति बनाने का अनुरोध किया है।

    English summary
    Harsh Vardhan says states demanding more Corona vaccines will arouse 'narrow political passion'
    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X