अंधे बैंक कर्मचारी ने शादी के नाम पर 5 महीने तक करता रहा नेत्रहीन विधवा से बलात्‍कार

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

गुड़गांव। गुड़गांव की जिला अदालत ने मंगलवार को अपने आप में एक अनोखे मामले में फैसला सुनाया। कोर्ट ने एक अंधे प्राइवेट बैंक कर्मचारी (ट्रेनी ऑफिसर) को नेत्रहीन महिला से बलात्‍कार का दोषी माना है। इस अंधे बैंक कर्मचारी ने शादी का झांसा देकर कई महीनों से नेत्रहीन महिला का शारीरिक शोषण कर रहा था। कोर्ट अब इस मामले में आने वाली 24 जुलाई को सजा पर फैसला सुनाएगा।

अंधे बैंक कर्मचारी ने शादी के नाम पर 5 महीने तक करता रहा नेत्रहीन विधवा से बलात्‍कार

क्‍या है पूरा मामला

पीडि़ता का उम्र 30 साल है और वो विधवा है। 8 साल की उसकी एक बेटी है। जानकारी के मुताबिक आरोपी दिल्‍ली के मयूर विहार का रहने वाला है और उसका नाम सौरभ कपूर (33) है। ऐडिशनल सेसन जज रजनी यादव ने कॉल डिटेल्‍स, मेडिकल साक्ष्‍य और फॉरेंसिक रिपोर्ट के आधार पर सौरभ को बलात्‍कार का आरोपी ठहराया। हालांकि यह अपने आप में एक बहुत कठिन केस था क्‍योंकि आरोपी और पीडि़ता दोनों पूरी तरह अंधे हैं।

कोर्ट के सामने पीडि़ता ने बताया कि वो दिल्‍ली के जवल पुरी में रहती है। 2005 में उसकी शादी हुई थी और 2014 में वो विधवा हो गई। वो अपने पति की मौत के मामले में एक वकील तलाश रही थी। इसी बीच उसके किसी जानने वाले ने उसकी मुलाकात सौरभ कपूर से करवाई। उसे बताया गया कि सौरभ कपूर एक अच्‍छा वकील तलाशने में उसकी मदद कर सकता है। 30 मई 2015 को वकील से मुलाकात करवाने के नाम पर सौरभ उसे गुड़गांव ले गया। वकील से मिलाने की जगह वो उसे धोखे से एक गेस्‍ट हाउस में ले गया और बलात्‍कार किया।।

चिल्‍लाने पर कर डाला शादी का वादा

महिला ने कोर्ट को बताया कि जब उसने शोर मचाया तो सौरभ ने उससे शादी करने का वादा किया। उसके बाद पांच महीने तक शादी के नाम पर सौरभ ने महिला का शारीरिक शोषण किया। इस दौरान बीच-बीच में वो महिला से पैसे भी लेता रहा। कुछ दिनों बाद सौरभ ने अचानक शादी से इंकार कर दिया। 2015 अक्‍टूबर में पीडि़ता सौरभ के घर पहुंची। उसके बाद एक एनजीओ की मदद से उसने पुलिस में शिकायत दर्ज करवाया।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
In a one of its kind case, a blind banker (trainee officer with public sector bank) was held guilty by district court of Gurgaon on Tuesday for raping a blind woman on pretext of marriage. Court will pronounce quantum of punishment on July 24.
Please Wait while comments are loading...