• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

सैनिक की विधवा किसी से शादी करे, भत्ता जारी रहेगा- रक्षा मंत्री

By Vikashraj Tiwari
|
Google Oneindia News

नई दिल्ली। रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण सैनिकों की विधवाओं को दिए जाने वाले भत्ते के नियम में कुछ बदलाव किया है। रक्षा मंत्री ने बताया कि वीर सैनिकों की विधवाओं को दिए जाने वाले भत्ते को जारी रखने के लिए पति के भाई के साथ विवाह की शर्त हटाने के लिए कई अनुरोध मिले थे। इस मुद्दे पर सरकार ने विचार किया। अब भत्ते को जारी रखने के लिए पति के भाई से विवाह की शर्त को हटाने का फैसला लिया गया है। इसके लिए 16 नवंबर को पत्र जारी कर दिया गया है। इसके मुताबिक, भत्ता पहले तो वीरता पुरस्कार के प्राप्तकर्ता को मिलेगा। उसकी मृत्यु के बाद उसकी कानूनी रूप से विवाहित रही विधवा को भत्ता मिलेगा, जिसे उसकी मृत्यु तक भत्ता मिलता रहेगा।

सैनिक की विधवा किसी से शादी करे, भत्ता जारी रहेगा- रक्षा मंत्री

अभी तक दिवंगत पति के भाई से शादी करने पर ही यह भत्ता जारी रखा जाता था। सरकार ने बताया है कि वीरता पुरस्कार पाने वाले भत्ते के हकदार होते हैं, जिसके लिए रक्षा मंत्रालय ने 1972 में एक पत्र जारी किया था। मंत्रालय ने 1995 में एक और पत्र जारी किया, जिसे समय-समय पर संशोधित किया गया। अब तक की शर्त के अनुसार, भत्ता खुद पुरस्कार पाने वाले को दिया जाएगा और उसकी मौत के बाद यह भत्ता उसकी विधवा को दिया जाएगा।

यह पत्नी कानूनी तौर पर विवाहित होनी चाहिए। विधवा की फिर से शादी होने या मौत तक यह भत्ता जारी रहता है। भत्ते का भुगतान उस विधवा के लिए जारी रखा जाता है, जो दिवंगत पति के भाई से फिर से शादी कर लेती है।

शीतकालीन सत्र: ट्रिपल तलाक को खत्म करने के लिए बिल ला सकती है सरकारशीतकालीन सत्र: ट्रिपल तलाक को खत्म करने के लिए बिल ला सकती है सरकार

English summary
Govt removes norm restricting allowance to widow of gallantry Awardee
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X