• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

सरकार ने जताई जून से मौतों की संख्या में कमी आने व वैक्सीन की सप्लाई बढ़ने से टीकाकरण में तेजी आने की उम्मीद

|
Google Oneindia News

नई दिल्ली, 19 मई। भारत सरकार ने जून से कोरोना से होने वाली मौतों की संख्या में कमी आने की उम्मीद जताई है। इसके अलावा सरकार ने कहा है कि अगले महीने से वैक्सीन की सप्लाई भी बढ़ जाएगी इसलिए दैनिक टीकाकरण की संख्या में भी तेजी आएगी। केंद्र सरकार ने आगे कहा कि यदि स्थिति बेहतर होती है तो अगले महीने से विभिन्न राज्यों में लगे लॉकडाउन में ढील दी जा सकती है।

    Coronavirus 3rd Wave: IMA ने बताया कोरोना की तीसरी लहर रोकने का उपाय | वनइंडिया हिंदी
    कम हुए कोरोना के मामले

    कम हुए कोरोना के मामले

    बता दें कि भारत में 7 मई के बाद से कोरोना के दैनिक मामलों में लगातार कमी दर्ज की गई है। 18 मई को दैनिक मामले 4.14 लाख से घटकर 2.63 लाख पर आ गए। वहीं पिछले सात दिनों में कोरोना की वृद्धि दर माइनस 3.1 प्रतिशत के बीच रही है।

    दैनिक मौतों के मामले में कोई राहत नहीं

    दैनिक मौतों के मामले में कोई राहत नहीं

    भारत में कोरोना के दैनिक मामलों में भले ही कमी देखने को मिली हो, लेकिन दैनिक मौतों के मामले में कोई कमी नहीं आई है। इसके उलट 18 मई को भारत में कोरोना से एक दिन में सर्वाधिक मौतें (4329) दर्ज हुईं। इससे पहले कोरोना से होने वाली दैनिक मौतों की अधिकतम संख्या 4205 थी जो कि 12 मई को हुई थीं। वहीं पिछले सात दिनों में कोरोना से होनी वाली मौतों की विकास दर 1.6 प्रतिशत हो गई है।मौतों के मामले पर सरकार के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, 'ताजा संक्रमण की पीक और मौतों की पीक के बीच 15-20 दिनों के अंतराल को देखते हुए मौतें अधिक हैं। अभी जो मौतों हो रही हैं वो मुख्य रूप से उन लोगों की है जो दो सप्ताह पहले संक्रमित हुए थे जब नए दैनिक मामले अपने पीक पर थे। हम उम्मीद करते हैं कि जून की शुरूआत तक दैनिक मौतों की संख्या में कमी आएगी क्योंकि दैनिक मामले कम हो रहे हैं।'

    जून से टीकाकरण होगा तेज

    जून से टीकाकरण होगा तेज

    केंद्र सरकार ने अगले माह से दैनिक टीकाकरण में तेजी आने की उम्मीद जताई है। सरकार का कहना है कि सीरम इंस्टीट्यूट और भारत बायोटेक ने अपना उत्पादन बढ़ा दिया है और अगले माह से ये दैनिक आधार पर लगभग 25 लाख से अधिक वैक्सीन की सप्लाई करेंगे। इसके अलावा सरकार का कहना है कि अगले माह से विभिन्न राज्यों में लगाए गए लॉकडाउन में भी ढील दी जा सकती है क्योंकि लॉकडाउन के कारण लोग वैक्सीन लगवाने के लिए घरों से बाहर नहीं निकल रहे हैं।

    15 मई को स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने 4 राज्यों के मंत्रियों से बात की थी। इस दौरान उन्होंने कहा था कि वर्तमान में दैनिक टीकाकरण की संख्या 20-25 लाख है जो कि बेहद कम है और इसे बढ़ाने की जरूरत है। इसके बावजूद 17 और 18 मई को क्रमश: 15.1 लाख और 12.8 लाख लोगों का ही टीकाकरण हुआ।

    वहीं, कोरोना से बुरी तरह प्रभावित हुए महाराष्ट्र और गुजरात में तूफान तौकते के कारण टीकाकरण प्रभावित हुआ है।राजस्थान देश का पहला ऐसा राज्य बन गया है जहां 18-44 साल की उम्र के 10 लाख लोगों का वैक्सीनेशन हुआ है, इसके बाद 8.7 लाख टीकाकरण के साथ बिहार, दिल्ली (7.8 लाख), यूपी (6.8 लाख) और हरियाणा (5.5 लाख) टीकाकरण के साथ दूसरे, तीसरे, चौथे और पांचवें स्थान पर हैं। सरकार के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि इन पांच राज्यों ने दोनों वैक्सीन निर्मातों को वैक्सीन की आपूर्ति के लिए त्वरित ऑर्डर दिये हैं इसलिए अगले महीने इन्हें वैक्सीन की सप्लाई अन्य राज्यों के मुकाबले जल्द होगी।

    English summary
    government said that with the increase in vaccine supply from June, vaccination is expected to accelerate
    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X