• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

जानें कौन थीं भारत की पहली महिला डॉक्टर कादंबिनी गांगुली, जिनपर गूगल ने बनाया खास डूडल

|
Google Oneindia News

नई दिल्ली, 18 जुलाई: गूगल डूडल ने आज (रविवार 18 जुलाई) को भारत की पहली महिला डॉक्टरों में से एक कादंबिनी गांगुली के 160वें जन्मदिन पर उनको याद किया है। भारत की पहली महिला डॉक्टर कादंबिनी गांगुली के लिए गूगल ने खास डूडल बनाया है और उनकी उपलब्धियों को सम्मान दिया है। इस खास डूडल को बेंगलुरु के आर्टिस्ट ने बनाया है। कादंबिनी गांगुली का जन्म 18 जुलाई 1861 को भागलपुर ब्रिटिश भारत में हुआ था। कादंबिनी 1884 में कलकत्ता मेडिकल कॉलेज में प्रवेश लेने वाली पहली महिला थीं, जो उस वक्त की एक असाधारण उपलब्धि थी क्योंकि उस समय मेडिकल संस्थान में एडमिशन लेने वाले सभी लोग पुरुष होते थे। भारत की पहली महिला डॉक्टर होने के अलावा कादंबिनी गांगुली मुखर कार्यकर्ता और स्वतंत्रता सेनानी भी थीं।

    Google Doodle: India की पहली महिला Doctor के Birthday पर गूगल ने बनाया खास डूडल | वनइंडिया हिंदी
    Kadambini Ganguly

    जानिए कादंबिनी गांगुली के बारे में?

    -कादंबिनी गांगुली के पिता भारत के पहले महिला अधिकार संगठन के सह-संस्थापक थे। कादंबिनी गांगुली ने अपनी साथी चंद्रमुखी बसुइन के साथ इतिहास में स्नातक करने वाली पहली महिला बनी थीं।

    -कादंबिनी गांगुली ने मुंबई की रहने वाली आनंदीबाई जोशी जैसी अन्य महिला डॉक्टरों के साथ-साथ महिलाओं के लिए भारत में एक सफल चिकित्सा पद्धति का बीड़ा उठाया था। कादंबिनी गांगुली और आनंदीबाई जोशी दोनों ने 1886 में मेडिकल में अपनी डिग्री ली थी। फर्क सिर्फ इतना था कि कादंबिनी गांगुली ने कलकत्ता मेडिकल कॉलेज से स्नातक की उपाधि ली थी। वहीं आनंदीबाई जोशी ने अमेरिका के पेंसिल्वेनिया के महिला मेडिकल कॉलेज से अपनी डिग्री ली थी। हालांकि आनंदीबाई जोशी का करियर काफी छोटा था। 1887 की शुरुआत में 21 साल की उम्र में उनकी असामयिक मृत्यु हो गई थी।

    - कादंबिनी गांगुली 1886 में दक्षिण एशिया में यूरोपीय चिकित्सा में शिक्षा लेने वाली पहली महिला डॉक्टर बनीं। ठीक इसके 3 साल बाद कादंबिनी गांगुली ने भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के सत्र के मंच पर आने वाली पहली महिला थीं।

    - 1892 में कादंबिनी गांगुली यूनाइटेड किंगडम (यूके) गईं और डबलिन, ग्लासगो और एडिनबर्ग से आगे की ट्रेनिंग ली। वहां से लौटने के बाद कादंबिनी गांगुली स्त्री रोग विशेषज्ञ के रूप में अपना करियर शुरू किया और कलकत्ता के लेडी डफरिन अस्पताल में काम करने लगीं। कलकत्ता के इस अस्पताल में कादंबिनी गांगुली ने अपने अंतिम दिनों तक प्रैक्टिक्स जारी रखा। 3 अक्टूबर 1923 को कादंबिनी गांगुली का निधन हो गया था।

    ये भी पढ़ें- इटली की वैज्ञानिक मार्गेरिटा हैक का 99वां जन्मदिन, गूगल ने विशेष डूडल के जरिए किया यादये भी पढ़ें- इटली की वैज्ञानिक मार्गेरिटा हैक का 99वां जन्मदिन, गूगल ने विशेष डूडल के जरिए किया याद

    - कादंबिनी गांगुली प्रमुख ब्रह्म समाज नेता द्वारकानाथ गांगुली की दूसरी पत्नी थीं। द्वारकानाथ गांगुली की पहली पत्नी निधन शादी के कुछ सालों बाद ही हो गया था।

    English summary
    Google doodle celebrates 160th birthday of Kadambini Ganguly one of India's first female doctors
    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X