• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

जेएनयू हिंसा: व्हाट्सएप ग्रुप के चैट की दिल्ली पुलिस ने मांगी जानकारी, गूगल ने कहा- कोर्ट ऑर्डर लेकर लाइए

|
Google Oneindia News

नई दिल्ली, 16 जून। दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने गूगल को पत्र लिखकर 33 लोगों के बारे में जानकारी मांगी थी। ये वो 33 लोग हैं जिन्होंने व्हाट्सएप के दो ग्रुप में जनवरी 2020 में जेएनयू हिंसा के दौरान आपस में चैट की थी। लेकिन दिल्ली पुलिस के इस पत्र के जवाब में गूगल की ओर से कहा गया है कि वह ये जानकारी तभी साझा कर सकती है जब पुलिस कोर्ट का आदेश लेकर आए। बता दें कि पिछले साल 5 जनवरी को तकरीबन 100 लोग मुंह ढक कर जेएनयू के भीतर घुसे थे और इन लोगों ने तकरीबन चार घंटे तक यूनिवर्सिटी के भीतर मारपीट की थी। इस दौरान हुई हिंसा में 36 लोग घायल हुए थे, जिसमे छात्र, शिक्षक और स्टाफ के लोग शामिल थे। जिसके बाद इस मामले में एफआईआर दर्ज की गई थी। जिसकी जांच दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच को सौंप दी गई थी।

    JNU Violence के दौरान ग्रुप Chat की जानकारी देने से Google का इनकार | वनइंडिया हिंदी

    jnu

    इसे भी पढ़ें- इनकम टैक्स के नए पोर्टल में खामियां, वित्त मंत्रालय के अधिकारियों की इंफोसिस की टीम संग बैठकइसे भी पढ़ें- इनकम टैक्स के नए पोर्टल में खामियां, वित्त मंत्रालय के अधिकारियों की इंफोसिस की टीम संग बैठक

    पुलिस ने व्हाट्सएप और गूगल को पत्र लिखकर दो व्हाट्सएप ग्रुप यूनिटी अगेंस्ट लेफ्ट, फ्रैंड्स ऑफ आरएसएस के 33 सदस्यों की बातचीत, तस्वीर और साझा वीडियो की जानकारी मांगी थी। व्हाट्सएप की ओर से यह जानकारी देने से इनकार कर दिया गया तो गूगल ने अपने जवाब में कहा कि वह जानकारी को तभी साझा करेंगे जब कोर्ट से ऑर्डर लेकर आएंगे। पुलिस की ओर से व्हाट्सएप ग्रुप के 33 सदस्यों के इमेल एड्रेस को साझा किया है। पिछले साल 6 जनवरी को दिल्ली पुलिस ने 9 संदिग्ध लोगों के नाम जारी किए थे, ये सभी छात्र थे, जिसमे से 7 लोगों की पहचान लेफ्ट स्टूडेंट के रूप में हुई थी। जबकि दो लोग आरएसएस की छात्र संगठन के थे। हालांकि पुलिस ने इन दोनों संगठन के नाम जारी नहीं किए हैं। मामले की जांच के लिए 20 पुलिस कर्मियों की एक टीम का गठन किया गया था। पुलिस ने दिल्ली विश्वविद्यालय की छात्र कोमल शर्मा से पूछताछ की थी, जिन्होंने दावा किया था कि वह हिंसा के दौरान यूनिवर्सिटी में मौजूद नहीं थीं।

    English summary
    Google asks Delhi police to bring court order to get JNU clash chat detail
    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X