• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

Good News: अब अस्पताल में भर्ती कोरोना मरीज भी स्मार्टफोन और टैबलेट कर सकेंगे यूज!

|
Google Oneindia News

नई दिल्ली। कोरोना काल में अस्पतालों में लंबे समय तक रह रहे मरीजों को राहत प्रदान करते हुए केंद्र सरकार ने सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को अस्पताल में भर्ती COVID-19 रोगियों के लिए स्मार्टफ़ोन और टैबलेट जैसे डिवाइसेज की अनुमति देने की बात कही है। केंद्र का मानना है कि वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए मरीज अपने परिवार और दोस्तों के साथ बातचीत कर सकेंगे। इस कदम से मरीजों को अवसाद से दूर और उनका मानसिक स्वास्थ्य दृढ़ हो सकेगा।

phone

मोदी संकल्पः 'अयोध्या तभी वापस आऊंगा जब राम मंदिर का निर्माण शुरू होगा' 29 वर्ष बाद खत्म हुआ इंतजार

लंबे समय तक भर्ती मरीजों में अवसाद और इंजाइटी कॉमन है

लंबे समय तक भर्ती मरीजों में अवसाद और इंजाइटी कॉमन है

राज्यों को लिखे पत्र में केंद्र ने कहा है कि अस्पताल में लंबे समय तक कैद मरीजों में अवसाद और इंजाइटी होना कॉमन है और स्मार्टफोन्स के उपयोग से अपने परिवारों के संपर्क में रहकर मरीजों को मनोवैज्ञानिक समर्थन मिलेगा। हालांकि अस्पताल के वार्डों में मोबाइल फोन की अनुमति है, लेकिन कई रोगियों के परिजनों की ओर से ऐसा नहीं होने का आरोप लगाए जाने के बाद केंद्र ने यह संदेश सभी राज्यों को जारी किया है।

सामाजिक संपर्क मरीज को शांत रखने में मददगार हो सकते हैं

सामाजिक संपर्क मरीज को शांत रखने में मददगार हो सकते हैं

उन्होंने जोर दिया कि एडमिनिस्ट्रेटिव व मेडिकल टीम्स को विभिन्न अस्पतालों के कोविड19 वार्ड या आईसीयू में भर्ती मरीजों की साइकोलॉजिकल जरूरतों को लेकर उत्तरदायी होना चाहिए। लेटर में कहा गया है कि सामाजिक संपर्क मरीज को शांत रख सकता है और उनका इलाज कर रही टीम द्वारा दिए जाने वाले साइकोलॉजिकल सपोर्ट को मजबूत कर सकता है।

मरीजों के लिए अस्पताल निर्धारित कर सकते हैं टाइम स्लॉट

मरीजों के लिए अस्पताल निर्धारित कर सकते हैं टाइम स्लॉट

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय में स्वास्थ्य मंत्रालय महानिदेशक (DGHS) डॉ राजीव गर्ग द्वारा राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के स्वास्थ्य और चिकित्सा शिक्षा के प्रमुख सचिवों को लिखे पत्र में कहा गया है कि उपकरणों के कीटाणुरहित करने और रोगियों को उनके परिवार के बीच संपर्क स्थापित करने के लिए एक टाइमस्लॉट देने के लिए उचित प्रोटोकॉल अस्पताल की ओर से विकसित किए जा सकते हैं।

मरीजों की मनोवैज्ञानिक जरूरतों पर दिया गया है जोर

मरीजों की मनोवैज्ञानिक जरूरतों पर दिया गया है जोर

स्वास्थ्य मंत्रालय महानिदेशक (DGHS) डॉ राजीव गर्ग का कहना है इन कदमों के जरिए अस्पताल में भर्ती मरीजों को राहत मिलेगी। उन्होंने जोर दिया कि COVID-19 वार्डों और विभिन्न अस्पतालों के ICU में भर्ती मरीजों की मनोवैज्ञानिक जरूरतों के लिए प्रशासनिक और चिकित्सा दल को उत्तरदायी होना चाहिए।

देश में कोरोनावायरस की रफ्तार तेजी से आगे बढ़ रही है, बढ़ा है केसलोड

देश में कोरोनावायरस की रफ्तार तेजी से आगे बढ़ रही है, बढ़ा है केसलोड

देश में कोरोनावायरस की रफ्तार तेजी से आगे बढ़ रही है। देश में कोरोना संक्रमित मरीजों ने बढ़कर 18 लाख से अधिक पहुंच चुकी है। पिछले 3-4 दिनों से प्रतिदिन 24 घंटे में देश में कोरोना के 51000-57000 से अधिक नए मामले सामने आ चुके हैं। नए केस मिलने के बाद देश में अब तक कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या देश में 18 लाख 22 हजार 112 हो गई है।

भारत में 38,000 से अधिक संक्रमित मरीजों की मौत हो चुकी है

भारत में 38,000 से अधिक संक्रमित मरीजों की मौत हो चुकी है

स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से जारी रविवार के आंकड़ों के मुताबिक, पिछले 24 घंटों में 54 हजार 735 मरीज बढ़े हैं और 853 लोगों की मौत हुई थी। अब तक भारत में 38,000 से अधिक संक्रमित मरीजों की मौत हो चुकी है। शुक्रवार को 57, 118 केस सामने आए थे और 764 लोगों की मौत हुई थी। हालांकि सुखद बात यह है कि भारत में कोरोना संक्रमित मरीजों की रिकवरी रेट दिनोंदिन बेहतर हो रही है।

English summary
Providing relief to patients staying in hospitals for a long time during the Corona period, the central government has asked all states and union territories to allow devices such as smartphones and tablets for hospitalized COVID-19 patients. The center believes that through video conferencing, patients will be able to interact with their family and friends. This step can help patients overcome depression and strengthen their mental health.
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X