सेना ने सरकार से कहा कश्‍मीर में डर के काम नहीं कर सकते, दी जाए पूरी छूट

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्‍ली। कश्‍मीर के हालातों का सामना करती भारतीय सेना ने केंद्र सरकार से अपील की है कि उसे कश्‍मीर के हालातों को सामान्‍य करने के लिए अफस्‍पा यानी आर्म्‍ड फोर्सेज स्‍पेशल पावर एक्‍ट में पूरी ताकत दी जाए। सेना ने अपील की है कि उसे केंद्रीय सशस्‍त्र पुलिस बल (सीएपीएफ) पर पूरी अथॉरिटी दी जाए। इसके अलावा सेना ने कहा है कि सोशल मीडिया पर एक सकारात्‍मक प्रोग्राम चलाए जाए और साथ ही अफस्‍पा के तहत उसे पूरी छूट दी जाए।

सेना ने सरकार से कहा कश्‍मीर में डर के काम नहीं कर सकते, दी जाए पूरी छूट

सेना का प्रभाव कम करने की कोशिश

सेना की ओर से सरकार के सामने इस बात की वकालत की है कि सोशल मीडिया के जरिए लोगों तक पहुंच बनाना आज के दौर की सबसे बड़ी जरूरत है। इसकी वजह से घाटी के युवाओं पर एक सकारात्‍मक प्रभाव होगा। सेना ने साथ ही यह भी कहा है कि पूरी घाटी में समस्‍या नहीं है बल्कि कश्‍मीर के सिर्फ पांच जिले ही ऐसे जिन्‍होंने सबसे ज्‍यादा परेशानियां पैदा की है। सेना की मांग है कि सीएपीएफ पर पूरा नियंत्रण सबसे ज्‍यादा जरूरी है ताकि सेनाओं की सुरक्षा हो सके। केंद्रीय बल को कुछ पत्‍थरबाज निशाना बना रहे हैं और घाटी में इस समय कुछ युवा इस फोर्स के प्रभाव को कम करने की कोशिशों में लगे हैं और सेना का कहना है कि इसे रोकना सबसे जरूरी है।

डर में काम नहीं कर सकती है सेना

सेना चाहती है कि वह उन सभी लोगों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करे जो सरकार की संपत्तियों को नुकसान पहुंचाने में लगे हुए हैं। ऐसे लोगों को सिर्फ जेल में बंद करने से कुछ नहीं होगा। इन लोगों पर कुछ तय कानूनों के तहत केस दर्ज करना सबसे अहम है। सेना ने सरकार को साफ कर दिया है कि वह इस डर में काम नहीं कर सकती है कि उसे पुलिस की तरफ से कई वर्षों तक चलने वाली जांच के समन भेजा जा सकता है। सेना ने सरकार को साफ कर दिया है कि अफस्‍पा आज के हालातों में सबसे अहम है जिसे संयम के साथ प्रयोग किया जाएगा और उन हालातों में प्रयोग किया जाएगा जहां पर यह सबसे ज्‍यादा जरूरी है।

देश-दुनिया की तबरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
The Army has also called for strict action against those who have been damaging government property in the Valley.
Please Wait while comments are loading...