युवती को नौकरी का झांसा देकर घर ले गया कहा- धंधे के लिए तैयार हो जाओ, नहीं मानी तो हुआ गैंगरेप

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

वाराणसी। नौकरी की तलाश में वाराणसी आई एक युवती के साथ कुछ ऐसा हुआ जिसे जानकर आपके रौंगटे खड़े हो जाएंगे। वो अबतक इंसाफ के लिए कानून की चौखट पर चप्‍पलें घिस रही है। दरअसल हुआ यह कि नौकरी का झांसा देकर युवती को पति-पत्‍नी घर ले गए। वहां पति ने अपने एक दोस्‍त के साथ मिलकर उसका रेप किया। इतना ही नहीं युवती को जिस्‍मफरोशी के दलदल में धकेलने की कोशिश भी की गई। वहीं पुलिस का कहना है कि इस संबंध में मुकदमा दर्ज कर लिया गया है और मामले की छानबीन कर रही है। पुलिस का कहना है कि मुकदमा दर्ज होने के बाद से आरोपी फरार है और बहुत जल्‍द उनकी गिरफ्तारी हो सकती है।

क्‍या है पूरा मामला

क्‍या है पूरा मामला

पीडि़ता के मुताबिक बीते 1 अक्‍टूबर को वो नौकरी की तलाश में वाराणसी आई थी। दिन भर भटकने के बाद जब उसे काम नहीं मिला तो वो शाम को बस स्‍टैंड आ गई और घर जाने के लिए बस का इंतजार करने लगी। इसी दौरान कार से महिला निम्मी और उसका पति मनोज जायसवाल आए, उन्होंने कहा- बहुत परेशान हो बेटी, क्या बात है।

काम के नाम पर घर ले आए

काम के नाम पर घर ले आए

पीडि़ता के मुताबिक तकलीफ सुनने के बाद उन लोगों ने मुझे काम दिलवाने की वादा किया। मनोज ने पूछा कि खाना बना लेती हो तो तुम्‍हें 12 हजार रुपए का काम आसानी से मिल जाएगा। मनोज ने कहा कि तुम्‍हें मेरे दोस्‍त के घर पर खाना बनाने और घर संभालने का काम करना होगा। मैं राजी हो गई तो वो कार से ही मुझे घर लेकर आए। पीडि़ता के मुताबिक जहां उसे रखा गया था वहां से लड़के और लड़कियों की अश्‍लील अवाजें आती रहती थीं।

मुझे जिस्‍मफरोशी के लिए कहा गया

मुझे जिस्‍मफरोशी के लिए कहा गया

पीडि़ता ने बताया कि 3 अक्‍टूबर को घर पर मनोज का दोस्‍त संदीप आया। उसने मुझे जिस्‍मफरोशी के लिए तैयार होने कहा। पीडि़ता के मुताबिक संदीप ने उससे कहा कि तैयार हो जाओ क्‍योंकि इस काम में तुम्‍हें 10 से 12 हजार रुपए रोज मिल जाएंगे। बस ग्राहकों को खुश और संतुष्‍ट करना होगा। मना करने पर मारपीट की और रात में मनोज और संदीप ने बारी-बारी से मेरा रेप किया। इसका उन्होंने वीडि‍यो भी बनाया।

चकमा देकर भागी और पुलिस को बताया

चकमा देकर भागी और पुलिस को बताया

पीडि़ता ने बताया कि 5 अक्‍टूबर मनोज और संदीप नशे की हालत में घर पर आए। उन लोगों ने दरवाजा लॉक नहीं किया जिसका फायदा उठाकर मैं वहां से भाग गई। पीडि़ता ने बताया कि तबसे थाने के चक्‍कर लगा रही हूं। 16 अक्‍टूबर को मुकदमा दर्ज हुआ लेकिन अबतक कोई कार्रवाई नहीं हुई।

Read Also- 18 की उम्र में हुआ रेप तो बन गई सेक्‍स वर्कर, बोली- मर्द सिर्फ सेक्‍स के लिए नहीं आते

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Girl gang-raped in Varanasi on pretext of job.
Please Wait while comments are loading...