• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

ममता से गडकरी ने किया सवाल श्यामा प्रसाद मुखर्जी का जन्म पश्चिम बंगाल में हुआ था, फिर हम बाहरी कैसे?

|

कोलकाता। पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव को लेकर टीएमसी और भाजपा के बीच जमकर चुनावी जंग अब तेज हो चुकी है। तृणमूल कांग्रेस पार्टी सुप्रीमों ममता बनर्जी भाजपा पर लगातार हमले कर रहीं है। टीएमसी विधानसभा चुनाव से पहले बंगाल में भाजपा को एक बाहरी पार्टी करार देते हुए इसे ब्रांड बनाने की कोशिश कर रही है। वहीं टीएमसी की इस कोशिश पर अब केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने करारा जवाब दिया है।

 Nitin Gadkari

पश्चिम बंगाल के जॉयपुर में एक रैली के दौरान नितिन गडकरी ने कहा ममता जी कहती हैं कि हम (भाजपा) बाहरी हैं। बीजेपी का गठन जनसंघ की विचारधारा के आधार पर किया गया था, जिसके संस्थापक और हमारे प्रेरणास्त्रोत श्यामा प्रसाद मुखर्जी हैं और जिनका जन्म पश्चिम बंगाल में हुआ था, फिर हम बाहरी कैसे हैं? गडकरी ने कहा यह पोल भाजपा, टीएमसी, कांग्रेस, सीपीएम के भविष्य के बारे में नहीं है और न ही यह मोदी, अमित शाह, नड्डा, राहुल गांधी या ममता बनर्जी के भविष्य के बारे में है। यह बंगाल के लोगों के भविष्य के बारे में है। हम बंगाल की छवि को बदलना चाहते हैं और भारत को नंबर 1 महाशक्ति बनाना चाहते हैं।

क्या आरजेडी, एसपी बंगाल से हैं?
बता दें बंगाल में सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) ने भगवा पार्टी एक "बाहरी व्यक्ति" है इसका प्रचार कर रही है वहीं पश्चिम बंगाल भारतीय जनता पार्टी ने जवाबी हमला करते हुए ममता बनर्जी से सवाल किया है कि क्या आरजेडी, एसपी बंगाल से है? हिंदी भाषी राज्‍यों के दो युवा नेता अखिलेश यादव और तेजस्वी यादव ने पश्चिम बंगाल में आगामी विधानसभा चुनाव के लिए मुख्यमंत्री ममता बनर्जी का सपोर्ट कर रहे हैं।, राजद नेता तेजस्वी यादव ने सोमवार शाम को नबन्ना के कार्यालय में बनर्जी से मुलाकात की, वहीं समाजवादी पार्टी के प्रमुख अखिलेश यादव ने भी उनका समर्थन किया है। जिस पर सवाल उठाते हुए पूछा है बीजेपी की बंगाल इकाई ने बुधवार को ट्वीट किया,कि "आपके अनुसार भाजपा बाहरी है, लेकिन क्या आरजेडी, एसपी और एनसीपी, जो बंगाल से आपको समर्थन दे रहे हैं? पीशी (चाची) आपकी एकमात्र समस्या मोदी है और यह हर कोई जानता है।

भाजपा से भयभीत है टीएमसी
इससे पहले फरवरी में राजद के राष्ट्रीय महासचिव श्याम रजक ने ममता बनर्जी के भतीजे और टीएमसी सांसद अभिषेक बनर्जी से कोलकाता में मुलाकात की, जबकि टीएमसी सांसद सौगत रॉय ने दिल्ली में राकांपा के शरद पवार के साथ बातचीत की। उन्होंने कहा, 'मुख्यमंत्री और उनके भतीजे भाजपा को बाहरी व्यक्ति कहते रहे हैं। लेकिन अब वे भाजपा से मुकाबला करने के लिए अन्य दलों को बंगाल में आमंत्रित कर रहे हैं। क्या वे बाहरी नहीं हैं? दरअसल टीएमसी डरती है और अच्छी तरह जानती है कि वह इस चुनाव को हारने वाली है।TMC भाजपा पर अपने हमले को तेज कर दी है और बंगाल में एक बाहरी व्यक्ति के रूप में इसे ब्रांड बनाने की कोशिश कर रही है। टीएमसी सुप्रीमो ममता बनर्जी, उनके भतीजे अभिषेक बनर्जी और पार्टी के शीर्ष नेता इस मोर्चे पर हर मौके पर भाजपा और उसके केंद्रीय नेताओं को निशाना साधते रहे हैं।

टीएमसी ने महिला वोटर को साधने के लिए लांच किया ये अभियान
टीएमसी प्रमुख ने हाल ही में कहा, "गुजरात के लोग बंगाल पर शासन नहीं करेंगे, तृणमूल कांग्रेस बंगाल पर शासन करेगी।" महिला मतदाताओं को साधने के लिए और भाजपा को बाहरी बताने के लिए TMC ने हाल ही में अपना मुख्य अभियान नारा ---'Bangla Nijer Meyekei Chay''(बंगाल अपनी बेटी चाहता है) लॉन्च किया। राजनीतिक विश्लेषक ने सुभमॉय मैत्रा ने एचटी को दिए साक्षात्‍कार में कहा कि इस अभियान से एक ओर टीएमसी महिला मतदाताओं को लक्षित करना चाहती है, वहीं यह भाजपा को एक बाहरी व्यक्ति के रूप में पेश करना चाहती है जिसमें कहा गया है कि बंगाल केवल अपनी बेटी चाहता है।"

ममता बनर्जी बंगाल की बेटी हैं
टीएमसी ने भाजपा के पलटवार को यह कहते हुए खारिज कर दिया है कि भगवा पार्टी के विपरीत उनकी पार्टी में "बाहरी" लोगों का तो नेतृत्व है और ना ही नियंत्रित है। उन्होंने कहा, 'अन्य दलों ने सिर्फ अपना समर्थन दिया है। वे न हमारे लिए प्रचार करने जा रहे हैं और न ही हमारी अगुवाई कर रहे हैं लेकिन बीजेपी का नियंत्रण ऐसे लोगों के हाथों में है जो बंगाल से नहीं हैं। वे दूसरे राज्यों से हैं और बाहरी हैं। टीएमसी ने कहा नरेंद्र मोदी, अमित शाह और विजयवर्गीय बंगाल के नहीं हैं। ममता बनर्जी बंगाल की बेटी हैं।

भाजपा ने जीत के लिए रखा ये लक्ष्‍य
गौरतलब है कि पश्चिम बंगाल में चुनाव 27 मार्च से शुरू होने वाले आठ चरणों में होंगे। भाजपा ने 2019 के लोकसभा चुनावों में 42 सीटों में से 18 सीटों पर जीत हासिल की थी वहीं इस विधानसभा चुनाव में 294 में से 200 से अधिक सीटें जीतने का लक्ष्य रखा है। टीएमसी का कहना है कि भाजपा को 99 से अधिक सीटें नहीं मिलेंगी।

<strong>कोरोना वैक्‍सीन सर्टिफिकेट पर मोदी की फोटो को लेकर टीएमसी ने जताई आपत्ति, पहुंची चुनाव आयोग</strong>कोरोना वैक्‍सीन सर्टिफिकेट पर मोदी की फोटो को लेकर टीएमसी ने जताई आपत्ति, पहुंची चुनाव आयोग

English summary
Gadkari questions Mamata, Shyama Prasad Mukherjee was born in West Bengal, then how are we outsiders?
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X