• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

BJP कार्यकर्ताओं से बोले PM मोदी-सेवा ही संगठन है, 2 गज की दूरी है जरूरी

|

नई दिल्ली। पीएम नरेंद्र मोदी ने रविवार को अंडमान निकोबार द्वीप समूह के भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ताओं के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बातचीत की, पीएम मोदी ने कहा कि कोरोना माहमारी से अंडमान निकोबार को सुरक्षित रखने में आप सभी ने प्रशंसनीय काम किया है, आपने ही साबित किया कि सेवी ही संगठन है। लॉकडाउन के दौरान आपने लोगों की सेवा की है और उनका ध्यान रखा है, इसकी जितनी तारीफ की जाए कम ही है। पीएम ने कहा कि सेवा और समर्पण के संस्कारों को हमें समृद्ध करना है और आगे बढ़ाना है, बीमारी हो या कारोबार, हर समस्या से निपटने में हम जुटे हुए हैं और आगे भी जुटे ही रहेंगे, उन्होंने कहा कि '2 गज की दूरी, मास्क है जरूरी' , यही बात देश के हर नागरिक तक पहुंचाना है।

पीएम मोदी ने कब-कब जवानों के बीच पहुंचकर सबको चौंकाया ?

 BJP कार्यकर्ताओं से बोले PM मोदी-सेवा ही संगठन है, 2 गज की दूरी है जरूरी

पीएम ने कहा कि पिछली बार जब मैं अंडमान गया था तो देवस्थली तुल्य सेल्युलर जेल के दर्शन किए थे। मुझे पोर्टब्लेयर के दक्षिणी छोर पर तिरंगा फहराने का भी सौभाग्य प्राप्त हुआ, एक आइलैंड से दूसरे आइलैंड तक एयर कनेक्टिविटी में सुधार करते हुए देश के बाकी हिस्सों से आइलैंड को एयरवेज से भी जोड़ा जा रहा है। पोर्ट ब्लेयर एयरपोर्ट का बड़े पैमाने पर विस्तार किया जा रहा है, इस क्षेत्र के युवाओं के लिए कई हायर एजुकेशन के संस्थान बनाए गए हैं। इनमें ANCOL कॉलेज, मेडिकल कॉलेज और लॉ कॉलेज शामिल हैं।

अंडमान ने भारत की आजादी के आंदोलन को ताकत दी: पीएम

कोरोना वैक्सीन: ऑक्सफोर्ड ही नहीं, ये 6 वैक्सीन भी पहुंच चुकी हैं थर्ड फेज के ट्रायल में

पीएम ने कहा कि ब्लू इकॉनमी के लिहाज से, ट्रेड के लिहाज से अंडमान और निकोबार स्ट्रैटिजिक लोकेशन पर है। यह चेन्नै, कोलकाता और बांग्लादेश के मंगला सहित कई पोर्ट्स से बहुत कम दूरी पर स्थित है, अंडमान निकोबार द्वीप समुह ने भारत की आजादी के आंदोलन को ताकत दी है।

पीएम मोदी ने लॉकडाउन का फैसला सही वक्त पर लिया: नड्डा

इस कार्यक्रम में में बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा भी शामिल हुए जिन्होंने पीएम मोदी की तारीफ करते हुए कहा कि सेवा ही संगठन कार्यक्रम पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुरुआत से ही बारीकी से नजर रखी इसी के चलते ये कार्यक्रम सफल हो सका है, पीएम मोदी ने लॉकडाउन का फैसला सही वक्त पर लिया था, देश को कोरोना से लड़ने के लिए तैयार किया और इसी वजह से कोरोना महामारी के वक्त देश मजबूती से उसका सामना करना पड़ रहा है।

12 अगस्‍त को रूस से आ रही है पहली कोरोना वायरस वैक्‍सीन, जानिए इसके बारे में सबकुछ

22 करोड़ 18 लाख फूड पैकेट वितरित किये गए: नड्डा

नड्डा ने कहा कि लॉकडाउन लगने के बाद इस कार्यक्रम के तहत 22 करोड़ 18 लाख फूड पैकेट वितरित किये गए है और इसके साथ ही 5 करोड़ 40 लाख राशन किट (मोदी किट) दी गईं जिसमें 10 से लेकर 30 दिन तक का राशन उपलब्ध कराया गया है, जब प्रधानमंत्री गरीब कल्याण पैकेज दिया, तो यूएन ने भी इसकी सराहना की। 80 करोड़ की जनता, जो इस लॉकडाउन में सबसे ज्यादा परेशानी में थी, उन लोगों के लिए भी आपने 5 किलो गेहूं या चावल और 1 किलो दाल की फ्री व्यवस्था की है।

यह पढ़ें: Sushant Singh Rajput Case:बिहार पुलिस का बड़ा खुलासा-जांच के लिए धारण करना पड़ा ज्योतिषी का भेष

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Prime Minister Narendra Modi interacting with BJP workers of Andaman and Nicobar Islands on Sunday.Here is highlights.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X