• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

History of Father's Day : इस साल 20 जून को है फादर्स डे, जानें इतिहास और कैसे हुई इसकी शुरुआत

|
Google Oneindia News

नई दिल्ली, 18 जून: फादर्स डे हर साल भारत, अमेरिका समेत ज्यादातर देशों में जून महीने के तीसरे रविवार को मनाया जाता है। ये दिन पिता के प्यार, त्याग और उनके सम्मान को समर्पित होता है। इस साल 20 जून को फादर्स डे मनाया जाएगा। हालांकि कई देशों में फादर्स डे को अलग-अलग दिनों को भी मनाया जाता है। लेकिन भारत में फादर्स डे इस साल 20 जून को मनाया जाएगा, क्योंकि भारत अमेरिकी तारीखों को मानता है। कुछ देशों में फादर्स डे अलग-अलग तारीख पर भी मनाए जाते हैं। पुर्तगाल, स्पेन, क्रोएशिया, इटली जैसे कैथोलिक यूरोपीय देशों में फादर्स डे 19 मार्च को मनाया जाता है। 19 मार्च को सेंट जोसेफ डे भी होता है। वहीं ऑस्ट्रेलिया में फादर्स डे हर साल सितंबर के पहले रविवार को मनाया जाता है। नॉर्वे, स्वीडन और फिनलैंड में फादर्स डे दूसरे रविवार का मनाया जाता है। वहीं रूस में 23 फरवरी को फादर्स डे मनाया जाता है।

Fathers Day 2021

फादर्स डे का इतिहास: कब और कैसे हुई फादर्स डे मनाने की शुरुआत

फादर्स डे मनाने की शुरुआत सबसे पहले कहां और कैसे हुई, इसको लेकर कई अलग-अलग मत हैं। हालांकि ज्यादातर रिपोर्ट में कहा गया है कि फादर्स डे मनाने की शुरुआत सबसे पहले अमेरिका से हुई थी। कहा जाता है कि पहला फादर्स डे 5 जुलाई 1908 को अमेरिका के वेस्ट वर्जीनिया में मनाई गई थी। ये दिन अमेरिका में एक खनन दुर्घटना के बाद हादसने में जान गंवाने वाले पिताओं को सम्मानित करने के लिए मनाया गया था।

हालांकि आमतौर पर वॉशिंगटन के स्पोकेन शहर की सोनोरा स्मार्ट डॉड को फादर्स डे की अवधारणा का श्रेय दिया जाता है। कहा जाता है कि इस खास दिन की प्रेरणा सोनोरा स्मार्ट डॉड को 1909 में मदर्स डे से मिली थी। जिसके बाद 1910 में सोनोरा स्मार्ट डॉड ने फादर्स डे का विचार दुनिया के सामने रखा। सोनोरा स्मार्ट डॉड अमेरिकी गृहयुद्ध के दिग्गज विलियम जैक्सन स्मार्ट की बेटी थीं। अपनी पिता की याद में ही सोनोरा स्मार्ट डॉड ने फादर्स डे मनाने की शुरुआत की थी।

सोनोरा एक चर्च में प्रार्थना से बहुत ज्यादा प्रभावित हुई थीं। चर्च के उपदेश में सोनोरा ने जाना कि कैसे अन्ना जार्विस ने अपनी मां के सम्मान में मदर्स डे मनाने के फैसला किया था। तो वह फादर्स डे मनाने की पहल क्यों नहीं कर सकती हैं। इसके बाद सोनोरा ने स्पोकेन मिनिस्ट्रियल एलायंस से 5 जून को पिता के सम्मान में फादर्स डे मनाने का अनुरोध किया। सोनोरा के पिता का 5 जून को जन्मदिन था।

सोनोरा के पिता एक सिंगल पैरेंट थे, जिन्होंने अपने 6 बच्चों की परिवरिश अकेले की थी। इसलिए सोनोरा चाहती थी कि उनके पिता के समर्पण और बलिदान को श्रद्धांजलि मिलनी ही चाहिए। सोनोरा की कोशिशों के बाद आखिरकर 19 जून 1910 को पहला फादर्स डे वाशिंगटन के स्पोकेन में वाईएमसीए में मनाया गया था।

ये भी पढ़ें- Rani Lakshmibai:'अंग्रेजों को मेरा शरीर नहीं मिलना चाहिए', मृत्यु से पहले रानी लक्ष्मीबाई ने कही थी ये बातये भी पढ़ें- Rani Lakshmibai:'अंग्रेजों को मेरा शरीर नहीं मिलना चाहिए', मृत्यु से पहले रानी लक्ष्मीबाई ने कही थी ये बात

इसके बाद 1916 में पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति वुडरो विल्सन ने इस दिन को मनाने की मंजूरी दी। पूर्व राष्ट्रपति कैल्विन कुलिज ने 1924 में फादर्स डे को राष्ट्रीय आयोजन घोषित किया। आखिरकर पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति लिंडन बी जॉनसन ने 1966 मे जून के तीसरे रविवार को फादर्स डे के रूप में मनाने की अधिकारिक घोषणा की। उन्होंने राष्ट्रपति की घोषणा पर हस्ताक्षर भी किए। तब से लेकर आज तक फादर्स डे बड़े उत्साह और खुशी के साथ जून के तीसरे रविवार को मनाया जाने लगा है।

English summary
Father's Day 2021: Date, History, Significance and All You Need to Know about Special Day
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X