• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts
Oneindia App Download

'ऐसी खतरनाक जगह पर क्यों लगाए गए टैंट', अमरनाथ हादसे को लेकर फारूक अब्दुल्ला ने उठाए सवाल

पवित्र अमरनाथ गुफा के कुछ दूरी पर बादल फटने के बाद हुए हादसे में कई लोगों की जानें चली गईं। कई लोग लापता हो गए। इस घटना पर जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री और नेशनल कॉन्फ्रेंस के प्रमुख फारूक अब्दुल्ला ने सवाल उठाए हैं।
Google Oneindia News

श्रीनगर, 09 जुलाई : पवित्र अमरनाथ गुफा के कुछ दूरी पर बादल फटने के बाद हुए हादसे में 16 लोगों की जानें चली गईं। 40 लोग लापता हो गए। इस घटना पर जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री और नेशनल कॉन्फ्रेंस के प्रमुख फारूक अब्दुल्ला ने सवाल उठाए हैं। उन्होंने कहा कि हमें उम्मीद है कि सरकार बताएगी कि क्या हुआ और कैसे हुआ? इतनी जोखिम भरी जगह पर जिस आधार पर टेंट लगाए गए थे, उसकी जांच होनी चाहिए। यह पहली बार है जब वहां टेंट लगाए गए हैं। यह एक मानवीय भूल हो सकती है। फारूक अब्दुल्ला ने कहा कि घटना दुर्भाग्यपूर्ण है। मामले की जांच जरूरी है। सरकार को बताना चाहिए कि क्या हुआ। हम यह भी उम्मीद करते हैं कि मृतक व्यक्तियों के परिवारों को अच्छा मुआवजा प्रदान किया जाएगा।

Recommended Video

Amarnath Yatra Cloud Burst: Farooq abdullah ने त्रासदी की जांच की मांग की | वनइंडिया हिंदी | *News
जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री और नेशनल कॉन्फ्रेंस के प्रमुख फारूक अब्दुल्ला
Photo Credit:

बादल फटते ही अचानक आ गई बाढ़

बता दें कि शुक्रवार शाम को पवित्र अमरनाथ गुफा के पास बादल फट गया। यह हादसा गुफा से करीब दो किलोमीटर दूर हुआ है। बादल फटने के बाद अचानक सी बाढ़ आ गई। इस भयानक बाढ़ की चपेट में घाटी में नीचे लगे टेंट आ गए। जिनमें लोग रुके हुए थे। इस दौरान हजारों तीर्थयात्री फंस गए। अभी तक 16 लोगों की मौत हो गई। 40 लोग अभी भी लापता हैं। 15000 से अधिक तीर्थयात्रियों को सुरक्षित बाहर निकाला गया।

अब डोडा में फटा बादल

वहीं, दूसरी तरफ अमरनाथ गुफा के बाद अब जम्मू-कश्मीर के डोडा में बादल फटा है। यह हादसा ठठरी टाउन के गुंटी वन में हुआ है। बादल फटने की घटना आज तड़के चार बजे हुई है। डोडा के एसएसपी अब्दुल कयूम ने कहा कि हादसे में किसी के हताहत होने की सूचना नहीं है। कई वाहन क्षतिग्रस्त हो गए हैं और मौके पर फंस गए हैं। हाईवे को जाम कर दिया गया है।

मिट्टी में धंसीं गाड़ियां

बादल फटने से बाढ़ की स्थिति बन गई है। कई गाड़ियां क्षतिग्रस्त हो गई हैं। गाड़ियां मिट्टी में धंस गई हैं। बादल फटने के बाद हाईवे को ब्लॉक कर दिया गया था। हालांकि, अब इसे यातायात के लिए बहाल कर दिया गया है। मिट्टी में धंसी गाड़ियों को बाहर निकाला जा रहा है। साथ ही जेसीबी की मदद से मिट्टी को हटाया जा रहा है। गनीमत है कि किसी के हताहत होने की सूचना नहीं है।

यह भी पढ़ें-अमरनाथ हादसे का दूसरा दिन: 15000 लोगों को निकाला गया, 40 लापता, बचाव में जुटे MI-17 हेलीकॉप्टरयह भी पढ़ें-अमरनाथ हादसे का दूसरा दिन: 15000 लोगों को निकाला गया, 40 लापता, बचाव में जुटे MI-17 हेलीकॉप्टर

Comments
English summary
Farooq Abdullah on Amarnath cloud burst raised question govt explain what happened and how should investigated
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X