• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

विशेषज्ञों ने लॉकडाउन में छूट के लिए अमेरिका को चेताया, वायरस के दोबारा लौटने की चेतावनी दी

|

नई दिल्ली। यूरोप और अमेरिका में कोरोनोवायरस के खिलाफ लड़ाई में लॉकडाउन में बरती गई ढिलाई पर चिंता जताते हुए स्वास्थ्य विशेषज्ञों ने कहा है कि मौत और संक्रमण के फिर से वापस लौटने (सेकेंड वेब) के बाद सरकारों को अपने कदमों को वापस पीछे खींचने पड़ सकते हैं।

USA

कोलंबिया विश्वविद्यालय के सेंटर फॉर इंफेक्शन एंड इम्युनिटी के डॉ इयान लिपकिन ने कहा, ऐसा करके हम पीछे हटने की प्रक्रिया को भी जोखिम में डालेंगे, जो ज्यादा असहनीय होगा।

Covid-19 वैक्सीन पर मिली सफलता को हम पूरी दुनिया के साथ साझा करेंगेः इजरायली राजदूत

USA

गौरतलब है जर्मन अधिकारियों ने अभी से ही संक्रमण के दूसरे वेब की संभावनाओं के बीच योजनाएं तैयार करनी शुरू कर दी है। इटली में विशेषज्ञों ने नए पीड़ितों की पहचान और उनके संपर्कों का पता लगाने के प्रयास तेज किए हैं। और फ्रांस जहां अभी तक लॉकडाउन प्रतिबंधों में कमी नहीं की गई है, वह भी वायरस के सेकेंड वेब को लेकर पहले ही काम शुरू कर चुका है।

लॉकडाउन: भारतीय उद्योग के राजस्व में 40% गिरावट की उम्मीद, उबरने में पूरा साल लगेगा

USA

फ्रांस के पाश्चर इंस्टीट्यूट में वायरस यूनिट के प्रमुख ओलिवियर श्वार्ट्ज ने कहा वायरस के सेकेंड वेब का आना तय है, लेकिन यह स्पष्ट नहीं है कि सेकेंड वेब में समस्या कितनी बड़ी होगी। यह छोटा होगा या बड़ा होगा, इस बारे में अभी से कुछ कहना जल्दबाजी होगी।

USA

अमेरिका में लगभग आधे राज्यों ने अपनी अर्थव्यवस्थाओं को फिर से शुरू करने के लिए शटडाउन में छूट दी हैं।सेलफोन डेटा दिखाते हैं कि लोग बेचैन हैं और तेजी से अपना घर छोड़ रहे हैं, जिससे वहां के सार्वजनिक स्वास्थ्य अधिकारी चिंतित हैं।

एक Tweet से कार निर्माता कंपनी टेस्ला को हुआ 14 अरब डॉलर का नुकसान, घंटों में गिरा बाजार भाव

USA

बड़ी बात यह है कि कई राज्यों ने ठोस परीक्षण का इंतजाम नहीं किया है, जबकि विशेषज्ञों का मानना ​​है कि नए प्रकोपों ​​का पता लगाने के लिए यह अति आवश्यक है। कई राज्यों के गवर्नर ने अर्थव्यवस्था को दोबारा खोलने के लिए ट्रम्प प्रशासन के दिशानिर्देशों का भी पालन नहीं किया और लॉकडाउन में छूट दे दी।

USA

वाशिंगटन में कैसर फैमिली फाउंडेशन की वैश्विक स्वास्थ्य नीति के एसोसिएट डायरेक्टर जोश मयहूद ने कहा, 'अगर हम उचित सार्वजनिक स्वास्थ्य सुरक्षा उपायों के बिना लॉकडाउन उपायों में छूट देते हैं, तो देश में कई और मामले ही नहीं, बल्कि कई और मौतों की उम्मीद कर सकते हैं।

क्या भारत में नोवल कोरोनोवायरस स्ट्रेन ने रूप बदल लिया है? उत्परिवर्तन पर शोध करेगी ICMR

USA

उल्लेखनीय है अमेरिकी के आयोवा और मिसौरी जैसे स्थानों में लगातार मामले बढ़ रहे हैं, जहां के गवर्नर ने अर्थव्यवस्था को खोलना शुरू कर दिया था जबकि नए संक्रमणों ने जॉर्जिया, टेनेसी और टेक्सास को हिलाकर रख दिया है।

इंटरनेशनल गोल्ड जिम ने खुद को दिवालिया घोषित किया, लॉकडाउन में ठप हुआ कारोबार

अमेरिका में बार, स्पोर्ट्स इवेंट, थियेटर को खोलना अधिक चिंताजनक है

अमेरिका में बार, स्पोर्ट्स इवेंट, थियेटर को खोलना अधिक चिंताजनक है

डॉ लिपकिन ने कहा कि वह बार और स्पोर्ट्स इवेंट, थियेटर जैसे बड़े समारोहों को दोबारा खोलने को लेकर अधिक चिंतित हैं, जहां लोगों की एक साथ भीड़ जुटती है और लोग सोशल डिस्टेंसिंग को बरकरार नहीं रख पाते हैं।

अभी तक अमेरिका में एग्रेशिब कांटैक्ट ट्रेसिंग नहीं शुरू हो सका है

अभी तक अमेरिका में एग्रेशिब कांटैक्ट ट्रेसिंग नहीं शुरू हो सका है

लिपिकन ने कहा कि अमेरिकी में महामारी के प्रकोप को रोकने के लिए सैंकड़ों और हजारों स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं की जरूरत होगी, जो एग्रेशिव कांटैक्ट ट्रेसिंग से लैस हों, लेकिन अफसोस कि अभी तक अमेरिका में ऐसा नहीं हो सका है।

दुनिया भर में वायरस ने 36 लाख से अधिक लोगों को संक्रमित किया है

दुनिया भर में वायरस ने 36 लाख से अधिक लोगों को संक्रमित किया है

अभी तक दुनिया भर में वायरस ने 36 लाख से अधिक लोगों को संक्रमित किया है और जॉन्स हॉपकिन्स विश्वविद्यालय के आंकड़ों के अनुसार एक करीब ढाई लाख से अधिक लोगों को मार चुका है।

अमेरिका में अब तक 70,000 से अधिक मौत की पुष्टि हो चुकी है

अमेरिका में अब तक 70,000 से अधिक मौत की पुष्टि हो चुकी है

अमेरिका में अब तक 70,000 से अधिक मौतें और 12 लाख लोगों वायरस से संक्रमित होने की पुष्टि हो चुकी है। जबकि यूरोप में महामारी अभी तक करीब 140,000 से अधिक लोगों की जान ले चुकी है हैं।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
German authorities have already started preparing plans amid the possibility of another web of infection. Experts in Italy have stepped up efforts to identify and trace new victims. And France, which has not yet reduced lockdown restrictions, has already started work on the second web of viruses.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X