• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

गृह राज्यमंत्री ने किया ई-साइबर लैब का उद्घाटन, कहा- 'अपराध मुक्त भारत' मोदी सरकार की प्राथमिकता

|

नई दिल्ली: अपराधियों की धरपकड़ के लिए मौजूदा वक्त में फॉरेसिंक डिपार्टमेंट का मजबूत होना बहुत जरूरी है। इसी के तहत मंगलवार को केंद्रीय गृह राज्यमंत्री किशन रेड्डी ने राष्ट्रीय अपराध रिकॉर्ड ब्यूरो द्वारा आयोजित फिंगरप्रिंट ब्यूरो निदेशकों के 21वें सम्मेलन में वर्चुअली हिस्सा लिया। इस दौरान उन्होंने ई-साइबर लैब का उद्घाटन किया। ये साइबर लैब अपराधियों को पकड़ने में अहम भूमिका निभाएगी। इसके साथ ही उन्होंने फिर से अपराधियों और आतंकियों के खिलाफ जीरो टॉलरेंस की बात दोहराई।

cyber

बैठक में गृह राज्यमंत्री किशन रेड्डी ने कहा कि हर तरह का अपराध हमारे समाज के खिलाफ है। ऐसे में सरकार का लक्ष्य जाति, धर्म, क्षेत्रवाद से ऊपर उठकर उसको खत्म करना है। उनके मुताबिक महिलाओं के खिलाफ अपराध कम करना मोदी सरकार की प्राथमिकता है। इसके अलावा उनकी कोशिश है कि सभी पीड़ितों का जल्द से जल्द न्याय मिले। इसके लिए सिस्टम सही किया जा रहा है।

सुशांत सिंह राजपूत के फॉरेंसिक टेस्ट का VIDEO हुआ लीक, अधिकारी बोले- 'हमारी जांच बर्बाद ना हो जाए'

रेड्डी के मुताबिक हर तरह के अपराध और आतंकवाद को लेकर पीएम नरेंद्र मोदी की नीति जीरो टॉलरेंस की है। इसके अलावा गृहमंत्री अमित शाह भी चाहते हैं कि अपराध मुक्त भारत का निर्माण हो। जिसके लिए हर संभव कदम उठाए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि अपराधियों का पता लगाने में फिंगर प्रिंट की भूमिका अहम है। अब सिस्टम का डिजिटलाइजेसन होने और नेशनल आटोमेटेड फिंगर प्रिंट सिस्टम (NAFIS) एक्टिव होने से अपराध पर लगाम लगेगी।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
eCyber Lab of ncrb inaugurated by G Kishan Reddy
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X