• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

Earth Hour 2021: आज रात 8.30 से 9.30 तक मनाया जाएगा अर्थ ऑवर, जानें क्या है ये और क्यों मनाया जाता है?

|
Google Oneindia News

अर्थ ऑवर 2021: आज दुनियाभर में रात 8.30 बजे से एक घंटे यानी 9.30 बजे तक अर्थ ऑवर मनाया जाएगा। हर साल मार्च महीने के आखिरी शनिवार को रात 8:30 बजे विश्वभर में अर्थ आवर मनाया जाता है। इस साल 2021 में अर्थ-ऑवर डे 27 मार्च को मनाया जा रहा है। अर्थ-ऑवर डे को मनाने के पीछे का उद्देश्य ऊर्जा की बचत और बिजली बचाने और पर्यावरण सुरक्षा के बारे में जागरूक करना करना है। अर्थ ऑवर विश्व वन्यजीव एवं पर्यावरण संगठन (वर्ल्ड वाइल्डलाइफ फंड (डब्ल्यूडब्ल्यूएफ) द्वारा शुरू किया गया एक अभियान है। इसकी शुरुआत साल 2007 में ऑस्ट्रेलिया के सिडनी शहर से हुई थी। उस वक्त ऑस्ट्रेलिया के स्थानीय समयानुसार शाम 7:30 बजे पहली बार अर्थ आवर का आयोजन किया गया था। इसके बाद साल 2008 में 35 देशों ने अर्थ आवर डे में हिस्सा लिया।

    Earth Hour 2021: रात 8.30 बजे मनाया जाएगा Earth Hour, एक घंटे Light Off कर हों शामिल |वनइंडिया हिंदी

    Earth Hour

    अर्थ आवर डे को कैसे मनाया जाता है।

    वर्तमान में दुनियाभर के लगभग 180 देशों में अर्थ आवर डे मनाया जाता है। अर्थ आवर डे हर साल मार्च के आखिरी शनिवार को 8.30 बजे से एक घंटे के लए लाइटें बंद करके धरती की बेहतरी के लिए सब लोग एकजुट होते हैं। इस दौरान रात 8.30 से 9.30 तक लोग अपने घरों की लाइटें स्विच ऑफ करके बिजली के बचत करने का संदेश देते हैं और धरती को सुरक्षित रखने के लिए एकजुटता का समर्थन करते हैं।

    इस दिन वर्ल्ड वाइल्डलाइफ फंड (डब्ल्यूडब्ल्यूएफ) दुनियाभर के नागरिकों से रात 8.30 से 9.30 तक यानी एक घंटे गैरजरूरी लाइट्स को बंद रखने की अपील करती है। इसके साथ ही इस दिन सौर ऊर्जा का ज्यादा से ज्यादा इस्तेमाल करने की सलाह दी जाती है। कई लोग कैंडल और दीये जलाकर अर्थ आवर को सेलिब्रेट करते हैं।

    क्या है अर्थ ऑवर डे का इतिहास?

    अर्थ ऑवर डे की शुरुआत ऑस्ट्रेलिया से हुई है। साल 2004 में वर्ल्ड वाइल्डलाइफ फंड की ऑस्ट्रेलियाई शाखा और विज्ञापन एजेंसी ने सिडनी में एक सेमिनार आयोजित की थी। इस सेमिनार के दौरान हुई विचार-विमर्श से जो बातें सामने निकलक कर आई उसके आधार पर साल 2006 में "द बिग फ्लिक" नाम से एक अभियान की शुरुआत की गई। इस कैम्पेन का मकसद था देश में बड़े पैमाने पर इस्तेमाल हो रहे बिजली के उपकरणों में कमी लाना। इस कॉन्सेप्ट को बाद में डब्ल्यूडब्ल्यूएफ की ऑस्ट्रेलियाई शाखा ने फेयरफैक्स मीडिया और सिडनी के मेयर के सामने प्रेजेंट किया। जो इस अभियान के लिए सहमत हो गए। इसी के बाद 31 मार्च, 2007 को पहली बार सिडनी में शाम 7:30 (स्थानीय समय) बजे पहली बार अर्थ आवर का आयोजन किया गया था। अब ये धीरे-धीरे विश्वभर के 180 देशों में मनााय जाता है।

    क्यों मनाया जाता है अर्थ आवर?

    इस दिन को इसलिए मनाया जाता है कि ताकि दुनियाभर के लोगों को बिजली और ऊर्जा के महत्व को समझाया जाए। इसके साथ इस दिन लोगों को पर्यावरण की सुरक्षा और महत्व के बारे में भी समझाया जाता है। इस दिन आपको बस एक घंटे रात को 8.30 बजे से बिजली बचना है।

    ये भी पढ़ें- World Sleep Day 2021: क्या आपको भी नींद आने में होती है दिक्कत तो अपनाएं ये 5 स्लीप ट्रैकर ऐप्सये भी पढ़ें- World Sleep Day 2021: क्या आपको भी नींद आने में होती है दिक्कत तो अपनाएं ये 5 स्लीप ट्रैकर ऐप्स

    English summary
    Earth Hour 2021: World Prepares Turn-Off Its Lights on March 27 Earth Hour day history significance
    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X