• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

नागरिकता संशोधन कानून के विरोध में सुप्रीम कोर्ट पहुंची डीएमके, विरोध प्रदर्शन भी किया शुरू

|

चेन्नई। द्रविड़ मुनेत्र कड़गम (डीएमके) पार्टी ने नागरिकता संशोधन कानून (CAA) के विरोध में सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की है। साथ ही आज पार्टी इस कानून के विरोध में राष्ट्रव्यापी प्रदर्शन भी कर रही है। ये विरोध प्रदर्शन कांचीपुरम में हो रहा है। पार्टी के अध्यक्ष एमके स्टालिन ने इस दौरान सत्ताधारी एआईएडीएमके (ऑल इंडिया अन्ना द्रविड़ मुनेत्र कड़गम) पार्टी पर निशाना साधा।

सरकार पर लगाए आरोप

सरकार पर लगाए आरोप

उन्होंने कहा है कि इडप्पडी सरकार श्रीलंकाई और तमिलनाडु के लोगों के प्रति वफादार नहीं है। एआईएडीएमके के सांसदों ने नागरिकता संशोधन बिल का समर्थन किया है, जिसकी वजह से आज देश जल रहा है। बता दें इस बिल को लेकर देश के कई हिस्सों में नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ विरोध प्रदर्शन हो रहे हैं। असम और पश्चिम बंगाल के बाद राजधानी दिल्ली में भी हिंसक प्रदर्शन देखने को मिले।

कमल हासन की पार्टी भी पहुंची सुप्रीम कोर्ट

कमल हासन की पार्टी भी पहुंची सुप्रीम कोर्ट

कई विपक्षी पार्टियां पहले से ही इस कानून का विरोध कर रही हैं। एक दिन पहले ही दक्षिण भारतीय अभिनेता कमल हासन की पार्टी भी सुप्रीम कोर्ट पहुंची। कमल हासन की पार्टी मक्कल निधि माइम (एमएनएम) ने सुप्रीम कोर्ट में नागरिकता संशोधन कानून को चुनौती देने वाली याचिका दायर की है।

    CAA के खिलाफ देशभर में Protest, Jamia violence पर Supreme Court ने दिया ये आदेश |वनइंडिया हिंदी
    क्या है कानून?

    क्या है कानून?

    इस कानून के तहत तीन पड़ोसी देश (पाकिस्तान, अफगानिस्तान और बांग्लादेश) में रहने वाले गैर मुस्लिम समुदाय के लोग 6 साल तक भारत में रहने के बाद यहां की नागरिकता हासिल कर सकते हैं। हालांकि बिल में इन तीन देशों से आने वाले मुस्लिमों को शामिल नहीं किया गया है।

    मुंबई: डोंबीवली में चलती ट्रेन से गिरने के बाद 22 वर्षीय महिला की मौत

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    Dravida Munnetra Kazhagam files petition in Supreme Court against Citizenship Amendment Act and also doing protest against it.
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X