India
  • search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts
Oneindia App Download

PM मोदी ने शेयर की एक बच्ची की दिल छू लेने वाली कहानी, बताया कैसे आधार कार्ड ने खोए हुए परिवार से मिलवाया

|
Google Oneindia News

गांधीनगर, 05 जुलाई: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को गुजरात के गांधीनगर में 'डिजिटल इंडिया वीक 2022' कार्यक्रम में शिरकत की। इस दौरान कार्यक्रम को संबोधित करते हुए पीएम मोदी एक तरफ जहां डिजिटल इंडिया के फायदे गिनाए तो दूसरी तरफ एक ऐसी बच्ची की इमोशनल स्टोरी मंच से साझा की, जो आधार कार्ड की बदौलत अपने खोए हुए परिवार से वापस मिल पाई। जानिए पूरी कहानी जानिए...

आधार कार्ड से खोए परिवार से मिली लड़की

आधार कार्ड से खोए परिवार से मिली लड़की

डिजिटल इंडिया वीक प्रोग्राम के दौरान एक ऐसा बच्ची का वीडियो सामने आया, जिसने सब लोगों का दिल छू लिया। दरअसल, कार्यक्रम में जब पीएम मोदी ने वहां लगे एग्जीबिशन का विजिट किया उनकी एक लड़की से मुलाकात हुई। लड़की ने पीएम मोदी को अपनी भावुक कर देने वाली कहानी बताई, जिसका जिक्र पीएम मोदी ने मंच से किया। बच्ची ने पीएम को बताया कि कैसे वह अपने परिवार से बिछड़ी और फिर आधार कार्ड की वजह से अपने परिवार से मिल सकीं।

स्टेशन पर मां से बिछड़ गई थी बच्ची

स्टेशन पर मां से बिछड़ गई थी बच्ची

पीएम मोदी ने अपने भाषण में बताया, "मेरा अभी एक बिटिया से मिलना हुआ, वो बेटी जब 6 साल की थी, तो अपने परिवार से बिछड़ गई। रेलवे प्लेटफॉर्म पर मां का हाथ छूट गया। वो किसी और ट्रेन में बैठ गईं।" लड़की ने पीएम मोदी को बताया कि जब वो अपनी मां के साथ रिश्तेदार के घर जा रही थी तो अपने परिवार से बिछड़ गई। इसके बाद उसे एक अजनबी शख्स मिला, जिसने उसको 2-3 दिन अपने घर पर पनाह दी और फिर सीतापुर वाली संस्था (अनाथालय) में छोड़ दिया।

दो साल तक अनाथालय में रही लड़की

दो साल तक अनाथालय में रही लड़की

लड़की ने पीएम मोदी को बताया कि वह उस जगह करीब दो साल रहीं। फिर जब 12वीं की बोर्ड परीक्षा में शामिल होने का वक्त आया तो वहां रहने वाली कई लड़कियां अपने रिश्तेदार के घर वापस चली गईं, लेकिन उसके कोई रिश्तेदार नहीं थे, इशलिए वो कहीं नहीं जा पाई। इसके बाद उसके अनाथालय ने लड़की को अपनी लखनऊ वाली संस्था में भेज दिया।

फिर ऐसे आधार कार्ड ने परिवार से मिलवाया

फिर ऐसे आधार कार्ड ने परिवार से मिलवाया

फिर बच्ची ने पीएम मोदी को आगे बताया कि फिर वहां आधार कार्ड बनाने वाले लोग आए थे। ऐसे में जब कर्मचारियों ने आधार कार्ड के लिए उंगलियों के निशान लिए तो पता चला कि आधार कार्ड पहले से ही बना हुआ है। इसके बाद इसी जानकारी के आधार पर लड़की के परिवार वालों का पता लगाया गया और बच्ची को अपने परिवार से मिलवा दिया। पीएम मोदी ने लड़की की भावुक कर देने वाली कहानी ध्यान से सुनी और उसको आशीर्वाद भी दिया।

वंदे भारत ट्रेन तो महंगी है, फिर गरीब-मजदूर ज्यादा क्यों चलते हैं ? पीएम मोदी ने सुनाया काशी का दिलचस्प किस्सावंदे भारत ट्रेन तो महंगी है, फिर गरीब-मजदूर ज्यादा क्यों चलते हैं ? पीएम मोदी ने सुनाया काशी का दिलचस्प किस्सा

Comments
English summary
digital india week 2022 PM modi share girl story who meet his family due to Aadhaar Card
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X