• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

कांग्रेस दफ्तर में सन्नाटा, पर युवा चीफ को राहुल से उम्मीदें

|

नई दिल्ली (विवेक शुक्ला)। युवा कांग्रेस के राजेन्द्र प्रसाद रोड मुख्यालय में सन्नाटा पसरा है। कुछ लोग इधर के बगीचे में दिल्ली की गुलाबी धूप का आनंद ले रहे हैं। कहीं कोई रौनक या दिल्ली विधानसभा चुनावों को लेकर कोई उत्साह का माहौल नहीं है।

Deserted Congress office expecting miracle from Rahul Gandhi

उधर, युवा कांग्रेस चीफ अमरिंदर सिंह राजा बरार आज थोड़ी जल्दी में थे। उन्हें वक्त पर राहुल गांधी की शास्त्री नगर में होने वाले रोड शो में शामिल होना था। कहने लगे कि राहुल जी के ऱोड शो में जाना है,इसलिए लंबी बात नहीं कर पाऊंगा।

दागे सवाल

पर हमने जल्दी-जल्दी में कुछ सवाल दागे। पूछा कि क्या युवा कांग्रेस मेहनत कर रही है दिल्ली में... बीते पंजाब विधानसभा चुनाव में गिद्दड़बाहा निर्वाचन क्षेत्र से मनप्रीत बादल को मात देने वाले राजा ने कहा कि अभी मुझे तीन हफ्ते हुए हैं इस पद को संभाले हुए। हम फिर भी कोशिश कर रहे हैं ताकि कांग्रेस दिल्ली में बेहतर प्रदर्शन कर सके।

बादल के गढ़ में सेंध

बता दें कि गिद्दड़बाहा प्रकाश सिंह बादल का गढ़ माना है। वहां की सीट से कांग्रेस का जीतना कोई छोटी बात नहीं है। एक सवाल के जवाब में राजा ने कहा कि राहुल गांधी के बीते दिनों कालकाजी सीट में रोड शो में जिस तरह का जन सैलाब उमड़ा था, उसे देखकर कोई भी कह सकता है कि कांग्रेस चुनावों में बेहतर प्रदर्शन करने जा रही है।

बने युवा कांग्रेस चीफ

राजा को हाल ही में युवा कांग्रेस का नया अध्यक्ष नियुक्त किया गया है। उन्होंने महाराष्ट्र से सांसद राजीव सातव का स्थान लिया है। कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने युवा कांग्रेस के अध्यक्ष के रूप में अमरिंदर के नाम को मंजूरी दी। उन्होंने माना कि युवा कांग्रेस में फिर से जान फूंकने की पूरी गुजांइश है। अभी युवा कांग्रेस का कामकाज कुछ ढीला है। अमरिंदर (37) पंजाब के गिद्दड़बाहा निर्वाचन क्षेत्र से कांग्रेस के विधायक हैं। वह अपने नाम के साथ 'वारिंग' उपनाम लगाते हैं, जो उनके गांव का नाम है।

खत्म होगी बयानबाजी

अमरिंदर ने कहा कि पंजाब कांग्रेस के नेताओं के बीच चल बयानबाजी खत्म हो जाएगी। कांग्रेस फिर से पंजाब में मजबूती के साथ उभरेगी। जिस पद पर कभी संजय गांधी और मनिंदर सिंह बिट्टा जैसे नेता होते थे उस पद पर अपनी नियुक्ति पर अमरिंदर ने कहा, उनकी प्राथमिकता बड़ी संख्या में युवाओं को शामिल कर संगठन को मजबूत बनाने और विभिन्न कार्यक्रम आयोजित कर भाजपा सरकार की नाकामियों को उजागर करने की होगी। अमरिंदर ने यह बताने से इंकार कर दिया कि आगामी दिल्ली विधानसभा चुनावों में कांग्रेस का प्रदर्शन किस तरह का रहने वाला है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Deserted Congress office even as youth congress chief expecting miracle from Rahul Gandhi. He is hopeful that Congress will do well.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X