• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

कम हो रहा है कोरोना संक्रमण का खतरा, कोविड संबंधित दवाओं की मांग में आई गिरावट

|
Google Oneindia News

नई दिल्ली,28 जनवरी। देश में कोरोना संक्रमण के मामलों में पिछले कुछ समय से बढ़ोतरी देखने को मिल रही है लेकिन दवा बनाने वाली कंपनी सिप्ला ने दावा किया है कि अब कोरोना की दवा जैसे रेमडिसिवी, टोसिलिजुमाब, फैबिपिराविर की मांग अब पहले जैसी नहीं है और इसकी मांग में गिरावट आई है। कंपी का कहना है कि कोरोना की दूसरी लहर में जब डेल्टा वैरिएंट ने अपना कहर बरपाया था तो उस वक्त इन दवाओं की मांग काफी बढ़ गई थी, लेकिन अब इसकी मांग में गिरावट है।

medicine

सिप्ला के ग्लोबल सीएफओ केदार उपाध्याय ने बताया कि अब कोरोना के मरीजों को अस्पताल में भर्ती करने की जरूरत कम पड़ रही है। यही नहीं बुखार भी बहुत अधिक नहीं हो रहा है। अब दुनियाभर में पैरासीटामोल की अधिक जरूरत पड़ रही है। तीसरी लहर का असर लोगों पर कम होगा, लिहाजा सिप्ला इस बात पर ध्यान दे रही है कि लोगों को जरूरत की दवा उपलब्ध हो। कई शहरों में कोरोना की लहर अब तकरीबन खत्म हो गई है लेकिन लोग अभी भी कमजोर हैं। विटामिन की मांग आने वाले दिनों में बढ़ सकती है।

कोरोना की तीसरी लहर मुख्य रूप से ओमिक्रोन की वजह से आई जोकि पहले के वैरिएंट की तुलना में अधिक लोगों को संक्रमित करती है लेकिन इसका असर पहले के वैरिएंट की तुलना में काफी कम है। ओमिक्रोन से लोगों को हल्का बुखार, शरीर में दर्द, गले में खरास जैसी समस्या आ रही है। इन दिक्कतों के लिए पैरासीटामोल और मल्टिविटामिन की दवाएं ज्यादा कारगर हैं। माइक्रो लैब की डोलो, जीएसके की क्रोसीन, और कैलपोल की मांग बाजार में सबसे ज्यादा है।

इसे भी पढ़ें- COVID: तीसरी लहर से उबरा गुजरात, 12911 नए मरीजों के मुकाबले 23197 हुए ठीकइसे भी पढ़ें- COVID: तीसरी लहर से उबरा गुजरात, 12911 नए मरीजों के मुकाबले 23197 हुए ठीक

भारतीय कंपनियों की बात करें तो सिप्ला कोविड के इलाज के लिए काफी सारी दवाओं का उत्पादन कर रही है। जिसमे एंटिवायरल, मोनोक्लोनल एंटिबॉडी, कोर्टिकास्टोराइड, विटामिन, सैनिटाइजर, मास्क, रैपिड एंटिजेन टेस्ट किट आदि शामिल हैं। बता दें कि सिप्ला ने वित्त वर्ष 21 में भारत में काफी ज्यादा बिजनेस किया और कंपनी का मुनाफा 15 फीसदी तक बढ़ा। हालांकि कंपनी की ओर से कोविड से संबंधित बिक्री की जानकारी नहीं दी गई है, लेकिन कंपनी की ओर से कहा गया है कि कंपनी के निवेश में 19160 करोड़ रुपए की बढ़ोतरी हुई है।

Comments
English summary
Demand of covid related drugs decreased now says drug company Cipla.
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X