• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

बाबा रामदेव का दावा, कोरोनिल के हर रोज 10 लाख पैकेट की मांग, हम पूर्ति नहीं कर पा रहे

|

नई दिल्ली। योग गुरु बाबा रामदेव का कहना है कि पतंजलि आयुर्वेद की कोरोनिल दवा की मांग काफी बढ़ गई है। रोजाना कोरोनिल के 10 लाख पैकेट की मांग आ रही है। कोविड-19 से लड़ने के लिए प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने वाली इस विवादित दवा की मांग पर बाबा रामदेव का कहना है कि हरिद्वार स्थित कंपनी इस मांग को पूरा करने की कोशिश में जूझ रही है, क्योंकि वह रोजाना केवल एक लाख पैकेट की आपूर्ति ही कर पा रही है। योग गुरु ने दावा करते हुए कहा कि हमारे पास हर दिन कोरोनिल दावा के 10 लाख पैटेक की मांग आ रही है लेकिन हम इसकी पूर्ति नहीं कर पा रहे हैं।

    Coronil को लेकर Patanjali Ayurved पर Madras High Court ने लगाया 10 लाख का जुर्माना | वनइंडिया हिंदी

    कोरोना वैक्सीन: ऑक्सफोर्ड ही नहीं, ये 6 वैक्सीन भी पहुंच चुकी हैं थर्ड फेज के ट्रायल में

    patanjali ayurveda, yog guru baba ramdev, baba ramdev, patanjali, coronil, coronil for immunity booster, coronavirus, covid-19, immunity booster coronil, coronil immunity booster medicine, baba ramdev on coronil, coronil for coronavirus, पतंजलि आयुर्वेद, कोरोना वायरस, कोविड-19, इम्युनिटी बूस्टर, कोरोनिल, बाबा रामदेव, योग गुरु बाबा रामदेव, कोरोनिल पर बाबा रामदेव

    उन्होंने कहा कि पतंजलि आयुर्वेद कोरोना वायरस महामारी के समय में इस दवा की कीमत 5000 रुपये भी रखता तो भी आसानी से 5000 करोड़ रुपये कमाए जा सकते थे। लेकिन हमने ऐसा नहीं किया और इस दवा की कीमत महज 500 रुपये रखी गई। बाबा रामदेव ने ये बातें उद्योग संस्था द्वारा आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान कही हैं। 'आत्मनिर्भर भारत- वोकल फॉर लोकल' नामक इस कार्यक्रम में उन्होंने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से हिस्सा लिया था।

    इससे पहले बाबा रामदेव ने कोरोनिल को लेकर जून में ये दावा किया था कि इससे कोविड-19 के मरीजों को ठीक किया जा सकता है। हालांकि इसके बाद आयुष मंत्रालय ने इसकी बिक्री पर प्रतिबंध लगा दिया था। साथ ही केंद्रीय मंत्रालय की ओर से ये भी कहा गया था कि कोरोनिल को केवल प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने वाली दवा के तौर पर बेचा जा सकता है।

    12 अगस्‍त को रूस से आ रही है पहली कोरोना वायरस वैक्‍सीन, जानिए इसके बारे में सबकुछ

    इसके साथ ही इस दवा को कोविड-19 के इलाज करने वाली दवा के तौर पर नहीं बेचा जा सकता। योग गुरु ने ये भी कहा कि पतंजलि ने गाय के घी को 1300-1400 करोड़ रुपये का सालाना ब्रांड बनाया है। वहीं पतंजलि समूह के अनुमानित कारोबार की बात करें तो यह 10,500 करोड़ के करीब है।

    कोरोना के गंभीर मरीजों के इलाज में कारगर साबित हुई नई दवा, ये है नाम

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    demand of covid 19 immunity booster coronil around 10 lakh packs a day said yog guru ramdev
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X