• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

Delhi Violence: सुलगती दिल्ली को देखकर फूटा कमल हासन का गुस्सा, कहा-धर्म नहीं सिर्फ लोग देते हैं नफरत फैलाने की इजाजत

|

नई दिल्ली। नॉर्थ ईस्ट दिल्ली में नागरिकता संशोधन कानून को लेकर शुरू हुए बवाल ने बेहद उग्र रूप धारण कर लिया है, उत्तर पूर्वी दिल्ली के 4 जगहों पर कर्फ्यू लगा है, तो वहीं नॉर्थ ईस्ट दिल्ली में पुलिस ने उपद्रवियों को देखते ही गोली मारने का आदेश जारी किया है, सुलगती दिल्ली को देखकर अभिनेता से नेता बने कमल हासन भी काफी दुखी हैं, उन्होंने अपना दर्द ट्विटर पर बयां किया है।

कमल हसन का फूटा गुस्सा

कमल हसन का फूटा गुस्सा

कमल हसन ने ट्वीट करते हुए लिखा, आखिर कैसे हमारे संगठित और विविधता से भरे देश में हम इन नफरती बच्चों को उन्माद फैलाने दे रहे हैं? रुक जाओ, यह सही नहीं है, इससे पहले कि देर हो जाए, कृपया तर्क की ओर लौट आइए, कोई भी धर्म नफरत फैलाने की इजाजत नहीं देता है, सिर्फ लोग नफरत फैलाते हैं, हिंदुस्तान इससे पहले भी ऐसे पागलपन से बच कर निकलने में कामयाब रहा है, मैं उम्मीद करता हूं कि ये देश दोबारा ऐसा करने में कामयाब रहेगा।

यह पढ़ें: Delhi Violence: भड़के कुमार विश्वास, कहा-चिंटू और पक्षकार अपनी-अपनी रोटी सेंक रहे हैं, मर रहा है सिर्फ आम आदमी

17 लोगों की मौत, सौ से ज्यादा घायल

17 लोगों की मौत, सौ से ज्यादा घायल

बता दें कि राजधानी में सोमवार से अब तक तोड़फोड़ और आगजनी की कई घटनाएं सामने आ चुकी हैं और 17 लोगों की मौत हो चुकी है तो वहीं सौ से ज्यादा लोग घायल बताए जा रहे हैं, जिनमें से बहुत लोगों की हालत गंभीर भी है, हिंसा प्रभावित इलाके मौजपुर, जाफराबाद, चांदबाग, करावलनगर में कर्फ्यू लगा दिया गया है।

एक महीने के लिए धारा 144 लगा दी गई

एक महीने के लिए धारा 144 लगा दी गई

वहीं उत्तर पूर्वी दिल्ली में हालात इतने बिगड़ गए हैं कि एक महीने के लिए धारा 144 लगा दी गई है। इस हिंसक प्रदर्शन के दौरान कई जगहों पर आगजनी की गई। घरों और दुकानों में तोड़फोड़ की गई। पत्थरबाजी कर लोगों को निशाना बनाया गया।

मेट्रो स्टेशन और मौजपुर चौक को खाली कराया गया

दिल्ली के स्पेशल कमिश्नर सतीश गोलचा ने कहा है कि प्रदर्शनकारियों ने जाफराबाद मेट्रो स्टेशन और मौजपुर चौक को खाली कर दिया है। अब 66 फुटा रोड भी पूरी तरह खाली है, उस पर कोई विरोध-प्रदर्शन नहीं हो रहा है

यह पढ़ें: जयललिता बनने के लिए कंगना ने किया हॉर्मोन पिल्स का सेवन, क्या है सच्चाई?

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
How can we allow these children of hate to run amok in my United and diverse India.Please return to reason, before it is too late.No religion propagates hate, only people do says Kamal Hassan on Delhi Violence.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X