दिल्‍ली में अवैध शराब का विरोध कर रही महिला से कराई न्‍यूड परेड, VIDEO में पूरी कहानी उसी की जुबानी

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्‍ली। राजधानी दिल्‍ली में एक दिल दहला देने वाला मामला सामने आया है। नरेला की रहने वाली 33 साल की एक महिला को भीड़ ने पहले लोहे की रॉड से बुरी तरह पीटा फिर उसके कपड़े फाड़ सड़क पर न्‍यूड परेड कराया। महिला की गलती सिर्फ इतनी थी कि उसने शराब माफिया के खिलाफ आवाज उठाया था। उसने दिल्ली महिला आयोग (डीसीडब्ल्यू) की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल की अगुआई वाली टीम के साथ बुधवार की रात एक घर में शराब की छापेमारी करने चली गई थी। पुलिस से प्राप्‍त जानकारी के मुताबिक महिला का नाम प्रवीन है और वो नरेला के जेजे क्‍लस्‍टर की रहने वाली है। शराब की गैरकानूनी बिक्री का विरोध कर रही थी। हालांकि इस मामले में 4 महिलाओं को गिरफ्तार भी किया गया है।

मैं अपनी इज्‍जत नहीं बचा पाई

मैं अपनी इज्‍जत नहीं बचा पाई

प्रवीन ने अपने साथ हुई दरिंदगी के बारे में बताया। उन्‍होंने कहा कि ''मैंने गाड़ी छोड़कर जान बचाने के लिए वहां से भागने की कोशिश की, लेकिन इज्जत नहीं बचा पाई। उन्होंने मेरे कपड़े फाड़े, सबके सामने बेइज्जत किया। इसी हालत में घसीटते हुए जहां शराब पकड़ी थी, वहां तक लेकर गए। मुझे लोहे की रॉड से भी पीटा। कोई गुनाह नहीं किया, मैं तो नशे के खिलाफ जंग लड़ रही थी।''

प्रवीण को आईं गंभीर चोटें

पुलिस ने कहा कि प्रवीन को गंभीर चोटें आई हैं, लेकिन फ्रैक्चर नहीं है। पुलिस ने इस बात से इनकार किया कि उसे नग्न कर परेड कराई गई। साथ ही कहा कि जब पिटाई की गई तो उसके कपड़े कई जगहों से फट गए। लेकिन मालीवाल का कहना है कि गुरुवार को सुबह 11 बजे प्रवीन को उसके घर से बाहर निकालकर लोहे की छड़ों से पीटा गया। उसके कपड़े फाड़ दिए गए और नग्न कर परेड कराई गई।

पुलिस की मिलीभगत से होता है सारा काम

पुलिस की मिलीभगत से होता है सारा काम

डीसीडब्ल्यू चीफ स्वाति मालीवाल ने कहा, ''नरेला में एक गैंग खुलेआम शराब बेचता है। यहां एक घर से हमने शराब बरामद की। 50 मीटर की दूरी पर पुलिस का मालखाना है। क्या उन्हें पता नहीं चलता? पुलिस की मिलभगत से सब काम हो रहा है, वो हफ्ता लेकर बैठ जाते हैं।'' उन्‍होंने आगे कहा कि ''दिल्ली में महिला आयोग के मेंबर्स तक सुरक्षित नहीं हैं। माफिया ने विक्टिम के कपड़े फाड़े, उसे न्यूड कर गलियों में घुमाया। पुलिस कब आरोपियों को गिरफ्तार करेगी। हम लोग ऐसे हमलों से डरने वाले नहीं है। शराब माफियों के खिलाफ काम करते रहेंगे।''

पुलिस ने महिलाओं का झगड़ा बताते हुए कार्रवाई की

पुलिस ने महिलाओं का झगड़ा बताते हुए कार्रवाई की

महिला आयोग ने डीसीपी, रोहिणी पर दोषियों के खिलाफ कार्रवाई नहीं करने का आरोप लगाते हुए नोटिस जारी किया है। डीसीपी रजनीश गुप्ता को 21 दिसंबर को आयोग के सामने पेश होने के लिए समन भेजा गया है। वहीं पुलिस ने घटना को लेकर ट्वीट किए हैं। इसे महिलाओं का झगड़ा बताते हुए कार्रवाई की गई है। ये भी कहा है कि घटना वाली जगह से पुलिस चौकी 50 मीटर नहीं, बल्कि 5 किलोमीटर दूर है। इस साल अब तक पुलिस ने अवैश शराब के मामले में 55 केस दर्ज किए।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Delhi SHOCKER: Woman beaten, 'paraded naked' for helping DCW bust illicit liquor racket.
Please Wait while comments are loading...

Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.