• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

रेड लाइट जंप कर भाग रहा था स्कूटर सवार, ई-चालान हुआ तो सामने आई चौंकाने वाली हकीकत

|

नई दिल्ली। कई बार आप सड़कों पर वाहन चलाते वक्त ट्रैफिक नियम तोड़ते हुए निकल जाते हैं लेकिन नियम तोड़ने की जानकारी आपको तब लगती है, जब आपके घर ई-चालान पहुंच जाता है। नई ई-चालान मशीन से गाड़ी के मालिक की पूरी जानकारी निकलकर सामने आ जाती है। ट्रैफिक पुलिस को मिली नई ई-चालान मशीनों के सही इस्तेमाल से वाहन से जुड़ी कई चीजों के बारे में जानकारी मिल सकती है। दिल्ली में इसका एक बेहतरीन उदाहरण देखने को मिला।

नई ई-चालान मशीन ने गाड़ी के सही मालिक का पता लगाया

नई ई-चालान मशीन ने गाड़ी के सही मालिक का पता लगाया

बिना हेलमेट पहने रेड लाइट जंप करके भाग रहे एक स्कूटर सवार को जब ट्रैफिक पुलिस ने रोका और ई-चालान मशीन में गाड़ी का नंबर फीड किया, तो उससे जो जानकारी सामने आई वह हैरान करने वाली थी। ई-चालान मशीन ने बताया कि स्कूटर चोरी का था। इसके बाद ट्रैफिक पुलिस ने तुरंत युवक को दबोच लिया और स्कूटर जब्त कर लोकल पुलिस और ट्रैफिक के सीनियर अधिकारियों को सूचना दी।

ये भी पढ़ें: Delhi-NCR में आज मोटर-व्हीकल एक्ट के विरोध में कमर्शियल वाहनों की हड़ताल, हो सकती है दिक्कतें

ई-चालान मशीन ने बताया, चोरी का है स्कूटर

ई-चालान मशीन ने बताया, चोरी का है स्कूटर

उस युवक को गिरफ्तार कर आंबेडकर नगर थाने में उसके खिलाफ केस दर्ज किया गया। फिर उक्त आरोपी के रिकॉर्ड खंगाले जाने लगे तो मालूम हुआ कि साकेत थाने में दर्ज लूट के मामले में भी वह शामिल रह चुका था। ट्रैफिक पुलिस के एडिशनल कमिश्नर अमरेंद्र सिंह ने बताया कि मामला साकेत ट्रैफिक सर्कल का है। बुधवार को एएसआई संतोष सिंह और हवलदार राजेंद्र साकेत कोर्ट के पास शहीद पंकज जुयाल मार्ग पर ट्रैफिक को रेगुलेट कर रहे थे। उसकी दौरान एक युवक बिना हेलमेट लगाए रेड लाइट जंप करता हुआ उनकी तरफ आ रहा था। पुलिसवालों को देखते ही उसने स्पीड बढ़ाकर वहां से बचकर निकलने की कोशिश की लेकिन पुलिसकर्मियों ने उसे घेर लिया।

पुलिस ने युवक को दबोचा

पुलिस ने युवक को दबोचा

पुलिस ने जब युवक से पूछताछ की तो वह गाड़ी का कोई भी कागज नहीं दिखा पाया। वह पुष्प विहार का रहने वाला था और पहले हैदराबाद में रहता था। शक होने पर ट्रैफिक पुलिसकर्मियों ने तत्काल नई ई-चालान मशीन के जरिए गाड़ी का वेरिफिकेशन करने का फैसला किया। जैसे ही स्कूटर का नंबर मशीन में फीड किया गया, तो पता चला कि ये स्कूटर मदनगीर इलाके में रहने वाले एक व्यक्ति के नाम पर रजिस्टर्ड था। रिकॉर्ड में मौजूद गाड़ी के मालिक के मोबाइल नंबर पर जब पुलिस से कॉल किया, तो उन्होंने बताया कि किसी ने उनकी स्कूटर चुरा ली थी और मंगलवार को ही उन्होंने इसकी शिकायत दर्ज कराई थी। एडिशनल कमिश्नर ने बेहतरीन काम के लिए दोनों पुलिसकर्मियों को इनाम देने की घोषणा की है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Delhi: red light jump e-challan machine reveals scooter was stolen earlier
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X