• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

राष्ट्रीय स्वच्छता केंद्र के उद्घाटन के बाद बोले पीएम- आज से 15 अगस्त तक चलाएं गंदगी भारत छोड़ो अभियान

|

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज (8 अगस्त) राजधानी दिल्ली में स्वच्छ भारत मिशन पर एक इंटरैक्टिव अनुभव केंद्र, राष्ट्रीय स्वछता केंद्र का उद्घाटन किया। इस सेंटर को महात्मा गांधी को समर्पित किया गया है। केंद्र के उद्घाटन के बाद स्कूली बच्चों को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि आज का दिन हिन्दुस्तान के इतिहास में 'अंग्रेजों भारत छोड़ो' का है, हम अभियान चला रहे हैं 'गंदगी भारत छोड़ो'। पीएम ने कहा कि भारत छोड़ो के संकल्प स्वराज से सुराज की भावना के अनुरूप हैं। इसी कड़ी में आज हम सभी को 'गंदगी भारत छोड़ो' का भी संकल्प दोहराना है। आज से 15 अगस्त तक यानि स्वतन्त्रता दिवस तक देश में एक सप्ताह लंबा अभियान चलाएं।

    Rashtriya Swachhata Kendra का हुआ उद्घाटन, 15 अगस्त तक 'गंदगी भारत छोड़ो' अभियान | वनइंडिया हिंदी
    आज का दिन बहुत ऐतिहासिक: मोदी

    आज का दिन बहुत ऐतिहासिक: मोदी

    प्रधानमंत्री ने कहा, आज का दिन बहुत ऐतिहासिक है। देश की आजादी में आज की तारीख यानि 8 अगस्त का बहुत बड़ा योगदान है। आज के ही दिन, 1942 में गांधी जी की अगुवाई में आज़ादी के लिए एक विराट जनांदोलन शुरू हुआ था, अंग्रेजों भारत छोड़ो का नारा लगा था। ऐसे ऐतिहासिक दिवस पर, राजघाट के समीप, राष्ट्रीय स्वच्छता केंद्र का लोकार्पण अपने आप में बहुत प्रासंगिक है। ये केंद्र, बापू के स्वच्छाग्रह के प्रति 130 करोड़ भारतीयों की श्रद्धांजलि है, कार्यांजलि है। गांधी जी के स्वच्छाग्रह और उसके लिए समर्पित कोटि-कोटि भारतीयों के विराट संकल्प को एक जगह समेटे हुए है। इस केंद्र में सत्याग्रह की प्रेरणा से स्वच्छाग्रह की हमारी यात्रा को आधुनिक टेक्नॉलॉजी के माध्यम से दर्शाया गया है, दिखाया गया है।

    यमुना को भी गंदे नालों से मुक्त करना है: PM

    यमुना को भी गंदे नालों से मुक्त करना है: PM

    प्रधानमंत्री ने कहा, गांधी जी कहते थे कि स्वराज सिर्फ साहसी और स्वच्छ जन ही ला सकते हैं। स्वच्छता और स्वराज के बीच के रिश्ते को लेकर गांधी जी इसलिए आश्वस्त थे क्योंकि उन्हें विश्वास था कि गंदगी अगर सबसे ज्यादा नुकसान किसी का करती है, तो वो गरीब है जबतक जनता में आत्मविश्वास पैदा नहीं होता, तब तक वो आजादी के लिए खड़ी कैसे हो सकती था? इसलिए, साउथ अफ्रीका से लेकर चंपारण और साबरमती आश्रम तक, उन्होंने स्वच्छता को ही अपने आंदोलन का बड़ा माध्यम बनाया। मोदी ने आगे कहा, जैसे गंगा जी की निर्मलता को लेकर हमें उत्साहजनक परिणाम मिल रहे हैं, वैसे ही देश की दूसरी नदियों को भी हमें गंदगी से मुक्त करना है। यहां पास में ही यमुना जी हैं। यमुना को भी गंदे नालों से मुक्त करने के अभियान को हमें तेज़ करना है।

    स्वच्छ भारत अभियान ने हर देशवासी के आत्मविश्वास को बढ़ाया

    स्वच्छ भारत अभियान ने हर देशवासी के आत्मविश्वास को बढ़ाया

    प्रधानमंत्री ने कहा कि स्वच्छ भारत अभियान ने हर देशवासी के आत्मविश्वास और आत्मबल को बढ़ाया है। इसका सबसे अधिक लाभ देश के गरीब के जीवन पर दिख रहा है। स्वच्छ भारत अभियान से हमारी सामाजिक चेतना, समाज के रूप में हमारे आचार-व्यवहार में भी स्थाई परिवर्तन आया है।

    कोरोना महामारी के चलते एहतियात बरतने की अपील करते हुए पीएम ने कहा कि साफ सफाई के दौरान भी दो गज की दूरी, मास्क है जरूरी, इस नियम को ना भूलें। कोरोना वायरस हमारे मुंह और नाक के रास्ते ही फैलता भी है और फलता-फूलता भी है।ऐसे में मास्क, दूरी और सार्वजनिक स्थानों पर ना थूकने के नियम का सख्ती से पालन करना है।बता दें कि इस केंद्र में लोगों को स्वच्छता और इससे जुड़ी दूसरी जानकारी व शिक्षा के साथ जागरूक कराया जाएगा। एक आधिकारिक बयान में बताया गया कि आरएसके में डिजिटल और आउटडोर इंस्टॉलेशन का संतुलित मिश्रण स्वछता और संबंधित पहलुओं पर सूचना, जागरूकता और शिक्षा प्रदान करेगा।

    ये भी पढ़ें- पीएम मोदी कल लॉन्च करेंगे एग्री इंफ्रास्ट्रक्चर के लिए 1 लाख करोड़ की फाइनेंसिग योजना, पीएम किसान की छठीं किस्त भी करेंगे जारी

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    Delhi PM Narendra Modi inaugurates Rashtriya Swachhata Kendra an interactive experience centre on Swachh Bharat Mission
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X