• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

सेना के 25 साल से ज्यादा पुराने राज अब होंगे सार्वजनिक, रक्षा मंत्रालय का बड़ा फैसला

|
Google Oneindia News

नई दिल्‍ली, 12 जून। रक्षा मंत्रालय ने एक बड़ा फैसला किया है। मंत्रालय ने युद्धों और अभियानों के इतिहास के संग्रह, संकलन, प्रकाशन और उन्‍हें सार्वजनिक करने की नीति को मंजूरी दे दी है। अगर नई नीति के अनुसार सामान्‍य तौर पर रिकॉर्ड 25 वर्षों में सार्वजनिक किए जाने चाहिए। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ले इस नीति को मंजूरी दी।

सेना के 25 साल से ज्‍यादा पुराने राज अब होंगे सार्वजनिक, केंद्र सरकार ने किया रिकॉर्ड सार्वजनिक

नीति के तहत रक्षा मंत्रालय का प्रत्‍येक संगठन जैसे सेनाएं, एकीकृत रक्षा स्‍टाफ, असम राइफल्‍स और भारतीय तटरक्षक युद्ध डायरियों, कार्यवाही से संबंधित पत्रों, संचालन संबंधी पत्रों, संचालन संबंधी रिकॉर्ड बुक और अन्य सभी रिकार्ड रक्षा मंत्रालय के इतिहास विभाग को भेजेंगे जिससे कि उन्हें संकलित और संग्रहित कर इतिहास लेखन के काम में इस्तेमाल किया जा सके।

रक्षा मंत्रालय की तरफ से जारी बयान में कहा गया कि युद्ध और अभियान के इतिहास के प्रकाशन के लिए विभिन्न विभागों से उसके संग्रह और मंजूरी के लिए इतिहास विभाग जिम्मेदार होगा। रक्षा मंत्रालय द्वारा जारी बयान के अनुसार, ''नीति रक्षा मंत्रालय के संयुक्त सचिव के नेतृत्व में समिति के गठन की बात करता है जिसमें थलसेना-नौसेना-वायु सेना के प्रतिनिधियों, विदेश मंत्रालय, गृह मंत्रालय और अन्य प्रतिष्ठानों और (आवश्यकतानुसार) प्रतिष्ठित इतिहासकारों को समिति में शामिल करने की बात करता है। समिति युद्ध और अभियान इतिहास का संग्रह करेगी।''

सुखबीर सिंह बादल का अमरिंदर सिंह पर हमला, बोले- इस बार उनकी जमानत जब्‍त होगीसुखबीर सिंह बादल का अमरिंदर सिंह पर हमला, बोले- इस बार उनकी जमानत जब्‍त होगी

English summary
Defence minister Rajnath Singh clears policy on declassifying war records
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X