• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

#DailyLearn: परीक्षा में फेल या कम नंबर से नहीं रुकेगी भविष्य की रफ्तार

|
Google Oneindia News

हर माता-पिता को उम्मीद होती है कि उनका बच्चा परीक्षा में अच्छे नंबर से पास हो। माता-पिता उस बच्चे के बेहतर भविष्य की प्लानिंग बहुत पहले से करके रखते हैं लेकिन कभी किसी मां-बाप ने ऐसा क्यों नहीं सोचा कि अगर उनका बच्चा फेल हो गया तो क्या करेंगे। या वो उम्मीद से कम नंबर लेकर आया तो उसके भविष्य की प्लानिंग क्या रहेगी। अच्छे अंकों से पास होने वाले बच्चों के लिए मां-बाप ही नहीं, कई सामाजिक संस्थाओं, एनजीओ या सरकार की ओर से तमाम तरह की मदद की पेशकश की जाती है। लेकिन कम नंबर से पास होने वाले बच्चों या फेल होने वाले बच्चों के लिए कभी किसी ने सोचा ही नहीं। ऐसे में डेली लर्न ने ऐसे बच्चों के लिए एक विशेष स्कॉलरशिप कार्यक्रम शुरू किया है। इसके तहत फेल होने वाले या 40 फीसदी से कम अंक पाने वाले बच्चों को मुफ्त शिक्षा दी जाएगी।

    10th-12th Result: CBSE, Bihar Board में फेल छात्रों के लिए Daily Learn बनेगा वरदान | वनइंडिया हिंदी
    #DailyLearn: परीक्षा में फेल या कम नंबर से नहीं रुकेगी भविष्य की रफ्तार

    दरअसल सीबीएसई 10वीं और 12वीं के अलावा बिहार बोर्ड में हर साल करीब 8 लाख बच्चे ऐसे होते हैं। जो या तो फेल हो जाते हैं और या उनके नंबर 40 फीसदी से कम होते हैं। इस साल बिहार बोर्ड की 10वीं में करीब 3 लाख और 12वीं में करीब 2 लाख 30 हजार छात्र फेल हुए हैं। इसके अलावा सीबीएसई की 10वीं क्लास में 1 लाख 60 हजार और 12वीं में 1 लाख 40 हजार छात्र फेल हुए हैं। ऐसे बच्चों को थोड़े से सहारे की जरूरत होती है। और ये छोटा सा सहारा ही इनकी जिंदगी बदल सकता है। असल में दिक्कत ये है कि परीक्षा में फेल होने वाले या कम अंक पाने वाले बच्चे को जिंदगी में ही फेल मान लिया जाता है जबकि ऐसा नहीं है।

    सच्चाई यही है कि हम बच्चों की कोशिश को इग्नोर कर देते हैं। सिर्फ उसके रिजल्ट को अहमियत देते हैं। हो सकता है उस बच्चे को एक छोटे से सपोर्ट की जरूरत हो और अगर ये सपोर्ट उसे घर बैठे ऑनलाइन ही मिल जाये तो फिर वो ही बच्चा बाकी बच्चों की तरह अच्छे नंबर ला सकता है या उनसे भी ज्यादा बेहतर कर सकता है। बहरहाल अगर आप या आपका बच्चा इस बार सीबीएसई की 10वीं, 12वीं या बिहार बोर्ड में फेल हुआ है, या नंबर 40 फीसदी से कम हैं तो आपको परेशान होने की जरूरत नहीं है। अब डेली लर्न के जरिए आप घर बैठे मुफ्त शिक्षा पा सकते हैं। इसके तहत 180 से ज्यादा घंटे की लाइव क्लासेज होगी। जिसमें आपको हिंदी और अग्रेंजी दोनों विषयों में पढ़ाया जाएगा। इसके अलावा 50 से ज्यादा नोट्स और इतने ही वीकली टेस्ट होंगे। जो बच्चे के लर्निंग स्किल को और ज्यादा मजबूत करेंगे।

    #DailyLearn: परीक्षा में फेल या कम नंबर से नहीं रुकेगी भविष्य की रफ्तार

    इस विशेष स्कॉलरशिप का लाभ लेने के लिए सबसे पहले आपको www.dailylearn.in पर लॉग इन करना होगा। फिर आप अपनी क्लास और अपना सबजेक्ट चुनें। इसके बाद हिन्दी या अंग्रेजी जिस भी भाषा में आप पढ़ना चाहें, उसे सलेक्ट कीजिये, जहां आपको कोर्स की पूरी डिटेल्स मिल जाएगी तो अब बिना देर किये www.dailylearn.in पर लॉगिन कीजिए। अपना नाम, क्लास, स्कूल, रोल नंबर आदि लिखकर मांगी गई सारी डिटेल्स भरिये। इसके बाद डेली लर्न की टीम आपकी ओर से भरी गई डिटेल्स की जांच करेगी। डिटेल्स सही पाये जाने पर फेल होने या 40 फीसदी से कम अंक पाने वाले छात्रों को डेली लर्न की ओर से स्कॉलरशिप का लाभ मिलेगा। पहले आओ- पहले पाओ के आधार पर सिलेक्ट होने वाले छात्रों को पूरे एक साल तक मुफ्त ऑनलाइन शिक्षा दी जाएगी।

    इस वक्त देश के अलग-अलग कोने में हजारों बच्चे, जो किसान, मजदूर जैसे साधारण परिवारों से आते हैं, डेली लर्न के जरिए ऑनलाइन पढ़ाई कर रहे हैं। इन बच्चों का अनुभव बताता है कि डेली लर्न से पढ़ाई के बाद कैसे उनका पढ़ने, लिखने और सीखने का नजरिया ही बदल गया है।

    English summary
    #DailyLearn: Failure or less number in exam will not stop the future
    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X