• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

Cyclone Tauktae 2021: इन राज्यों में तैनात की गई NDRF की 24 टीमें , Red Alert भी जारी

|

नई दिल्ली, 14 मई। कोरोना संकट के बीच भारत पर 'साइक्लोन' का खतरा मंडरा रहा है। IMD ने अपने ताजा अपडेट में कहा है कि 16 मई को भारत में साल 2021 का पहला 'चक्रवात' आ सकता है, जो कि मूल रूप से पहले केरल के तटों पर दस्तक देगा लेकिन इसके कारण देश के कई हिस्सों में भारी बारिश होने और तूफान आने के आसार हैं। इस बारे में बात करते हुए राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल के महानिदेशक एसएन प्रधान ने कहा कि 'साइक्लोन की वजह से केरल, कर्नाटक, तमिलनाडु, गुजरात और महाराष्ट्र में Red Alert जारी है और हमने सुरक्षा के मद्देनजर इन जगहों पर NDRF की 24 टीमें तैनात की हैं।'

    Cyclone Taukate: NDRF ने इन राज्यों में तैनात की 24 टीमें, Red Alert भी जारी | वनइंडिया हिंदी
    इन जगहों पर जारी हुआ Red Alert

    इन जगहों पर जारी हुआ Red Alert

    • केरल के तिरुवनंतपुरम, कोल्लम,पत्तनंतिट्टा (Red Alert)
    • केरल के पलक्कड़, कोझीकोड, वायनाड, अलाप्पुझा, कोट्टायम, एर्नाकुलम, इडुक्की, त्रिशूर, मलप्पुरम ( Orange Alert)
    • गुजरात के द्रवारिका, पोरबंदर, जूनागढ, गीर सोमनाथ, सूरत (Red Alert)
    • सौराष्‍ट्र व दक्षिण गुजरात (Red Alert)
    • महाराष्ट्र , कोंकण, गोवा, कर्नाटक, तमिलनाडु, आंध्र प्रदेश (Yellow Alert)

    यह पढ़ें:Cyclone Tauktae 2021: मानसून पर होगा 'साइक्लोन' का असर?यह पढ़ें:Cyclone Tauktae 2021: मानसून पर होगा 'साइक्लोन' का असर?

    म्यांमार ने रखा है तूफान का नाम

    म्यांमार ने रखा है तूफान का नाम

    आपको बता दें कि Tauktae साल 2021 का पहला चक्रवाती तूफान है, जिसका नाम म्यांमार ने रखा है जिसके दो अर्थ होते हैं पहला अर्थ है 'गेको' यानी कि 'गर्म जलवायु में पाई जाने वाली घरेलू छिपकली' और दूसरा अर्थ है 'तेज आवाज के साथ हवाओं का चलना'।

    Tauktae हो सकता है बेहद शक्तिशाली

    Tauktae हो सकता है बेहद शक्तिशाली

    मौसम विभाग ने कहा है कि Tauktae के कारण समुद्र में गहरी लहरें उठ सकती है और तेज हवाएं चल सकती है, जिसकी गति 50-60 किमी प्रति घंटा हो सकती है। इसलिए मछुआरों के लिए अलर्ट जारी किया गया है और उन्हें समुद्र में जाने से रोका गया है।

    'भारतीय मौसम विभाग' ने लिया जिम्मा

    'भारतीय मौसम विभाग' ने लिया जिम्मा

    दरअसल लो एयर प्रेशर की वजह से वायुमंडल में व्याप्त गर्म हवा तेज आंधी में तब्दील हो जाती है, जिसे कि 'चक्रवात' का जाता है। साल 1945 से 'विश्‍व मौसम संगठन' 'चक्रवातों' को नाम देता थालेकिन साल 2000 में 'चक्रवात' के बारे में जानकारी 'भारतीय मौसम विभाग' देने लग गया और इसके लिए उसने 8 देशों की एक कमेटी बनाई है, जिन्हें कि अल्फाबेटिकल ऑर्डर में रखा गया है।

    ये निम्नलिखित 8 देश थे

    • बांग्लादेश
    • भारत
    • मालदीव
    • म्यांमार
    • ओमान
    • पाकिस्तान
    • श्रीलंका
    • थाईलैंड

    लेकिन साल 2018 में इस लिस्ट में ये देश भी शामिल हो गए

    • ईरान
    • कतर
    • सऊदी अरब
    • संयुक्त अरब अमीरात
    • यमन

    English summary
    24 teams pre-deployed & 29 teams on standby/ ready for Kerala, Karnataka, Tamil Nadu, Gujarat & Maharashtra ahead of Cyclone Tauktae warning said National Disaster Response Force DG, SN Pradhan
    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X