• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

सरकार ने दो कोरोना वैक्सीन को दी मंजूरी, वैक्सीनेशन से जुड़े हर सवाल का यहां पढ़े जवाब

|

Coronavirus Vaccines: देश के राष्ट्रीय ड्रग रेगुलेटर ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया (DCGI) ने रविवार (3 जनवरी) को घोषणा की कि केंद्रीय ड्रग्स स्टैंडर्ड कंट्रोल ऑर्गनाइजेशन (CDSCO) ने अपनी विषय विशेषज्ञ समिति (SEC) की सिफारिशों को स्वीकार करने का निर्णय लिया है और इसे मंजूरी दे दी है। इसके तहत देश में सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया और भारत बायोटेक दोनों के टीके इमरजेंसी इस्तेमाल के तहत लगाए जाएंगे।

पहले सरकार खरीदेगी वैक्सीन

पहले सरकार खरीदेगी वैक्सीन

सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (SII) ने ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय और एस्ट्राजेनेका द्वारा विकसित AZD1222 वैक्सीन के भारतीय संस्करण कोविशिल्ड का निर्माण किया है। एसआईआई के पास लगभग 80 मिलियन खुराकों का भंडार है। जल्दी ही इसे लगाने की प्रक्रिया शुरू हो जाएगी। वहीं भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (ICMR) के सहयोग से हैदराबाद स्थित भारत बायोटेक द्वारा निर्मित एक अन्य वैक्सीन कोवाक्सिन को भी मंजूरी मिल गई है। यह वैक्सीन कुछ हफ्तों में उपलब्ध होगी।

3 करोड़ लोगों को फ्री में दी जाएगी वैक्सीन

3 करोड़ लोगों को फ्री में दी जाएगी वैक्सीन

यूनाइटेड स्टेट्स और यूनाइटेड किंगडम पहले से ही Pfizer-BioNTech और Moderna वैक्सीन अपने देश के लोगों को दे रहे हैं। भारत में भी, प्रक्रिया बहुत तेज होने की संभावना है। हालांकि इसकी कोई ठोस समयसीमा घोषित नहीं की गई है, लेकिन यह उम्मीद की जा सकती है कि सामूहिक टीकाकरण कार्यक्रम एक सप्ताह के भीतर शुरू हो जाएगा। संपूर्ण टीकाकरण अभियान स्वैच्छिक होगा। सरकार ने पहले ही घोषणा कर दी है कि, पहले 3 करोड़ फ्रंटलाइन वर्कर्स को वैक्सीन दी जाएगी। जिसमें 1 करोड़ हेल्थ वर्कर और 2 करोड़ फ्रंटलाइन वर्कर शामिल हैं। इन्हें मुफ्त में वैक्सीन दी जाएगी।

बाकी आबादी का क्या?

बाकी आबादी का क्या?

सरकार का लक्ष्य अगस्त 2021 तक टीकाकरण के पहले चरण को पूरा करना है। बाकी आबादी के लिए समयसीमा अभी तक तय नहीं की गई है। हालांकि, ऐसा नहीं है कि बाकी लोगों को टीकाकरण के पहले चरण के पूरा होने तक इंतजार करना होगा। अन्य समूहों को कुछ हफ्तों या महीनों के बाद एक साथ टीका लगाया जाना शुरू हो जाएगा। इस दौरान टीकाकरण की गति और वैक्सीन की उपलब्धता एक महत्वपूर्ण घटक होगा। आने वाले हफ्तों में भारत में उपयोग के लिए कोविशिल्ड और कोवाक्सिन के अलावा कई अन्य टीके भी स्वीकृत होने की संभावना है। इनमें Pfizer और Moderna, रूसी Sputnik-V और Zydus-Cadila के ZyCoV-D टीके शामिल हैं।

कैसी है सरकार की तैयारी

कैसी है सरकार की तैयारी

भारत के सबसे व्यापक और सबसे महत्वाकांक्षी टीकाकरण अभियान के लिए हफ्तों से तैयारी चल रही है। मॉक ड्रिल के दो राउंड पहले ही आयोजित किए जा चुके हैं। पहली मॉक ड्रिल 28-29 दिसंबर को चार राज्यों में हुई, जबकि दूसरी 2 जनवरी को, देश के सभी राज्यों के 125 जिलों में 285 स्थलों पर की गई। सरकार ने वैक्सीनेशन के लिए 96,000 लोगों को प्रशिक्षित किया है। 75 लाख से अधिक लाभार्थियों को पंजीकृत किया गया है। इसके अलावा स्टोरेज, ट्रांसपोर्टेशन आदि का खास इंतजाम किया गया है। देश को कोल्ड चैन को भी अपग्रेड किया गया है।

अगर आपको कोरोना हो चुका है तो क्या आपको वैक्सीन लगाई जाएगी?

अगर आपको कोरोना हो चुका है तो क्या आपको वैक्सीन लगाई जाएगी?

जी हां...सरकार ने कहा कि, अगर आपको पहले कोरोना हो चुका है इसके बाद भी शेड्यूल के हिसाब से वैक्सीन लेनी होगी। यह बीमारी के खिलाफ एक मजबूत प्रतिरक्षा प्रतिक्रिया विकसित करने में मदद करेगा।

सरकार 50 साल या उससे अधिक की उम्र के लोगों की पहचान कैसे करेगी?

सरकार ने कहा है कि लोकसभा और विधान सभा चुनाव के लिए नवीनतम मतदाता सूची का उपयोग 50 वर्ष या उससे अधिक आयु की आबादी की पहचान करने के लिए किया जाएगा। 50 वर्ष से अधिक आयु के प्राथमिकता समूह को 60 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों में विभाजित किया गया है। 50 से 60 वर्ष की आयु के बीच के लोगों को "महामारी की स्थिति और वैक्सीन उपलब्धता" के आधार पर डोज दिए जाएंगे।

कितनी खुराक दी जाएगी? हम संभावित रूप से प्रतिरक्षा कब विकसित करते हैं?

कितनी खुराक दी जाएगी? हम संभावित रूप से प्रतिरक्षा कब विकसित करते हैं?

स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार, लोगों को 28 दिनों के भीतर दो डोज दिए जाएंगे। COVID-19 वैक्सीन की दूसरी खुराक प्राप्त करने के दो सप्ताह बाद एंटीबॉडी का सुरक्षात्मक स्तर आमतौर पर विकसित होता है। सरकार के पास पहले टीका पा चुके लोगों का पूरा विवरण उपलब्ध होगा।

क्या कोई दो अलग-अलग वैक्सीन को एक-एक डोज ले सकता है?

नहीं ले सकता है।

वैक्सीन के लिए कैसे करवाएं रजिस्ट्रेशन

वैक्सीन के लिए CoWIN ऐप पर सेल्फ-रजिस्टर कर सकते हैं, जिसके लिए उन्हें ये ऐप गूगल प्ले स्टोर या ऐपल ऐप स्टोर से डाउनलोड करनी होगी।

रजिस्ट्रेशन के लिए 12 फोटो आइडेंटिटी डॉक्यूमेंट्स- जैसे कि वोटर आईडी, आधार कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस, पासपोर्ट, पेंशन डॉक्यूमेंट की जरूरत पड़ेगी।

ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन के बाद, बेनिफिशियरी को रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर एक SMS आएगा, जिसमें मिली तारीख, वैक्सीनेशन का टाइम और जगह दी जाएगी।

    Coronavirus Vaccine: India में कब और कैसे शुरू होगा टीकाकरण का महाअभियान? Details | वनइंडिया हिंदी

    PM मोदी मंगलवार को देश को समर्पित करेंगे कोच्चि-मंगलुरू प्राकृतिक गैस पाइपलाइन

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    Covishield covaxin Covid 19 vaccines approved know about vaccination
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X