• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

प्रजनन क्षमता को प्रभावित नहीं करती है कोविड वैक्सीन: डॉ. मंजू पुरी

|
Google Oneindia News

नई दिल्ली, 25 जून: 18 साल से अधिक आयु वर्ग के सभी लोगों के लिए देशभर में एक मई से कोरोना का वैक्सीन शुरू कर दिया गया था। वैक्सीन को लेकर इस आयु वर्ग में सबसे अधिक जिज्ञासा भी है और आशंका भी, वैक्सीन और प्रजनन क्षमता को लेकर महिलाओं के मन में भ्रम है कि वैक्सीन लेने से वह भविष्य में गर्भधारण नहीं कर पाएगीं, वहीं युवाओं के मन में शंका है कि वैक्सीन उनकी प्रजनन क्षमता को प्रभावित करेगी।

COVID19 vaccine

कोविड वैक्सीन को लेकर इस वर्ग की स्वास्थ्य संबंधी कई दिक्कतों पर हमने लेडी हार्डिंग मेडिकल कॉलेज की प्रसूति एवं स्त्री रोग विभाग की प्रमुख डॉ. मंजू पुरी से बात की- प्रस्तुत है उनसे हुई बातचीत के प्रमुख अंश-

क्या कोविड वैक्सीन प्रजनन क्षमता को प्रभावित कर सकती है?

वैक्सीन को शरीर में संक्रमण के कारक वायरस के खिलाफ प्रतिरक्षा तंत्र विकसित करने के लिए बनाया गया है, इसका अन्य किसी भी हार्मोन पर किसी तरह का प्रभाव नहीं पड़ता है। महिलाओं में एस्ट्रोजन और प्रोजेस्टोरेन को गर्भधारण के लिए कारक माना जाता है, वहीं पुरूषों में हार्मोन टेस्टोरेन प्रजनन क्षमता का निर्धारण करता है। कोविड की किसी भी वैक्सीन से हार्मोन पर किसी भी तरह का असर नहीं पड़ता, इसलिए वैक्सीन लेने के बाद संतानहीनता या प्रजननक्षमता कम होने के दीर्घकालीन परिणाम होने की संभावना लगभग न के बराबर है। सभी वैक्सीनों की प्रभावकारिता और गुणवत्ता की जांच के लिए सबसे पहले वैक्सीन का जानवरों पर परीक्षण किया जाता है, कोविड वैक्सीन को भी वैक्सीन प्रमाणिकता की सभी मानकों पर जांचा-परखा गया है।

गर्भ निरोधक उपायों का सेवन करते हुए भी क्या कोविड वैक्सीन ले सकते हैं? क्या इसका कोई बुरा प्रभाव पड़ेगा?

कुछ कांट्रेसेप्टिव या गर्भनिरोधक विकल्पों में स्टेरॉयड होता है। अधिकांश युगल दम्पतियों में यह आशंका है कि यदि वह परिवार नियोजन के लिए गर्भ निरोधक गोलियों का इस्तेमाल कर रहे हैं तो उन्हें फिलहाल कोविड वैक्सीन नहीं लेनी चाहिए। कुछ देशों में कोविड वैक्सीन लेने के बाद थांब्रोसाइसिस (खून का थक्का)बनने के मामले सामने आए हैं जिसका संबंध वैक्सीन के बाद शरीर में होने वाले इम्यून इंड्यूस्ड (प्रतिरक्षा प्रेरित)से लगाया जाता है। परंतु भारत के लोगों में खून के थक्के बनने की संख्या बहुत कम है इसलिए कोविड वैक्सीन परिवार नियोजन के साथ भी लिया जा सकता है।

क्या महिलाओं को पीरियड्स या माहवारी के समय वैक्सीन नहीं लेना चाहिए?

अधिकतर लोगों द्वारा यह कहा जा रहा है कि महिलाओं को माहवारी के तीन या चार दिन तक कोविड वैक्सीन नहीं लेना चाहिए, क्योंकि इस समय महिलाओं के शरीर में कुछ तरह के हार्मोनल्स बदलाव होते हैं। लेकिन वैक्सीन माहवारी में भी ली जा सकती है, हार्मोन संबंधी बदलाव को वैक्सीन प्रभावित नहीं करती है। महिलाएं किसी भी स्थिति में वैक्सीन ले सकती हैं। वैक्सीन लगवाने वाले दिन खाना खाकर जाएं और पानी साथ लेकर जाएं।

क्या गर्भवती महिलाएं और स्तनपान कराने वाली महिलाएं भी वैक्सीन ले सकती हैं?

भारत में लांच की गई कोरोना की किसी भी वैक्सीन का गर्भवती महिलाओं पर परीक्षण नहीं किया गया है, इसलिए स्वास्थ्य विशेषज्ञ इस बात के लिए आश्वस्त नहीं हैं कि वैक्सीन गर्भवती महिलाओं या गर्भस्थ शिशु को किस प्रकार प्रभावित करेगी, लेकिन स्तनपान कराने वाली महिलाएं वैक्सीन ले सकती है। इससे उन्हें किसी तरह का नुकसान नहीं हैं। यदि वैक्सीन लगने के बाद हल्का बुखार हो तो उस स्थिति में शिशु को स्तनपान न कराएं।

क्या पीसीओडी (पॉलिसिस्टिक ओवेरियन सिंड्रोम) या यूटीआई (यूरिनरी ट्रैक्ट इंफेक्शन) की स्थिति में भी महिलाएं वैक्सीन ले सकती है?

ऐसी किसी भी स्थिति में वैक्सीन का दुष्प्रभाव होगा, ऐसा फिलहाल नहीं देखा गया है। एहतियात के तौर पर कहा जाता है कि यदि पूर्व में कोई खून पतला करने वाली दवाओं का सेवन कर रहा है तो वैक्सीन लेने से पहले एक बार अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क कर लें। पीसीओडी या यूटीआई में वैक्सीन का दुष्प्रभाव नहीं देखा गया है।

अकसर महिलाओं में थायराइड की समस्या होती है, यदि कोई महिला थायराइड की दवाओं का नियमित सेवन कर रही है क्या तभी वैक्सीन ले सकती है?

जी बिल्कुल ले सकती हैं, जैसा कि मैने आपको पहले भी बताया कि वैक्सीन केवल संक्रमण के कारक वायरस के प्रति शरीर में प्रतिरक्षा तंत्र विकसित करती है, इसका हार्मोन्स या व्यक्ति के डीएनए पर किसी तरह का प्रभाव नहीं पड़ता है, इसलिए थॉयरॉयड की दवाओं का सेवन करने के दौरान भी वैक्सीन ली जा सकती है।

<br/><strong>दिल्ली सरकार के जरूरत से चार गुना ऑक्सीजन मांगने के दावों पर सामने आए सिसोदिया, बोले- ये झूठी रिपोर्ट</strong>
दिल्ली सरकार के जरूरत से चार गुना ऑक्सीजन मांगने के दावों पर सामने आए सिसोदिया, बोले- ये झूठी रिपोर्ट

English summary
COVID19 vaccine will not affect fertility also safe for pregnant ladies says dr manju puri
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X